आयकर विभाग ने मुंबई में मोबाइल एसेसरीज डीलरों के ठिकानों पर की छापेमारी, 200 करोड़ की ब्लैकमनी मिलने का दावा

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (IT Department) के मुताबिक, 200 करोड़ रुपये से ज्यादा की बेहिसाब संपत्ति (Undisclosed Property) के अलावा 5.89 करोड़ रुपये की नकदी भी जब्त की गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 20, 2021, 8:05 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मुंबई में आयकर विभाग (Income Tax Department) ने बड़ी कार्रवाई की है. दरअसल, आयकर विभाग ने मुंबई के मोबाइल एसेसरीज डीलरों पर छापेमारी में 200 करोड़ रुपये से ज्यादा की बेहिसाब संपत्ति (Undisclosed Property) का पता लगाया है. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड यानी सीबीडीटी (Central Board of Direct Taxes) ने शनिवार को यह जानकारी दी.

इन डीलरों ने चीन से आयात के मूल्य को कम कर दिखाया था. सीबीडीटी ने कहा, ''इस अभियान से पता चलता है कि मोबाइल एसेसरीज कारोबार का लगभग पूरा क्षेत्र 'बेहिसाबी' है. मुख्य कलपुर्जों का आयात मुंबई और चेन्नई बंदरगाह के जरिए चीन से होता है.''

ये भी पढ़ें- खुशखबरी: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने वालों को अब 7 लाख रुपये देगी मोदी सरकार, ऐसे करें अप्लाई

बिक्री और खरीद को कम कर दिखा रहे थे डीलर
बयान में कहा गया है कि छापेमारी से यह बात सामने आई कि डीलर बिक्री और खरीद को कम कर दिखा रहे थे. जांच में यह भी पता चला कि चीन के व्यापारियों से लेनदेन वी-चैट ऐप के जरिए किया गया. विभाग ने फॉरेंसिक के जरिये वी-चैट संदेश पकड़े हैं. इन सूचनाओं के जरिये चीन से आयात की मात्रा और लागत का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें- Big News: UP, बिहार, झारखंड और पं. बंगाल जाने वाली इन 48 स्पेशल ट्रेनों के परिचालन में हुआ विस्तार, यहां देखें पूरी लिस्ट

5.89 करोड़ रुपये की बेहिसाबी नकदी जब्त



सीबीडीटी ने कहा कि छापेमारी के दौरान 5.89 करोड़ रुपये की बेहिसाबी नकदी जब्त की गई. छापेमारी के दौरान करीब 270 करोड़ रुपये की बेहिसाबी कमाई का पता चला है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज