लाइव टीवी

COVID-19: Assocham ने वित्त मंत्री और RBI को दिया सुझाव, ऐसे बढ़ाएं डिजिटल लेनदेन

News18Hindi
Updated: April 4, 2020, 4:38 PM IST
COVID-19: Assocham ने वित्त मंत्री और RBI को दिया सुझाव, ऐसे बढ़ाएं डिजिटल लेनदेन
File Photo

वित्त मंत्री और RBI गर्वनर को लिखे लेटर में एसोचैम (Assocham) ने कहा कि सिंगल ओपेन-लूप QR कोर्ड आधिरित पेमेंट के लिए भारत QR को बढ़ावा दिया है. एसोचैम ने कहा कि PoS मशीन पर बिना स्वाइप के डेबिट-क्रेडिट कार्ड की लिमिट को बढ़ाया जाए.

  • Share this:
नई दिल्ली. उद्योग संगठन एसोचैम (Assocham) ने भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) और वित्त मंत्रालय को कुछ सुझाव दिए हैं ताकि अर्थव्यवस्था की मौजूदा स्थित से उबारा जा सके. एसोचैम ने कहा कि PoS मशीन पर बिना स्वाइप के डेबिट-क्रेडिट कार्ड की लिमिट को बढ़ाया जाए और साथ ही डिजिटल ट्रांजैक्शन (Digital Transaction) के जरिए इंटरआपरेबिलिटी को भी बढ़ावा दिया है.

QR कोड बेस्ट पेमेंट को बढ़ावा दी जाए
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) और आरबीआई गर्वनर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) को लिखे गए लेटर में एसोचैम ने अन्य सुझावों में कहा कि सिंगल ओपेन-लूप QR कोर्ड आधिरित पेमेंट के लिए भारत QR को बढ़ावा दिया है. इससे कार्ड, UPI और वॉलेट के जरिए पेमेंट लेना आसान हो जाएगा.

यह भी पढ़ें: LIC की खास पॉलिसी: 150 रुपये खर्च कर पाएं 19 लाख, जरूरत पड़ने पर मिलेंगे वापस



सोशल डिस्टेंसिंग को प्रोमोट करने में मिलेगी मदद


एसोचैम के सचिव दीपक सूद ने कहा, 'उद्देश्य है कि केंद्र सरकार द्वारा डिजिटल ट्रांजैक्शन को प्रोमोट किया जाए. मौजूदा समय में सोशल डिस्टेंसिंग को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी. इस समय हमें सुरक्षा और सफाई पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है.'

विदेशों में किए जाने वाले पेमेंट को आसान बनाया जाए
वर्तमान में बड़ी संख्या में स्टूडेंट्स विदेश में हैं. ऐसे में VPA, IFSC और SWIFT कोड के जरिए पेमेंट को बढ़ावा देने से उन्हें भी मदद पहुंच सकेगी. कई भारतीय छात्र ऐसे देशों में फंसे हैं, ​कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सबसे अधिक हैं.

यह भी पढ़ें: कोरोना के कहर से कंगाल हो जाएगा पाकिस्तान! 1.85 करोड़ लोग हो सकते है बेरोज़गार

व्यापारियों के लिए पेमेंट पर दी जाए खास व्यवस्था
ट्रेड को बढ़ावा देने के लिए BQR की मदद से ई-पेमेंट की सुविधा दी जानी चाहिए. व्यापारियों के लिए यह प्रक्रि​या बेहद सरल होगी. वर्तमान में व्यापारी, UPT-QR का सहारा लेते हैं. भारत QR के लिए 5,000 रुपये की 2FA की लिमिट को हटा देना चाहिए. इसे कार्ड के जरिए ट्रांजैक्शन लिमिट के आधार पर तय किया जाना चाहिए.

कार्ड के जरिए कॉन्टैक्टलेस पेमेंट को बढ़ावा मिले
इस लेटर में कहा गया है कि मौजूदा महामारी को ध्यान में रखते हुए 5000 रुपये तक के ट्रांजैक्शन के लिए पिन की बाध्यता को हटा देना चाहिए, भले ही कार्ड कॉन्टैक्टलेस हो या नहीं. इससे पीओएस टर्मिनल पर कॉन्टैक्ट को कम किया जा सकेगा. इस व्यवस्था को केवल 6 महीने के लिए ही लागू किया जाना चाहिए.

यह भी पढ़ें: बड़ी खबर- अब इस कंपनी ने किया छंटनी का ऐलान, जा सकती है 28 हजार लोगों की नौकरी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 4, 2020, 4:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading