जनधन खाताधारकों के लिए जरूरी खबर! अगर किया ये काम तो देना पड़ेगा जुर्माना

जनधन खाताधारक हो जाएं सावधान!

जनधन खाताधारक हो जाएं सावधान!

JanDhan Account: बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट अकाउंट होल्डर्स अगर फ्री सीमित लेन-देन से ज्यादा पैसों का ट्रांजेक्शन करेंगे तो आप पर जुर्माना लगा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 14, 2021, 8:24 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: केंद्र सरकार की ओर से देश की जनता के लिए जनधन अकाउंट की सुविधा दी जाती है. अगर आपने भी जनधन अकाउंट (JanDhan Account) के तहत बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट अकाउंट ओपन करा रखा है तो यह आपके लिए जरूरी खबर है. वैसे तो यह जीरो बैलेंस खाता होता है, लेकिन हां अगर एक बात का ध्यान नहीं रखा तो खाताधरकों पर जुर्माना लग सकता है. आइए आपको बताते हैं आखिर किन खाताधारकों पर और कब जुर्माना लग सकता है.

आपको बता दें बैंक जीरो बैलेंस के लिए चार्ज की वसूली नहीं करती है, लेकिन अगर आप फ्री सीमित लेन-देन से ज्यादा पैसों का ट्रांजेक्शन करेंगे तो आप पर जुर्माना लगा सकता है. बैंक ऐसा बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट अकाउंट्स (बीएसबीडीए) खाताधारकों के साथ कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें: Pm Kisan: पीएम किसान निधि को लेकर है कोई भी समस्या तो इन नंबरों पर करें कॉल, तुरंत होगा समाधान

कितना लगेगा जुर्माना
अगर आपने जनधन योजना के तहत बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट अकाउंट (BSBDA) खुलवाया है तो आप मंथली सिर्फ 4 बार लेनदेन कर सकते हैं. इससे ज्यादा लेनदेन करने पर आप पर बैंक की ओर से जुर्माना लगाया जाता है. बता दें ग्राहकों पर प्रति ट्रांजेक्शन 20 रुपये का जुर्माना लगता है और खास बात यह है कि बैंक यूपीआई और किसी भी तरह से किए गए डिजिटल लेनदेन को भी इसमें शामिल कर रहे हैं.

SBI और PNB ने की इतनी वसूली

देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक इस तरह के खातों पर 17.70 रुपये चार्ज के रूप में वसूलता है. एसबीआई ने वित्त वर्ष 2014-15 से 2019-20 तक 5 सालों के दौरान करीब 12 करोड़ बीएसबीडीए खाताधारकों से लगभग 300 करोड़ रु वसूले हैं. वहीं, पंजाब नेशनल बैंक ने 3.9 करोड़ बीएसबीडी खाताधारकों से इसी अवधि के दौरान 9.9 करोड़ रुपये वसूले हैं.



आईआईटी बॉम्बे की एक स्टडी में यह खुलासा हुआ है कि भारतीय स्टेट बैंक सहित ज्यादातर बैंक इन खातों से पेनाल्टी, सर्विस चार्ज आदि के द्वारा भारी कमाई कर रहे हैं.

जनधन अकाउंट के फायदे:

>> 6 महीने बाद ओवरड्राफ्ट सुविधा

>> 2 लाख रुपये तक एक्सिडेंटल इंश्योरेंस कवर

>> 30,000 रुपये तक का लाइफ कवर, जो लाभार्थी की मृत्यु पर योगयता शर्ते पूरी होने पर मिलता है.

>> डिपॉजिट पर ब्याज मिलता है.

>> खाते के साथ फ्री मोबाइल बैंकिंग की सुविधा भी दी जाती है.

>> जन धन खाता खोलने वाले को रुपे डेबिट कार्ड दिया जाता है जिससे वह खाते से पैसे निकलवा सकता है या खरीददारी कर सकता है.

>> जनधन खाते के जरिए बीमा, पेंशन प्रोडक्ट्स खरीदना आसान है.

>> जनधन खाता है तो पीएम किसान और श्रमयोगी मानधन जैसी योजनाओं में पेंशन के लिए खाता खुल जाएगा.

>> देश भर में पैसों के ट्रांसफर की सुविधा

>> सरकारी योजनाओं के फायदों का सीधा पैसा खाते में आता है.

यह भी पढ़ें: सरकार की ये 3 स्कीम कराएंगी हर महीने कमाई, रिटायरमेंट के बाद भी रहेंगे टेशन फ्री, मिलेगा डबल फायदा

ताजा आंकड़ों के मुताबिक, जनधन खातों की संख्या 42 करोड़ से अधिक हो गई है. इनमें सरकारी बैंकों में 33.23 करोड़, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों में 7.52 करोड़ और प्राइवेट बैंकों में 1.25 करोड़ खाते खुले हैं. कुल जनधन खाताधारकों में महिलाओं की संख्या 23.27 करोड़ है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज