बाबा रामदेव की पतंजलि के बाद अब Tata भी हुई IPL को स्पांसर करने की रेस में शामिल

पतंजलि, अन-एकेडमी और ड्रीम-11 के बाद टाटा समूह भी आईपीएल स्‍पांसरशिप की रेस में शामिल हो गई है.

आईपीएल के टाइटल स्‍पांसरशिप राइट्स (IPL Title Sponsorship Rights) हासिल करने की दौड़ में टाटा और पतंजलि के अलावा एजुकेशन टेक्‍नोलॉजी कंपनी अनएकेडमी (Unacademy) और फैंटसी स्‍पोर्ट्स प्‍लेटफॉर्म ड्रीम-11 (Dream 11) भी शामिल हैं. ये सभी कपंनियां चीन की मोबाइल फोन कंपनी वीवो (Vivo) की जगह लेने की कोशिश करेंगी.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) को स्‍पांसर करने की रेस में बाबा रामदेव की पंतजलि (Patanjali) के बाद मल्‍टीनेशनल दिग्‍गज टाटा समूह (Tata Group) भी शामिल हो गया है. टाटा समूह ने इस साल होने वाले आईपीएल के टाइटल स्‍पांसरशिप राइट्स (IPL Title Sponsorship Rights) के लिए इच्‍छा जाहिर की है. समूह ने इसके लिए बीसीसीआई (BCCI) को 'एक्‍सप्रेशन ऑफ इंटरेस्‍ट' (EOI) सौंप दिया है.

    19 सितंबर से 10 नवंबर तक यूएई में होगा आईपीएल 2020
    टाटा और पतंजलि के अलावा इस दौड़ में एजुकेशन टेक्‍नोलॉजी कंपनी अनएकेडमी (Unacademy) और फैंटसी स्‍पोर्ट्स प्‍लेटफॉर्म ड्रीम-11 (Dream 11) भी शामिल हैं. ये सभी कपंनियां चीन की मोबाइल फोन कंपनी वीवो (Vivo) की जगह लेने की कोशिश करेंगी. बीसीसीआई को ईओआई सौंपने की आखिरी तारीख 14 अगस्‍त 2020 थी. इस बार आईपीएल 19 सितंबर से 10 नंवबर के बीच यूएई (USE) में आयोजित होगा.

    ये भी पढ़ें- आपके भी हैं एक से ज्यादा Bank Account तो हो जाएं सावधान! वरना हो सकता है नुकसान

    जीतने वाले को 4 महीने 13 दिन के लिए ही मिलेंगे स्‍पांसरशिप राइट्स
    बोली में जीतने वाले (Winning Bidder) के पास 4 महीने और 13 दिन तक आईपीएल टाइ‍टल स्‍पांसरशिप राइट्स होंगे. इस रेस में टाटा समूह के शामिल होने से 18 अगस्‍त को होने वाली बोली की लड़ाई काफी रोमांचक हो गई है. बीसीसीआई को उम्‍मीद है कि कम अवधि के बाद भी इस साल की बोली Vivo के 440 करोड़ रुपये के सालाना अनुबंध (Contract) से कम नहीं होगी. टाटा समूह के एक प्रवक्‍ता ने पुष्टि की है कि समूह ने आईपीएल टाइटल राइट्स के लिए एक्‍सप्रेशन ऑफ इंट्रेस्‍ट दाखिल कर दिया है.

    ये भी पढ़ें- ...तो क्या अब पुराना Gold और जूलरी बेचने पर देना होगा GST? जानिए क्या है मामला

    अंतिम बोली 18 अगस्‍त को सुबह 11 से दोपहर 1 बजे तक भेजनी है
    बीसीसीआई के एक सूत्र ने बताया कि अनएकेडमी और ड्रीम-11 पहले ही ईओआई सौंप चुकी हैं. एक अधिकारी ने बताया कि अभी कंपनियों ने बोली की रकम ईओआई में नहीं खोली है. इसके बारे में 18 अगस्‍त को जानकारी सामने आएगी. ईओआई की डिलिवरी के बाद बीसीसीआई इच्‍छुक थर्ड पार्टी को राइट्स, प्रोडक्‍ट कैटेगरीज और एनटाइटलमेंट्स के बारे में जानकारी देगा. बीसीसीआई के मुताबिक, अंतिम बोली 18 अगस्‍त 2020 को सुबह 11 बजे से दोपहर 1 बजे के बीच eoi@bcci.tv ई-मेल आईडी पर भेजी जानी हैं.

    ये भी पढ़ें- एक से दूसरे शहर में Gold ले जाने के लिए जरूरी होगा ये बिल! जानिए पूरा मामला

    सबसे ऊंची बोलीदाता को ही टाइटल स्‍पांसरशिप मिलना जरूरी नहीं
    इन सभी कंपनियों के अलावा अरबपति उद्यमी मुकेश अंबानी की जियो कम्‍युनिकेशंस (Jio Communications) के भी इस रेस में शामिल होने की सूचना है. हालांकि, बीसीसीआई ने अभी तक पतंजलि और जियो के रेस में शामिल होने की पुष्टि नहीं की है. बोर्ड ने साफ कर दिया है कि सबसे ऊंची बोली लगाने वाले को ही टाइटल स्‍पांसरशिप मिलना जरूरी नहीं है. इसके लिए बोलीदाता की ओर से आईपीएल के लिए पेश किया जाने वाला प्‍लान भी शानदार होना जरूरी है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.