• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • IPO Update: पॉलिसी बाजार लाएंगी IPO, जुलाई में फाइल कर सकती है पेपर, जानिए डिटेल

IPO Update: पॉलिसी बाजार लाएंगी IPO, जुलाई में फाइल कर सकती है पेपर, जानिए डिटेल

  upcoming IPO

upcoming IPO

Online Insurance Policy बेचने वाली कंपनी पॉलिसी बाजार (Policybazaar) की जल्द ही आईपीओ (IPO) लाने की योजना है. कंपनी इस आईपीओ के लिए जुलाई में सेबी में पेपर दाखिल कर सकती है. नवंबर दिसंबर में यह आईपीओ बाजार में आ सकता है.

  • Share this:
    मुंबई . Online Insurance Policy बेचने वाली कंपनी पॉलिसी बाजार (Policybazaar) की जल्द ही आईपीओ (IPO) लाने की योजना है. कंपनी इस आईपीओ के लिए जुलाई में सेबी में पेपर दाखिल कर सकती है. नवंबर दिसंबर में यह आईपीओ बाजार में आ सकता है. इस आईपीओ के लिए कंपनी ने अपना वैल्यूएशन 4-5 अरब डॉलर आंका है, जो पहले के आकलन से ज्यादा है.
    सूत्रों का कहना है कि इस साल इस आईपीओ का सबको इंतजार है. इस आईपीओ के लिए पॉलिसी बाजार के पैरेंट Etech Aces Marketing and Consulting Pvt Ltd से अपने बोर्ड से मंजूरी की जरूरत होगी. उम्मीद है कि कंपनी की अगले हफ्ते बोर्ड मीटिंग होगी. जिसमें मंजूरी मिल जाएगी. उसके बाद इस आईपीओ से संबंधित DRHP सेबी में जमा किया जाएगा.

    यह भी पढ़ें- इन Cryptocurrencies में निवेश करने वाले मालामाल हुए, 10,000 रुपए एक साल में 16 लाख रुपए हुआ, जानिए डिटेल

    कंपनी आईपीओ के जरिए 40-50 करोड़ डॉलर जुटाना चाहती है

    सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, इस आईपीओ के जरिए कंपनी 40-50 करोड़ डॉलर जुटाना चाहती है. इस आईपीओ में शेयरों की प्राइमरी और सेकेंडरी दोनों तरह की बिक्री होगी. यानी यह आईपीओ फ्रेश इश्यू और ऑफर फॉर सेल का मिश्रण होगा.

    इसी महीने दाखिल होगा IPO पेपर
    मामले से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि कंपनी पहले ही आईपीओ के लिए आवेदन करना चाहती थी, लेकिन कोरोना की दूसरी लहर के कारण उसकी योजना में दखल पड़ गया. कंपनी की फाइनेंशियल और लीगल टीम इसी महीने DRHP दाखिल करने के लिए इनवेस्टमेंट बैंकरों के साथ काम कर रही है. अगले कुछ हफ्तों में हमें सेबी में पेपर दाखिल करने की खबर मिल सकती है.

    यह भी पढ़ें- Xiaomi का स्मार्ट टीवी, स्मार्टफोन खरीदना आज से होगा महंगा, जानिए कितनी बढ़ेंगी कीमतें

    साल 2008 में कंपनी की स्थापना हुई थी

    बता दें कि पॉलिसी बाजार की स्थापना 2008 में यशीश दहिया ने की थी. यशीश दहिया सेना की पृष्ठ भूमि से हैं. वो खुद भी सेना जॉइन करना चाहते थे. यशीश दहिया ने डोकलाम गतिरोध के समय चीनी निवेश से मना कर दिया था. भारत और चीन के बीच बढ़ते राजनीतिक तनाव को देखते हुए वे कंपनी में चीनी निवेशक टेनसेंट की हिस्सेदारी को भी खरीदना चाहते थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज