लाइव टीवी

सरकार की इस स्कीम में आपको हर ​महीने मिलेंगे 10 हजार रुपये, बस दो महीने का है मौका

News18Hindi
Updated: January 24, 2020, 8:41 PM IST
सरकार की इस स्कीम में आपको हर ​महीने मिलेंगे 10 हजार रुपये, बस दो महीने का है मौका
प्रधानमंत्री व्यय वंदना योजना

सरकार की इस योजना में हर महीने अधिकतम 10 हजार रुपये का पेंशन प्राप्त किया जा सकता है. इस स्कीमें निवेश करने की कोई अधिकतम उम्र सीमा नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 24, 2020, 8:41 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. वरिष्ठ नागरिकों (Senior Citizen) के ​लिए मोदी सरकार (Modi Government) की एक खास योजना बहुत जल्द बंद होने वाली है. प्रधानमंत्री व्यय वंदना योजना (PMVVY) के बंद होने की अंतिम तारीख 31 मार्च 2020 है. प्रधानमंत्री व्यय वंदना योजना 10 साल के लिए पेंशन स्कीम है, इसमें वरिष्ठ नागरिकों को मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना आधार पर पेंशन की सुविधा मिलती है. नियमों के मुताबिक, इस स्कीम में अधिकतम 15 लाख रुपये का निवेश किया जा सकता है और हर महीने 10 हजार रुपये पेंशन की सुविधा मिल सकती है. ऐसे में, अगर पति-पत्नी की उम्र 60 साल से ​अधिक है तो उन्हें अधिकतम 20 हजार रुपये का पेंशन मिल सकता है. ये योजना निवेश की उम्र के आधार पर तय नहीं होती है.

विभिन्न पेमेंट मोड के लिए प्रति 100 रुपये के पर्चेज प्राइस पर सेंपल पेंशन रेट्स इस प्रकार हैं.
सालाना: 83 रुपये प्रति वर्ष
छमाही: 81.30 रुपये प्रति वर्ष

तिमाही: 80.50 रुपये प्रति वर्ष
मासिक: 80 रुपये प्रति वर्ष

यह भी पढ़ें: इस देश में बना दुनिया का सबसे छोटा सोने का सिक्का, जानिए इसकी खासियत 

प्रधानमंत्री व्यय वंदना योजना कैलकुलेट करने के लिए फॉम्युला = निवेश की गई रकम*SPR/ 1000.

यहां पर SPR सेंपल पेंशन रेट है. अगर आप 10 लाख रुपये इस योजना में निवेश करना चाहते हैं तो मासिक पेंशन 6,667 रुपये होगा.



 

रिटर्न कैलकुलेटर
पेंशन मोड के आधार पर इस स्कीम में कुल रिटर्न में भी भिन्नता होगी. सालाना पेंशन के लिए 8.33 फीसदी प्रति वर्ष है. छमाही के लिए यह 8.13 फीसदी और तिमाही के लिए यह 8.05 फीसदी है. वहीं, मासिक पेंशन के लिए यह 8 फीसदी होगी.

यह भी पढ़ें: अब कूरियर ट्रैक करने का SMS भेजकर हो रही हैं बैंक खाते से पैसों की चोरी!

इस योजना में निवेश की गई रकम को पर्चेज प्राइस कहा जाता है. इसके लिए न्यूनतम और अधिकतम रकम की सीमा तय की गई है. अगर आप मासिक पेंशन का विकल्प चुनते हैं तो आप कम से कम 1.5 लाख रुपये और अधिकतम 15 लाख रुपये निवेश कर सकते हैं.

>> सालाना पेंशन के विकल्प के ​लिए यह न्यूनतम 1,44,578 रुपये और अधिकतम 14, 45,783 रुपये है.

>> छमाही पेंशन विकल्प के लिए यह न्यूनतम 1,47,601 रुपये और अधिकतम 14,76,015 रुपये है.

>> वहीं, तिमाही पेंशन विकल्प के लिए यह न्यूनतम 1,49,068 रुपये और अधिकतम 14,90,683 रुपये है.



यह भी पढ़ें: मैकडोनाल्ड का बड़ा ऐलान- अब इन जगहों पर 24 घंटे सातों दिन खुलेंगे स्टोर्स

अगर आप सालाना पेंशन का विकल्प चुनते हैं तो आपको कम से कम 12 हजार रुपये और अधिकम 1.20 लाख रुपये पेंशन मिलेगा. पेंशन की रकम इस बात पर निर्भर करेगा कि आपने कितना निवेश किया है.

कैसे करें निवेश
इस योजना में निवेश करने के लिए आप अपने नजदीकी एलआईसी एजेंट से संपर्क कर सकते हैं. इसके अलावा आप ऑनलाइन भी आवेदन कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें: अब अपने आधार कार्ड से लिंक करना होगा वोटर आईडी! चुनाव आयोग की तैयारी पूरी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 24, 2020, 8:39 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर