होम /न्यूज /व्यवसाय /Gold को लेकर फिर बढ़ा निवेशकों का रुझान, अगस्‍त 2021 में Gold ETF में हुआ जबरदस्‍त निवेश

Gold को लेकर फिर बढ़ा निवेशकों का रुझान, अगस्‍त 2021 में Gold ETF में हुआ जबरदस्‍त निवेश

Gold ETF में निवेशक फोलियो की संख्या अगस्त 2021 में 21.46 लाख तक पहुंच गई.

Gold ETF में निवेशक फोलियो की संख्या अगस्त 2021 में 21.46 लाख तक पहुंच गई.

एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (AMFI) के मुताबिक, साल 2021 के शुरुआती आठ महीनों के दौरान गोल्‍ड ईटीएफ (Gold ETF) ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के बाद निवेशकों ने फिर सबसे सुरक्षित निवेश विकल्‍प माने जाने वाले सोने (Gold) पर भरोसा जताया है. दुनियाभर में गोल्‍ड को मुश्किल दौर में सबसे बेहतर निवेश विकल्‍प माना जाता है. इसी के मद्देनजर साल 2021 के शुरुआती 8 महीनों में गोल्‍ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (Gold ETFs) में कुल 3,070 करोड़ रुपये तक का इनफ्लो रहा. हालांकि, जुलाई 2021 में गोल्ड ईटीएफ में शुद्ध निकासी हुई, लेकिन अगस्त 2021 में लोगों की इसे लेकर धारणा में सुधार हुआ. अगस्‍त के दौरान लोगों ने गोल्‍ड ईटीएफ में 24 करोड़ रुपये का निवेश किया.

    मई और जून 2021 के दौरान बेहतर रहा शुद्ध निवेश
    एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (AMFI) के मुताबिक, धारणा में सुधार आने के साथ ही गोल्ड ईटीएफ में निवेशक फोलियो की संख्या अगस्त में 21.46 लाख तक पहुंच गई. जुलाई में ये आंकड़ा 19.13 लाख था. बता दें कि गोल्ड ईटीएफ में नवंबर 2020 में 141 करोड़ रुपये, फरवरी 2021 में 195 करोड़ और जुलाई 2021 में 61.5 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी हुई. जुलाई के बाद अगस्त 2021 में सोने में निवेश सकरात्मक रहा, लेकिन शुद्ध खरीद 23.92 करोड़ रुपये की रही. इसके मुकाबले जून 2021 में गोल्‍ड ईटीएफ में 360 करोड़ रुपये और मई में 288 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश हुआ था.

    ये भी पढ़ें – CBDT ने 26 लाख से ज्‍यादा Taxpayers को ₹70 हजार करोड़ से ज्‍यादा का किया टैक्‍स रिफंड, ऐसे चेक करें अपना स्‍टेटस

    वैश्विक स्‍तर पर सकारात्‍मक रुख से मिला फायदा
    मार्निंगस्टार इंडिया में वरिष्ठ विश्लेषक प्रबंधक (शोध) कविता कृष्णन ने कहा कि महामारी के बावजूद वैश्विक स्तर पर बने सकारात्कमक रुख से सोने को लेकर धारणा में सुधार आया है. एलएक्सएमई की संस्थापक प्रीति राठी गुप्ता ने कहा कि अगस्त के दौरान गोल्ड ईटीएफ ने निकासी के बजाय निवेश बढ़ने की तरफ बदलाव देखा है. सोने के दाम वापस सामान्य स्थिति में आने पर निवेशक फिर सोने में निवेश की तरफ आकर्षित होने लगे हैं. बता दें कि पेपर गोल्ड में निवेश करने का सबसे अच्छा तरीका गोल्‍ड ईटीएफ है. यह ओपन एंडेड म्यूचुअल फंड है, जो सोने के गिरते चढ़ते भावों पर आधारित होता है. फिजिकल गोल्ड के मुकाबले गोल्ड ईटीएफ पर परचेजिंग चार्ज कम होता है. साथ ही 100 फीसदी शुद्धता की गारंटी मिलती है. इसमें SIP के जरिये निवेश की सुविधा भी मिलती है.

    Tags: Business news in hindi, Gold business, Gold ETF, Gold price News, Gold Rate, Investment and return

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें