Infosys Q4 Results: इंफोसिस ने जारी किए चौथी तिमाही के नतीजे, 5078 करोड़ रुपये रहा प्रॉफिट

इंफोसिस

इंफोसिस

तिमाही-दर-तिमाही आधार पर इंफोसिस (Infosys) की कंसॉलिडेटेड आमदनी 2.8 फीसदी बढ़कर 26,311 करोड़ रुपये रही. यह भी अनुमान से कुछ कम है.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश की प्रमुख सॉफ्टवेयर सर्विस कंपनी इंफोसिस (Infosys) ने बुधवार को चौथी तिमाही के नतीजे जारी कर दिए हैं. कंपनी का कंसॉलिडेटेड नेट प्रॉफिट 2.6 फीसदी गिरकर 5078 करोड़ रुपये रहा. यह अनुमान से कम है क्योंकि एनालिस्ट्स उम्मीद कर रहे थे कि चौथी तिमाही में इंफोसिस का कंसॉलिडेटेड नेट प्रॉफिट 5170.2 करोड़ रुपये रह सकता है.

तिमाही-दर-तिमाही आधार पर इंफोसिस की कंसॉलिडेटेड आमदनी 2.8 फीसदी बढ़कर 26,311 करोड़ रुपये रही. यह भी अनुमान से कुछ कम है. एनालिस्ट्स 26,701.8 करोड़ रुपये कंसॉलिडेटेड आमदनी की उम्मीद कर रहे थे.

ये भी पढ़ें- सीनियर सिटीजंस को तोहफा! SBI, ICICI समेत ये बैंक 30 जून तक दे रहे ज्यादा ब्याज, आप भी इस तरह लें फायदा

2021-2022 के लिए 12-14 फीसदी सेल्स ग्रोथ का टारगेट
कंपनी ने वित्त वर्ष 2021-2022 के लिए 12-14 फीसदी सेल्स ग्रोथ का टारगेट दिया है. जबकि उम्मीद जताई है कि इस दौरान मार्जिन बैंड 22-24 फीसदी रह सकता है. साल-दर-साल आधार पर इंफोसिस की आमदनी मार्च तिमाही में 9.6 फीसदी बढ़ी. इस दौरान मुनाफा 17 फीसदी बढ़ा है. मार्च में खत्म तिमाही में कंपनी की कंसॉलिडेटेड ऑपरेटिंग मार्जिन 24.5 फीसदी रहा। यह पिछली तिमाही से 0.90 फीसदी कम है.

ये भी पढ़ें- कोरोना की दूसरी लहर से बढ़ी महंगाई! सरसों तेल का भाव ₹200 तक पहुंचा, दाल से लेकर डब्बाबंद दूध तक महंगा

डिविडेंड का ऐलान, 25% प्रीमियम पर शेयर बायबैक करेगी कंपनी



चौथी तिमाही के नतीजों से पहले इंफोसिस के बोर्ड की बुधवार को अहम बैठक थी. इस बैठक में बोर्ड ने 1750 रुपये प्रति शेयर बायबैक करने की मंजूरी दे दी है. 13 अप्रैल को इंफोसिस के शेयरों के बंदभाव के मुकाबले यह 25 फीसदी ज्यादा है. 13 अप्रैल को कंपनी के शेयर 1402 रुपए पर बंद हुए थे. कंपनी ने 15 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से डिविडेंड का भी ऐलान किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज