Home /News /business /

म्यूचुअल फंड्स बंद होने से सहमे निवेशक, कम ब्याज पर भी बैंक में डिपॉजिट कर रहे पैसा

म्यूचुअल फंड्स बंद होने से सहमे निवेशक, कम ब्याज पर भी बैंक में डिपॉजिट कर रहे पैसा

बैंकों ने सेविंग खाते पर ब्याज दरें घटाईं

बैंकों ने सेविंग खाते पर ब्याज दरें घटाईं

बीते कुछ समय में कई डेट म्यूचुअल फंड्स के बंद किए जाने के बाद अब बैंकों के पारंपरिक डिपॉजिट्स में इजाफा देखने को मिल रहा है. बैंकों के डिपॉजिट रेट्स की बात करें तो इसमें भी बड़ी कटौती की गई है.

    नई दिल्ली. कुछ म्यूचुअल फंड्स (Debt Mutual Funds) के बंद होने के बाद अब निवेशकों सतर्क नजर आ रहे हैं. यही कारण है कि अब निवेशक अपनी पूंजी को सुरक्षित करने के​ लिए बैंक डिपॉजिट्स (Bank Deposits) पर भरोसा करने लगे हैं. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि बैंकों के पारंपरिक डिपॉजिट्स में बढ़ोतरी हो रही है.

    कोरोना वायरस की वजह से लिक्विडिटी संकट
    पिछले सप्ताह ही फिक्स्ड इनकम वाले लोगों के लिए सबसे पॉपुलर फ्रैंकलिन टेम्प्लेटन (Franklin Templeton) ने 6 डेट म्यूचुअल फंड्स को बंद करने का ऐलान किया था. फ्रैंकलिन ने बताया बाजार में मौजूदा संकट की बीच लिक्विडिटी की परेशानी से जूझ रही है. इस कंपनी का लोवर रेटेड क्रेडिट सिक्योरिटीज में करीब 28,000 करोड़ रुपये का एक्सपोजर है.

    यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के बाद बदल जाएगा मेट्रो में सफर, बंद हो सकती है ये सर्विस

    बढ़ रहा बैंकों ​में डिपॉजिट
    इस खबर के सामने आने के बाद ही निवेशकों ने सरकार से पूरे मामले में दखल देने की मांग की और फिर डेट म्यूचुल फंड्स में रिकॉर्ड विड्रॉल देखने को मिला. इस विड्रॉल के बाद अब बैंकों के पारंपरिक डिपॉजिट में इजाफा हो रहा है.

    इंडसइंड बैंक के CEO सुमंत कठपालिया ने कहा, 'बैंक डिपॉजिट में तेजी देखने को मिल रही है. बैंकों में आने वाले पैसों का एक बड़ा हिस्सा म्यूचुअल फंड से आ रहा है.'

    यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के बाद कब शुरू होगी हवाई टिकटों की बुकिंग! इतने दिन पहले बताएगी सरकार

    बैंकों ने की है ब्याज दरों में बड़ी कटौती
    कैश बढ़ने के बाद बैंकों ने डिपॉजिट दरों (Bank Deposit Rates) में भी कटौती की है. फरवरी 2019 के बाद औसत रूप से लगभग हर बैंक ने डिपॉजिट रेट्स में 45 आधार अंक की कटौती की है. इसके बाद भी 10 अप्रैल को खत्म हुए तिमाही में साल-द-साल के हिसाब से बैंक डिपॉजिट में 9.45 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. इसके पहले दो सप्ताह में यह 7.93 फीसदी था.

    दो महीने में 1.95 लाख करोड़ की निकासी
    हालांकि, फ्रैंक​लिन संकट के बाद नया आंकड़ा अगले महीने ही उपलब्ध हो सकेगा. आने वाले दिनों में बैंक के डिपॉजिट में और भी तेजी देखने को मिल सकती है. बता दें कि पिछले महीने म्यूचुअल फंड्स का डेट आउटफ्लो करीब 1.95 लाख करोड़ रुपये रहा.

    पिछले कुछ समय में रिटेल इन्वेस्टर्स डेट म्यूचुअल फंड्स पर इसलिए भी भरोसा कर रहे थे, क्योंकि उनके लिए यह टैक्स फ्रेंडली है और बैंक डिपॉजिट की तरह ही कम जोखिम का वादा किया जाता था. साल 2018 में इन फंड्स में रिकॉर्ड इनफ्लो देखने को मिला था.

    यह भी पढ़ें:  नहीं जा पा रहे ATM तो इन 5 तरीकों से करें पैसों का इंतज़ाम, वो भी बिना Tension

    Tags: Bank branches, Bank interest rate, Business news in hindi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर