• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Work From Home : यहां Office आकर काम करने वालों को मिलती है ज्यादा सेलरी, जानें क्यों और कैसे?

Work From Home : यहां Office आकर काम करने वालों को मिलती है ज्यादा सेलरी, जानें क्यों और कैसे?

 work from home

work from home

जापानी कंपनी का अनूठा वर्क फ्रॉम होम नियम: घर से काम करने वाले ऑफिस आने वालों को सेलरी का एक हिस्सा देते हैं

  • Share this:
    जापान (Japan) की सेमीकंडक्टर उपकरण बनाने वाली कंपनी डिस्को कॉर्प ( Disco Corp) ने कोरोना महामारी वर्क फ्रॉम सिस्टम के लिए अनूठा नियम निकाला है. कंपनी में वर्क फ्रॉम होम यानी घर से काम करने वाले कर्मचारी ऑफिस आने वाले एम्प्लाईयों को अपनी सेलरी का एक हिस्सा पैसा देते हैं. कहा जाता है कि ऑफिस जाने वाले लोग बहादुर हैं और यह पैसा उनका पुरस्कार है.

    यह भी पढ़ें- GR Infraprojects IPO: सात जुलाई को लॉन्च होगा, पैसा लगाने से पहले जानें जरूरी बातें
    टोक्यो स्थित यह कंपनी इस तरह के अलग काम करने के मामले शुरू से आगे है. लगभग एक दशक पहले से यह कंपनी अपनी इंटरनल करेंसी चलाती है, जिसे विल (Will) कहते हैं. यहां सेल्स टीम सामान का उत्पादन करने के बदले फैक्ट्री मजदूरों को यह करेंसी देती है. जिसे वे इंजीनियरों को देकर प्रोडक्ट डिजाइन करवाते हैं. यहां तक की यहां ऑपिस डेस्क, पीसी औऱ मीटिंग रूम्स की भी कीमत है. जब खरीद बेच हो जाती है तो हर तिमाही इस करेंसी के बदले येन का भुगतान करती है.
    जब महामारी आई तब डिस्को के पास यह ऑप्शन नहीं था कि उसके सभी कर्मचारी घर से काम कर सकें. ऐसी स्थिति में कुछ लोगों को फैक्ट्री आना जरूरी था. तब कंपनी ने एक सिस्टम बनाया जिसमें घर से काम कर रहे एम्प्लाई ऑफिस आने वाले कर्मतारियों को एक निश्चिम राशि का भुगतान करते हैं. यह राशि फैक्ट्री आने वाले सभी लोगों बंट जाता है.

    यह भी पढ़ें- Mutual funds: इन तरीकों से पा सकते हैं सबसे बेहतर रिटर्न, जानिए ये तरीके
    डिस्को के सीईओ काजुमा सेकिया Kazuma Sekiya ने इंटरव्यू में कहा कि हमारे पास 5600 कर्मचारी है. अगर हम कुछ को फैक्ट्री बुलाते और कुछ को घर से काम करने की इजाजत देते तो यह गलत होता. हमने कंपनी करेंसी को behavioral incentives के रूप में ऑफर किया और यह चुनना कर्मचारी के ऊपर है.
    सेकिया के दादा जी ने 1937 में डिस्को की स्थापना की थी. एक वीडियो गेम से प्रेरण लेते हुए साल 2011 में यह सिस्टम लागू किया गया. कंपनी ओवरटाइम कम करने और गैरजरूरी मीटिंग घटाने का क्रेडिट Will को देती है. इसका परिणाम भी कंपनी मिला है. पिछले वित्त वर्ष में कंपनी ने रिकॉर्ड रेवेन्यू और मुनाफा अर्जित किया, जो इंडस्ट्री में सबसे ज्यादा है. पिछले पांच साल में कंपनी के शेयरों के दाम तीगुने से ज्यादा बढ़ चुके हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज