31 अगस्त तक नहीं कर सकेंगे इंटरनेशनल फ्लाइट में सफर, DGCA ने लिया ये फैसला

31 अगस्त तक नहीं कर सकेंगे इंटरनेशनल फ्लाइट में सफर, DGCA ने लिया ये फैसला
यह प्रतिबंध इंटरनेशनल कार्गो ऑपरेशंस और डीजीसीए द्वारा मंजूरी प्राप्त करने वाले फ्लाइट्स के लिए लागू नहीं होगा

एविएशन रेग्युलेटर DGCA ने 31 अगस्त तक अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध (Ban on International Flights) लगा दिया है. लगातार तीसरी बार इस डेडलाइन को बढ़ाया गया है. 1 अगस्त से वंदे भारत मिशन का पांचवां चरण भी शुरू हो रहा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. एविएशन रेग्युलेटर DGCA ने अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध (Ban on International Flights) की अंतिम डेडलाइन 31 अगस्त तक बढ़ा दी है. हालांकि, DGCA का यह प्रतिबंध इंटरनेशनल कार्गो-ऑपरेशंस और DGCA द्वारा मंजूरी प्राप्त करने वाले फ्लाइट्स के लिए लागू नहीं होगा. डीजीसीए ने शुक्रवार को एक बयान में कहा, 'सरकार ने शेड्यूल्ड कॉमर्शियल इंटरनेशनल फ्लाइट्स की सस्पेन्शन अवधि को बढ़ाने का फैसला लिया है. यह 31 अगस्त रात 11 बजकर 59 मिनट तक के लिए होगा.'

इसके पहले 3 जुलाई को डीजीसीए ने अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर यह प्रतिबंध 31 जुलाई तक बढ़ा दी थी. इसके बाद एक बार फिर इसे बढ़ाकर 15 अगस्त किया गया था. एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया कि इस बैन को इसलिए बढ़ाया गया, क्योंकि यह महसूस हुआ कि भारत को अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें शुरू करने से पहले कुछ जरूरी तैयारियों के लिए समय चाहिए.

यह भी पढ़ें: अगले हफ्ते होगी RBI की अहम बैठक, आपकी EMI को लेकर हो सकता है फैसला



कोविड-19 संकट के बीच नागर उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने 'एयर बबल' को ऐलान किया था. इसके तहत भारत से अमेरिका, फ्रांस और जर्मनी के लिए इंटरनेशनल फ्लाइट्स को अनुमति मिलेगी. फ्रांस की एयर फ्रांस (Air France) और अमेरिका की यूनाइटेड एयरलाइंस (United Airlines) पेरिस और अमेरिका से भारत के लिए लिमिटेड उड़ान भरेंगी.
1 अगस्त से शुरू होगा वंदे भारत का पांचवां चरण
मालूम हो कि अब तक विदेशों से भारतीयों को लाने के लिये सात मई से शुरू किए गए ‘वंदे भारत’ अभियान (Vande Bharat Mission) के तहत 8.78 लाख से अधिक भारतीय स्वदेश लौटे हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव (Anurag Srivasatava) ने गुरुवार को बताया कि वंदे भारत का पांचवां चरण एक अगस्त 2020 से शुरू होगा. उन्होंने बताया कि पांचवें चरण में 23 देशों से भारतीयों को लाने के लिये 792 उड़ानें निर्धारित की गई हैं, जिनमें 692 अंतरराष्ट्रीय उड़ानें और 100 घरेलू उड़ानें हैं.

यह भी पढ़ें: घर में रखे सोने की देनी होगी जानकारी! सरकार ला रही है सबसे बड़ी योजना

इन देशों के लिए होगा वंदे भारत का पांचवां चरण
पांचवें चरण में जिन देशों से लोगों को लाया जाएगा उनमें खाड़ी देश, कनाडा, अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी, फ्रांस, आॅस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, मलेशिया, फिलीपीन्स, सिंगापुर, बांग्लादेश, म्यामार, चीन, इजराइल, यूक्रेन और किर्गिस्तान शामिल हैं. प्रवक्ता ने बताया कि इस अभियान के तहत 29 जुलाई तक 8,78,921 भारतीय नागरिक लौटे हैं. उन्होंने बताया कि वंदे भारत मिशन के चौथे चरण के तहत अब तक 1,083 उड़ानें निर्धारित की जा चुकी हैं, जिनमें से 849 अंतराष्ट्रीय उड़ानें और 234 फीडर उड़ानें शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading