लाइव टीवी

इस वजह से शुरू नहीं हुई 60 दिन से बंद तेजस प्राइवेट ट्रेन!

News18Hindi
Updated: May 22, 2020, 7:05 PM IST
इस वजह से शुरू नहीं हुई 60 दिन से बंद तेजस प्राइवेट ट्रेन!
तेजस प्राइवेट ट्रेन

इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) देश में तेजस एक्सप्रेस जैसी प्राइवेट ट्रेन चलाती है. इनमें एक तेजस लखनऊ से दिल्ली के बीच चलती है, जबकि दूसरी अहमदाबाद से मुंबई के बीच चलती है. ये सभी ट्रेनें 22 मार्च से बंद है.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय रेलवे (Indian Railway) की सब्सिडियरी इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC-Indian Railway Catering And Tourism Corporation) मई में प्राइवेट ट्रेन (Private Train) तेजस एक्सप्रेस (Tejas Express) शुरू नहीं होंगी. IRCTC के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, जिन रूट्स पर ये प्राइवेट ट्रेनें चलती हैं. वो कोरोना वायरस (Coronavirus) के हॉटस्पॉट हैं. इसलिए फिलहाल इन रूट्स पर प्राइवेट ट्रेनें शुरू नहीं होंगी. आपको बता दें कि प्राइवेट ट्रेनें तेजस एक्सप्रेस दिल्ली-लखनऊ, अहमदाबाद-मुंबई और वाराणसी-इंदौर के बीच शुरू की गई थी. लेकिन कोरोना वायरस महामारी के बाद 22 मार्च से इन ट्रेनों का परिचालन बंद है. बता दें कि प्राइवेट ट्रेनों का परिचालन आईआरसीटीसी करती है.

IRCTC के सूत्रों ने बाताया कि ट्रेनों को शुरू करने के लिए अभी सरकार की ओर मंजूरी नहीं मिली है. इसलिए आईआरसीटीसी इनका परिचालन अभी शुरू नहीं करेगी.

इन रूट्स पर चलती हैं प्राइवेट ट्रेन-देश की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस लखनऊ से दिल्ली रूट पर चली. इसके बाद दूसरी प्राइवेट ट्रेन अहमदाबाद-मुंबई रूट पर शुरू हुई. तीसरी प्राइवेट ट्रेन वाराणसी से इंदौर के लिए शुरू हुई .



आपको बता दें कि रेलवे ने 100 जोड़ी पैसेंजर ट्रेन की लिस्ट जारी की, जो 1 जून से चलेंगी. इनमें दूरंतो, संपर्क क्रांति, जन शताब्दी और पूर्वा एक्सप्रेस जैसी लोकप्रिय ट्रेनें भी शामिल हैं.



इससे पहले जारी एक बयान में रेलवे ने कहा था कि ये ट्रेनें पूरी तरह से वातानुकूलित होंगी. इन ट्रेनों में एसी और नॉन-एसी, दोनों तरह के कोच होंगे जो पूरी तरह रिजर्व्ड होंगे. यानी इन ट्रेनों में कोई भी कोच अनरिजर्व्ड नहीं होगा. इन ट्रेनों का किराया साामन्य होगा.

रिजर्व्ड जनरल कोच के लिए सेकंड क्लास की बैठने वाली सीट का किराया लिया जाएगा.इन ट्रेनों के लिए ई टिकट आईआरसीटीसी की वेबसाइट या मोबाइल ऐप से ही जारी किए गए जाएंगे. इनके लिए रिजर्वेशन सेंटर्स या रेलवे स्टेशनों से कोई टिकट जारी नहीं किया जाएगा. अडवांस रिजर्वेशन अवधि अधिकतम 30 दिन रहेगी तथा वर्तमान नियमों के तहत RAC और वेटिंग लिस्ट बनेगी. वेटिंग टिकट धारकों को ट्रेन में चढ़ने की अनुमति नहीं होगी. इन ट्रेनों के लिए कोई अनरिज़र्व्ड टिकट नहीं जारी किए जाएंगे और ना ही ट्रेन पर सवार होने के बाद कोई टिकट दिया जाएगा.

 

(दिपाली नंदा, संवाददाता- CNBC आवाज़)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 22, 2020, 7:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading