इनकम टैक्स रिटर्न भरने की तारीख बढ़ी, अब 31 अगस्त तक मौका

इनकम टैक्स रिटर्न भरने की तारीख बढ़ी, अब 31 अगस्त तक मौका
अब 31 अगस्त तक फाइल कर सकेंगे ITR

वित्त मंत्रालय ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिए इनकम टैक्स रिटर्न (Income Tax Return) भरने की तारीख आगे बढ़ा दी है. अब आप 31 अगस्त 2019 तक अपने रिटर्न फाइल कर सकेंगे.

  • Share this:
वित्त मंत्रालय ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिए इनकम टैक्स रिटर्न (Income Tax Return) भरने की तारीख आगे बढ़ा दी है. अब आप 31 अगस्त 2019 तक अपने रिटर्न फाइल कर सकेंगे. पहले ITR भरने की आखिरी तारीख 31 जुलाई 2019 थी. इससे अब लोगों को एक महीने का अतिरिक्त समय मिल गया है. केंद्र सरकार की और से केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने यह फैसला लिया है.

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए इंडिविजुअल्स, हिंदू अविभाजित परिवारों (HUF) और जिन लोगों के खातों की ऑडिटिंग की जरूरत नहीं है, इन तीनों ही वर्गों के लिए आखिरी तारीख 31 अगस्त 2019 हो गई है. लेकिन कंपनी और कंपनी के वर्किंग पार्टनर्स जैसे अन्य वर्गों के लिए 31 जुलाई आखिरी तारीख नहीं है.

इसलिए बढ़ी रिटर्न भरने की तारीख
दरअसल, इस साल CBDT ने TDS रिटर्न (फॉर्म 24Q) की आखिरी तारीख 31 मई 2019 से बढ़ाकर 20 जून 2019 कर दिया था. इसके साथ ही फॉर्म 16 जारी करने की आखिरी तारीख 15 जून 2019 से बढ़ाकर 10 जुलाई 2019 कर दिया था. इससे पहले 24Q फॉर्म फाइल करने की आखिरी तारीख 31 मई थी. अब इसे बढ़ाकर 30 जून कर दिया गया था. इससे कर्चमारियों को आईटीआर भरने के लिए फॉर्म 16 मिलने में देरी हुई. उनको 31 जुलाई 2019 तक रिटर्न फाइल करने के लिए सिर्फ 21 दिन का समय मिला.




आखिरी तारीख चूके तो इतना देना होगा जुर्माना
अगर कोई टैक्सपेयर्स अंतिम तारीख तक ITR फाइल नहीं करता है तो उसे जुर्माना देना पड़ेगा. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के मुताबिक, 31 अगस्त 2019 के बाद 31 दिसंबर 2019 तक, ITR फाइल करते हैं तो 5,000 रुपये का जुर्माना लगेगा. अगर आप 1 जनवरी 2020 से 30 मार्च 2020 तक आईटीरआर फाइल करते हैं तो आप 10 हजार रुपये का जुर्माना लगेगा. जिनकी इनकम 5 लाख रुपये से कम है, उनको लेट फाइन के तौर 1,000 रुपये देने होंगे.

ये भी पढे़ं: 

इनकम टैक्स भरने के बाद जरूरी है वेरिफाई करना! जानें यहां

IT डिपार्टमेंट का मैसेज, 50 लाख तक है सैलरी तो रिटर्न के लिए भरें ये फॉर्म
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज