IndusInd Bank ने फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज दरों में किया बदलाव, जानिए नई दरें

इंडसइंड बैंक

इंडसइंड बैंक अब 7 से 30 दिनों की मैच्योरिटी वाले डिपॉजिट पर 2.75 फीसदी का ब्याज देगा. नई ब्याज दरें 26 अप्रैल से लागू हो गए हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. पिछले कुछ वर्षों में बैंकों के फिक्स्ड डिपॉजिट यानी एफडी (Fixed Deposit) पर ब्याज दरों में गिरावट आई है. वहीं, निजी क्षेत्र के इंडसइंड बैंक (IndusInd Bank) ने फिक्स्ड डिपॉजिट पर अपने ब्याज दरों में हाल ही में बदलाव किए हैं. नई ब्याज दरें 26 अप्रैल से लागू हो गए हैं.

    इंडसइंड बैंक अब 7 से 30 दिनों की मैच्योरिटी वाले डिपॉजिट पर 2.75 फीसदी का ब्याज देगा. इंडसइंड बैंक में 31 से 45 दिनों की मैच्योरिटी वाले डिपॉजिट पर 3 फीसदी, 46 से 60 दिनों की मैच्योरिटी पर 3.50 फीसदी और 61 से 90 दिनों की मैच्योरिटी पर 3.75 फीसदी ब्याज मिलेगा.

    ये भी पढ़ें - क्या आप जानते हैं दुनिया की सबसे पुरानी शराब के बारे में, जून में लगेगी इसकी बोली, जानिए कितनी होगी कीमत

    सीनियर सिटीजंस को अतिरिक्त 0.50 फीसदी ब्याज
    91 से 120 दिनों में मैच्योरिटी वाले डिपॉजिट पर 4 फीसदी, 121 से 180 दिनों में मैच्योरिटी पर 4.5 फीसदी और 181 से 210 दिनों की मैच्योरिटी पर 5 फीसदी ब्याज होगा. 211 से 269 दिनों की मैच्योरिटी वाले डिपॉजिट पर 5.25 फीसदी और 270 दिनों या एक वर्ष से कम अवधि में मैच्योर होने वाले डिपॉजिट पर 6 फीसदी इंटरेस्ट मिलेगा. इंडसइंड बैंक सीनियर सिटीजंस को अतिरिक्त 0.50 फीसदी ब्याज देता है और यह आगे भी जारी रहेगा.

    इंडसइंड बैंक का मुनाफा दोगुना होकर 876 करोड़ रुपये हुआ
    इंडसइंड बैंक ने शुक्रवार को बताया कि मार्च 2021 को खत्म हुई वित्त वर्ष 2020-21 की अंतिम तिमाही के दौरान उसका मुनाफा दोगुना होकर 876 करोड़ रुपये हो गया. निजी क्षेत्र के बैंक ने कहा कि 2019-20 की अंतिम तिमाही के दौरान उसका शुद्ध लाभ 301.84 करोड़ रुपये था.

    ये भी पढ़ें- कोरोना मरीजों को मिलेगी राहत! अब बीमा कंपनियों को 1 घंटे में निपटाना होगा कैशलेस क्लेम, IRDAI का निर्देश

    बैंक ने शेयर बाजार को बताया कि समीक्षाधीन अवधि में उसकी कुल आय थोड़ी बढ़कर 9,199.48 करोड़ रुपये हो गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 9,158.57 करोड़ रुपये थी. बैंक ने बताया कि वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान उसका शुद्ध लाभ 36 फीसदी घटकर 2,836.39 करोड़ रुपये रह गया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष के दौरान 4,417.91 करोड़ रुपये था. बीते वित्त वर्ष के दौरान आय 35,558.41 करोड़ रुपये रही. बैंक का सकल एनपीए 31 मार्च 2021 को मामूली बढ़कर 2.67 फीसदी था, जो मार्च 2020 को 2.45 फीसदी था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.