इंडियाबुल्स वेंचर पर बड़ी कार्रवाई, SEBI ने कंपनी के अधिकारियों पर लगाया 1.05 करोड़ का जुर्माना

सेबी

सेबी (SEBI) ने शुक्रवार को इंडियाबुल्स वेंचर (Indiabulls Venture) और उससे जुड़े कुछ व्यक्तियों पर बाजार नियमों का उल्लघंन करने के मामले में कुल 1.05 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. मार्केट रेगुलेटर भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड यानी सेबी (Securities and Exchange Board of India) ने शुक्रवार को इंडियाबुल्स वेंचर (Indiabulls Venture) और उससे जुड़े कुछ व्यक्तियों पर बाजार नियमों का उल्लघंन करने के मामले में कुल 1.05 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया. कंपनी फिलहाल धानी सर्विसेज (Dhani Services) के नाम से काम कर रही है.

    सेबी (SEBI) ने इंडियाबुल्स की पूर्व गैर-कार्यकारी निदेशक पिया जॉनसन उनके पति मेहुल जॉनसन पर भेदिया कारोबार निषेध यानी पीआईटी (Prohibition of Insider Trading) नियमों का उल्लंघन करने पर 25-25 लाख का जुर्माना लगाया है.

    ये भी पढ़ें- मात्र 250 रु में खुलवाएं बेटी के नाम पर ये खाता, शादी पर मिलेंगे पूरे 15 लाख, जानिए डिटेल में...

    सेबी ने मूल्य संबंधी अप्रकाशित संवेदनशील जानकारी जारी करने की अवधि के दौरान इस शेयर का कारोबार करने के मामले में उन पर यह जुर्माना लगाया है. पिया और मेहुल ने इससे 69.09 लाख रुपये का सामूहिक लाभ कमाया था. सेबी के अनुसार इस मामले की जांच जनवरी-नवंबर 2017 के बीच की गई.

    ये भी पढ़ें- इन तीन सरकारी बैंक के ग्राहक ध्यान दें! इस तारीख से बदल जाएंगे ये नियम, फटाफट चेक करें डिटेल

    एक अन्य आदेश में सेबी ने इंडियाबुल्स वेंचर पर संबंधित अवधि में बाजार में शेयर की खरीद फरोख्त पर रोक की सूचना जारी न करने के लिए पचास लाख रुपये और उसके सचिव ललित शर्मा पर बाजार को कारोबार बंद रखने की निगरानी नहीं करने को लेकर पांच लाख रुपये का जुर्माना लगाया.

    बायोकॉन पर SEBI ने लगाया मोटा जुर्माना
    हाल ही में सेबी ने फार्मा कंपनी बायोकॉन लि. (Biocon Ltd) और उसके द्वारा प्राधिकृत व्यक्ति पर बाजार नियमों का उल्लघंन करने के मामले में 14 लाख रुपये का जुर्माना लगा दिया. सेबी ने कंपनी द्वारा नामित व्यक्ति, नरेंद्र चिरमुले पर 5 लाख का जुर्माना लगाया गया हैं. वह कंपनी में अनुसंधान और विकास विभाग के वरिष्ठ उपाध्यक्ष के रूप में कार्यरत थे. कारोबार बंद रखे जाने के बावजूद कंपनी के शेयरों में सौदे करने के कारण चिरमुले पर जुर्माना लगाया गया.