• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • LIC: इस योजना में जमा करें 130 रुपये, बेटी की शादी पर मिलेंगे पूरे ₹27 लाख, जानिए क्या है स्कीम?

LIC: इस योजना में जमा करें 130 रुपये, बेटी की शादी पर मिलेंगे पूरे ₹27 लाख, जानिए क्या है स्कीम?

इस स्कीम को आवेदन के लिए आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, पहचान पत्र, जन्म प्रमाणपत्र जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है.

इस स्कीम को आवेदन के लिए आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, पहचान पत्र, जन्म प्रमाणपत्र जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है.

  • Share this:

    नई दिल्ली. माता-पिता बेटियों के जन्म लेते ही उसके बेहतर भविष्य के लिए पैसे जोड़ने शुरू कर देते हैं और अच्छी इन्वेस्टमेंट पॉलिसी (Investment Policy) लेने की प्लानिंग करने लगते हैं. ऐसे में भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) बेटियों को ध्यान में रखकर खास स्कीम लेकर आया है. इसका नाम है- एलआईसी कन्यादान पाॅलिसी (LIC Kanyadaan policy). LIC की ये स्कीम कम आय वाले माता-पिता को बेटियों की शादी के लिए रकम जुटाने में मदद करती है.

    जानें, इस पॉलिसी के बारे में सब कुछ
    एलआईसी कन्यादान पॉलिसी के तहत एक निवेशक को रोजाना 130 रुपये (47,450 रुपये सालाना) जमा करने होंगे. पॉलिसी अवधि के 3 वर्ष से कम समय के लिए प्रीमियम का भुगतान किया जाएगा. 25 वर्षों के बाद, एलआईसी उसे लगभग 27 लाख रुपये का भुगतान करेगी. LIC Kanyadaan policy में नामांकन के लिए निवेशक की न्यूनतम आयु 30 वर्ष है और निवेशक की बेटी की न्यूनतम आयु 1 वर्ष होनी चाहिए.

    ये भी पढ़ें- ज‍ितने बच्‍चे होंगे, उतने पैसे म‍िलेंगे! चीन का यह शहर अब हर महीने प्रति बच्चा देगा कैश, जानें यह नियम

    मैच्योरिटी पर मिलेंगे 27 लाख रुपये
    इस पाॅलिसी की मिनिमम मैच्योरिटी पीरियड 13 साल है. अगर किसी कारणवश बीमित व्यक्ति की मृत्य हो जाती है तो एलआईसी की तरफ से व्यक्ति को अतिरिक्त 5 लाख रुपये देने होंगे. कोई व्यक्ति 5 लाख रुपये का बीमा लेता है तो उसे 22 साल तक मासिक किस्त 1,951 रुपये की देनी होगी. समय पूरा होने पर एलआईसी की तरफ से 13.37 लाख रुपये मिलेंगे. ठीक इसी तरह अगर कोई व्यक्ति 10 लाख का बीमा लेता है तो उसे महीने का 3901 रुपये किश्त का भुगतान करना होगा. 25 साल बाद एलआईसी की तरफ से 26.75 लाख रुपये का भुगतान होगा.

    ये भी पढ़ें- HBD JRD Tata: कहानी भारत के पहले कॉर्मिशयल पायलट की जिनके बदौलत देश को मिली Air India

    टैक्स में मिलेगी छूट
    आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80C के तहत, एक निवेशक भुगतान किए गए प्रीमियम पर कर छूट का दावा कर सकता है. टैक्स छूट अधिकतम 1.50 लाख रुपये तक है. बता दें कि इस स्कीम को आवेदन के लिए आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, पहचान पत्र, जन्म प्रमाणपत्र जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज