Home /News /business /

InFinity Forum: UIDAI डिजिटल पहचान प्रणाली तैयार करने में सहयोग पर विचार कर रहा है- CEO सौरभ गर्ग

InFinity Forum: UIDAI डिजिटल पहचान प्रणाली तैयार करने में सहयोग पर विचार कर रहा है- CEO सौरभ गर्ग

UIDAI के CEO सौरभ गर्ग ने कहा कि भारत में 99.5 प्रतिशत आबादी के पास अब Aadhaar संख्या है.

UIDAI के CEO सौरभ गर्ग ने कहा कि भारत में 99.5 प्रतिशत आबादी के पास अब Aadhaar संख्या है.

UIDAI के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सौरभ गर्ग ने 'इन्फिनिटी मंच' (InFinity Forum) कार्यक्रम में कहा कि भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) दुनिया भर में डिजिटल पहचान प्रणाली के निर्माण के लिए दूसरे देशों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों के साथ सहयोग करने पर विचार कर रहा है. सौरभ गर्ग ने कहा कि प्राधिकरण सुरक्षा बढ़ाने और आधार का उपयोग करके किए जा सकने वाले लेनदेन की संख्या बढ़ाने के लिए उभरती प्रौद्योगिकी की तलाश कर रहा है.

अधिक पढ़ें ...

    InFinity Forum News: भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) दुनिया भर में डिजिटल पहचान प्रणाली के निर्माण के लिए दूसरे देशों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों के साथ सहयोग करने पर विचार कर रहा है. UIDAI के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सौरभ गर्ग ने ‘इन्फिनिटी मंच’ (InFinity Forum) कार्यक्रम में पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा (Paytm CEO Vijay Shekhar Sharma) के साथ एक पैनल चर्चा के दौरान यह बात कही.

    सौरभ गर्ग ने कहा कि प्राधिकरण सुरक्षा बढ़ाने और आधार का उपयोग करके किए जा सकने वाले लेनदेन की संख्या बढ़ाने के लिए उभरती प्रौद्योगिकी की तलाश कर रहा है.

    उन्होंने कहा, “हमें लगता है कि आगे हमें दूसरे देशों के साथ सहयोग करने में खुशी होगी. हम राष्ट्रीय पहचान के मानकों के लिए अंतरराष्ट्रीय संस्थानों के निर्माण में भी अंतरराष्ट्रीय संगठनों के साथ सहयोग करना चाहते हैं. हम भविष्य में विभिन्न देशों के साथ सहयोग करने और यह तय करने के लिए उत्साहित हैं कि सशक्तिकरण का माध्यम बनने वाली डिजिटल पहचान दुनिया भर में उपलब्ध हो.”

     99.5 प्रतिशत आबादी के पास Aadhaar
    उन्होंने कहा कि भारत में 99.5 प्रतिशत आबादी के पास अब आधार (Aadhaar) संख्या है और विभिन्न लेनदेन को सत्यापित करने के लिए दैनिक आधार पर पांच करोड़ प्रमाणीकरण किया जाता है.

    धरती और लोगों की सुरक्षा के आधार पर डिजिटल वर्ल्ड का करना होगा निर्माण- मुकेश अंबानी

    उन्होंने कहा कि यूआईडीएआई (UIDAI) अन्य देशों में आधार संरचना के निर्माण के लिए विश्व बैंक और संयुक्त राष्ट्र के साथ काम कर रहा है।

    PM Modi ने कही ये बात
    InFinity Forum का उद्घाटन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने कहा कि देश के हर नागरिक के लिए वित्तीय सशक्तिकरण सुनिश्चित करने की खातिर वित्त प्रौद्योगिकी पहल को वित्त प्रौद्योगिकी क्रांति में बदलने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकी वित्त में एक बड़ा बदलाव ला रही है, और पिछले साल मोबाइल से किया जाने वाला भुगतान, एटीएम कार्ड (ATM Card) से की जाने वाली पैसों की निकासी से अधिक था.

    उन्होंने एक और उदाहरण देते हुए कहा कि प्रत्यक्ष शाखा कार्यालयों के बिना काम करने वाले डिजिटल बैंक (Digital Bank) पहले से ही एक वास्तविकता हैं तथा एक दशक से भी कम समय में ये आम हो सकते हैं.

    डिजिटल करेंसी पर नियंत्रण के लिए वैश्विक तंत्र बनाने की जरूरत- निर्मला सीतारमण

    प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “जैसे-जैसे इंसान ने प्रगति की, वैसे-वैसे हमारे लेनदेन का रूप भी बदला। वस्तु विनिमय प्रणाली से धातु तक, सिक्कों से नोटों तक, चेक से लेकर कार्ड तक, आज हम यहां पहुंच गए हैं.”

    43 करोड़ जन धन खाते
    PM Modi ने Fintech के नेतृत्व में भारत के वित्तीय समावेशन अभियान की जानकारी देते हुए कहा कि 2014 में 50 प्रतिशत से कम भारतीयों के पास बैंक खाते थे, भारत ने पिछले सात वर्षों में 43 करोड़ जन धन (PM Jan Dhan) खातों के साथ इसे लगभग सार्वभौमिक बना दिया है.

    उन्होंने 69 करोड़ रुपे कार्ड (Rupay Card) जैसी पहल का भी उल्लेख किया जिसमें पिछले साल 1.3 अरब लेनदेन हुए थे,

    प्रधानमंत्री ने यूपीआई (UPI) का जिक्र करते हुए कहा कि यूपीआई के जरिए पिछले महीने लगभग 4.2 अरब लेनदेन हुए. उन्होंने यह भी बताया कि जीएसटी (GST) पोर्टल पर हर महीने 30 करोड़ बिल अपलोड किए जा रहे हैं.

    Tags: Aadhaar, Uidai

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर