लाइव टीवी

इकबाल मिर्ची कनेक्‍शन: ED ने DHFL के सीएमडी कपिल वधावन को किया गिरफ्तार

News18Hindi
Updated: January 27, 2020, 7:52 PM IST
इकबाल मिर्ची कनेक्‍शन: ED ने DHFL के सीएमडी कपिल वधावन को किया गिरफ्तार
ईडी ने नवंबर में कपिल वधावन की कंपनी डीएचएफएल के कई ठिकानों पर छापेमारी भी की थी.

नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) की मुंबई बेंच ने होम लोन देने वाली कंपनी डीएचएफएल (DHFL) के खिलाफ दिवालिया (Bankrupt) कार्रवाई के लिए दायर मामला स्‍वीकार कर लिया था. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने कंपनी के कर्ज और क्रेडिट संकट के हल के लिए आवेदन दायर किया था. कपिल वधावन (Kapil Wadhawan) को अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम (Dawood Ibrahim) के करीबी इकबाल मिर्ची (Iqbal Mirchi) के खिलाफ चल रहे मनी लॉन्ड्रिंग केस के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 27, 2020, 7:52 PM IST
  • Share this:
मुंबई. प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (DHFL) के चेयरमैन व मैनेजिंग डायरेक्‍टर कपिल वधावन (Kapil Wadhawan) को गिरफ्तार कर लिया है. कपिल वधावन को अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम (Dawood Ibrahim) के करीबी इकबाल मिर्ची (Iqbal Mirchi) के खिलाफ चल रहे मनी लॉन्ड्रिंग केस के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है. नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) की मुंबई बेंच ने होम लोन देने वाली कंपनी डीएचएफएल के खिलाफ दिवालिया (Bankrupt) कार्रवाई के लिए दायर मामला स्‍वीकार कर लिया था. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने कंपनी के कर्ज और क्रेडिट संकट के हल के लिए आवेदन दायर किया था.

लंबे समय से नकदी संकट से जूझ रही है डीएचएफएल
डीएचएफएल वित्‍तीय क्षेत्र की ऐसी पहली कंपनी है, जिसके खिलाफ दिवालिया और मनी लॉन्ड्रिंग (Money Laundering) के मामले में कार्रवाई शुरू की गई है. डीएचएफएल लंबे समय से नकदी संकट (Cash Crunch) से जूझ रही है. केंद्रीय बैंक ने 20 नवंबर को कंपनी के निदेशक मंडल को भंग करके प्रशासक की नियुक्ति कर दी थी. इससे पहले ईडी ने नवंबर में इकबाल मिर्ची से संबंधों को लेकर कपिल वधावन से पूछताछ की थी. कपिल के अलावा उनके भाई धीरज का नाम भी इकबाल मिर्ची की संपत्तियों के सौदों के सिलसिले में गिरफ्तार किए गए अभियुक्तों ने लिया था. धीरज डीएचएफएल के गैर-कार्यकारी निदेशक हैं.  ये भी पढ़ें: मोदी सरकार के एक फैसले से चीन समेत 4 देशों को लग सकता है तगड़ा झटका!



गिरफ्तार आरोपियों ने लिया धीरज वधावन का भी नाम
इकबाल मिर्ची की संपत्तियों के सौदों के सिलसिले में गिरफ्तार आरोपी हुमायूं मर्चेंट और रणजीत सिंह बिंद्रा से पूछताछ के दौरान धीरज वधावन (Dheeraj Wadhawan) का नाम सामने आया था. बिंद्रा को मुंबई के वर्ली में सनब्लिंक रियल एस्टेट (Sunblink Real Estate) और इकबाल मिर्ची के बीच तीन संपत्तियों के लिए सौदा करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. बिंद्रा ने हवाला के जरिये मिर्ची से दलाली के तौर पर करीब 30 करोड़ रुपये लिए थे. वहीं, वर्ली में संपत्तियों के नकली दस्तावेज (Fake Documents) बनाने के लिए मर्चेंट को गिरफ्तार किया गया था. इसमें उसके परिवार के सदस्य और रिश्तेदार भी शामिल थे.

ईडी ने नवंबर में डीएचएफएल के ठिकानों पर मारे थे छापेईडी ने डीएचएफएल के एक दर्जन से ज्‍यादा ठिकानों पर छापे मारे थे. इसमें कंपनी के दफ्तर और इसके प्रमोटरों के आवास शामिल थे. यह छापेमारी इकबाल मिर्ची से जुड़ी कंपनी को कर्ज देने के मामले में की गई थी. ईडी जांच कर रहा है कि क्या मनी लान्ड्रिंग के तहत सनब्लिंक की ओर से इकबाल मिर्ची के विदेशी खातों में 2,186 करोड़ रुपये भेजे गए. ईडी ने 11 अक्‍टूबर, 2019 को मिर्ची के दो सहयोगियों हारून यूसुफ और रंजीत बिंद्रा को गिरफ्तार किया था. तब वित्तीय जांच एजेंसी ने मुंबई की एक अदालत को बताया था कि डीएचएफएल ने इकबाल मिर्ची से जुड़ी कंपनी सनब्लिंक रियल एस्टेट प्राइवेट लिमिटेड को तीन संपत्तियों पर 2,186 करोड़ रुपये कर्ज दिया था.

ये भी पढ़ें:

जानिए आपकी जेब पर कितना असर डालेगा चीन का जानलेवा कोरोनावायरस!

2024 तक हटा दिए जाएंगे सभी डीजल इंजन, इलेक्ट्रिसिटी से चलेंगी 100% ट्रेनें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 27, 2020, 7:43 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर