Home /News /business /

itr refund how to check refund status on new income tax e filing portal kcnd

Income Tax Refund : अब तक नहीं आया रिफंड तो नए e-Filling Portal पर चेक कर सकते हैं स्टेटस

टैक्सपेयर का इनकम टैक्स किसी वित्त वर्ष में उसके अनुमानित इन्वेस्टमेंट दस्तावेज के आधार पर एडवांस काट लिया जाता है.

टैक्सपेयर का इनकम टैक्स किसी वित्त वर्ष में उसके अनुमानित इन्वेस्टमेंट दस्तावेज के आधार पर एडवांस काट लिया जाता है.

Income Tax Refund : अगर आपने समय पर इनकम टैक्स रिटर्न भर दिया है तो आप रिफंड पाने के योग्य हैं. अगर आपकी कंपनी ने ज्यादा टीडीएस काट लिया है या बैंक ने आपकी डिपॉजिट रकम पर मिले ब्याज पर अधिक टीडीएस की कटौती कर ली है तो आप रिफंड के लिए दावा कर सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. अगर आपने समय पर इनकम टैक्स रिटर्न भर दिया है तो आप रिफंड पाने के योग्य हैं. अगर आपकी कंपनी ने ज्यादा टीडीएस काट लिया है या बैंक ने आपकी डिपॉजिट रकम पर मिले ब्याज पर अधिक टीडीएस की कटौती कर ली है तो आप रिफंड के लिए दावा कर सकते हैं.

सेबी में रजिस्टर्ड टैक्स एवं इन्वेस्टमेंट एक्सपर्ट जितेंद्र सोलंकी का कहना है कि ऐसा कोई आईटीआर फॉर्म नहीं है, जिसे कोई इनकम टैक्स रिफंड भर सकता है और क्लेम कर सकता है. एक टैक्सपेयर को नियत तारीख के भीतर अपना आईटीआर दाखिल करना होगा और इसके बाद ही वह आईटीआर रिफंड पर पूरा ब्याज प्राप्त कर सकता है. इसके बाद इनकम टैक्स डिपार्टमेंट एसेसमेंट ईयर के लिए भरे गए रिटर्न की जांच करेगा. जांच में अगर पाया जाता है कि आपका टीडीएस ज्यादा कटा है या आपने हायर एडवांस टैक्स जमा किया है तो आपके खाते में अपने आप रिफंड आ जाएगा.

ये भी पढ़ें- हैरानी! जिस पर महंगाई की ज्‍यादा मार देश में वही खरीद रहा सबसे अधिक सोना, कहीं आपकी बात तो नहीं हो रही

ऑनलाइन ऐसे चेक कर सकते हैं आईटीआर रिफंड
-सबसे पहले नए इनकम टैक्स ई-फाइलिंग पोर्टल incometax.gov.in/iec/foportal पर लॉग इन कर नाहोगा.
-इसके बाद आपको अपनी आईडी, पासवर्ड और कैप्चा डालना होगा.
-View Returns/Forms का चुनाव करें.
-इसके बाद ड्रॉप डाउन मेन्यू में जाकर Income Tax Return विकल्प का चयन करें.
-सही एसेसटमेंट ईय़र भरें.
-Submit Option पर क्लिक करें
-इसके बाद ड्रॉप डाउन मेन्यू में जाकर Acknowledgement Number का चयन करें.
-यहां आपको Refund Status की जानकारी मिल जाएगी.

ये भी पढ़ें- न कार्ड न कैश, बस हाथ के इशारे से करिए पेमेंट! ये है फ्यूचर की टेक्नोलॉजी

NSDL की वेबसाइट पर चेक करें
आप www.incometaxindia.gov.in या www.tin nsdl.com पर ऑनलाइन अपने रिफंड का स्टेटस पता कर सकते हैं.
-इनमें से किसी भी वेबसाइट पर लॉनिग करें और Status of Tax Refunds टैब पर क्लिक करें.
-अपना पैन नंबर और एसेसमेंट ईयर डालें जिस साल के लिए रिफंड पेंडिंग है.
-अगर डिपार्टमेंट ने रिफंड प्रोसेस कर दिया है तो आपको एक मेसेज मिलेगा मोड ऑफ पेमेंट, रेफरेंस नंबर, स्टेटस और रिफंड की तारीख का जिक्र होगा.
-अगर रिफंड प्रोसेस नहीं हुआ है या नहीं दिया गया है तो वैसा मेसेज आएगा.

क्या होता है टैक्स रिफंड?
टैक्सपेयर का इनकम टैक्स किसी वित्त वर्ष में उसके अनुमानित इन्वेस्टमेंट दस्तावेज के आधार पर एडवांस काट लिया जाता है. लेकिन जब वित्त वर्ष के अंत तक वह फाइनल कागजात जमा करता है, तब अगर हिसाब करने पर उसे यह मिलता है कि उसका टैक्स ज्यादा कट गया है और उसे इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से पैसे वापस लेने हैं तो वह इसके लिए आईटीआर दाखिल कर रिफंड के लिए अप्लाई करता है.

Tags: Income tax, IT refund, ITR, Taxpayer

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर