अपना शहर चुनें

States

फ्री में सिलेंडर देने के लिए सरकार ने किया बड़ा फैसला, IOC ने बनाया ये प्लान

यूपी के बहराइच में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना में फर्जीवाड़ा सामने आया है. (सांकेतिक तस्वीर)
यूपी के बहराइच में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना में फर्जीवाड़ा सामने आया है. (सांकेतिक तस्वीर)

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) ने कहा कि उसने अप्रैल और मई में अतिरिक्त एलपीजी आयात के लिये गठजोड़ किया है

  • Share this:
नई दिल्ली. सार्वजनिक क्षेत्र की इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) ने कहा कि उसने अप्रैल और मई में अतिरिक्त एलपीजी आयात के लिये गठजोड़ किया है. कंपनी ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये देश्व्यापी ‘लॉकडाउन’ के दौरान खाना पकाने की गैस की बाधा रहित आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिये यह कदम उठाया है. आईओसी ने एक बयान में कहा कि उसने बाधा रहित उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिये अतिरिक्त आयात के लिये गठजोड़ किया है. यह सामान्य आयात के मुकाबले करीब 50 प्रतिशत अधिक है.

यहां यह उल्लेखनीय है कि इन रिफाइनरी कंपनियों ने कारखाने बंद होने, उड़ानें निलंबित होने, ट्रेन तथा वाहनों की आवाजाही बंद होने से मांग में कमी को देखते हुये अपनी रिफाइनरियों से परिशोधन की रफ्तार कम की है. चूंकि, एलपीजी का उत्पादन कच्चे तेल के प्रसंस्करण के साथ पेट्रोल, डीजल और केरोसीन के साथ किया जाता है, ऐसे में घरेलू रिफाइनरियों से उपलब्धता कम हुई है.

ये भी पढ़ें: EMI के चक्कर में भूल कर भी न करें ये गलती, खाली हो सकता है आपका बैंक अकाउंट



इस कमी को पूरा करने के लिये आईओसी ने अतिरिक्त आयात के लिये गठजोड़ किया है. कंपनी ने कहा कि वह बड़ी रिफाइनरियों में परिचालन अनकूलतम कर एलपीजी उत्पादन बढ़ाने के लिये कदम उठा रही है. उसने यह भी कहा कि ‘बॉटलिंग’ संयंत्र दिन-रात काम कर रहे हैं, ताकि बढ़ी हुई मांग को पूरा किया जा सके.
प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को तीन महीने सिलेंडर मुफ्त देने का निर्णय 
आईओसी ने यह भी कहा कि जब से सरकार ने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को तीन महीने (अप्रैल-जून) 14.2 किलो का सिलेंडर मुफ्त देने का निर्णय किया है, संबंधित एलपीजी ग्राहकों को उसी समय से प्राथमिकता के आधार पर रसोई गैस सिलेंडर दिये जा रहे हैं.

इसके तहज आईओसी ने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (पीएमयूवाई) से जुड़े बैंक खातों में प्रत्यक्ष सब्सिडी भुगतान के तहत सिलेंडर का खुदरा मूल्य डालना शुरू कर दिया है. कंपनी के अनुसार अब तक 3.7 करोड़ पीएमयूवाई लाभार्थियों के खाते में 2,780 करोड़ रुपये अंतरित किये गये हैं. प्रक्रिया अगले दो दिनों में पूरी हो जाने की उम्मीद है.

ये भी पढ़ें: केवल 1 रुपया सैलरी लेंगे उदय कोटक, पीएम केयर्स फंड में डोनेट किये ₹25 करोड़

योजना के तहत पीएमयूवाई ग्राहक को सिलेंडर लेकर आने वाले व्यक्ति को रसीद के हिसाब से पूरी राशि देनी है. इसके एवज उनके खाते में उतनी राशि डाल दी गयी है. जिन पीएमयूवाई ग्राहकों ने पैसा आने से पहले सिलेंडर भरवा लिया है, वे 15 दिन के अंतराल के बाद मुफ्त रसोई गैस सिलेंडर के लिये बुकिंग करा सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज