पेमेंट ऐप PayPay का IPO लाने की तैयारी! जापान के सॉफ्टबैंक की ऐसी है प्रोफाइल

QR कोड पेमेंट ऐप PayPay को 2018 में लॉन्च किया गया था

QR कोड पेमेंट ऐप PayPay को 2018 में लॉन्च किया गया था

PayPay को 2018 में लॉन्च किया गया था. इसके बाद से इसने लगभग चार करोड़ यूजर्स एक्वायर किए हैं. इस ऐप पर आकर्षक डिस्काउंट दिए जाते हैं जिससे इसके यूजर्स की संख्या तेजी से बढ़ी है.

  • Share this:

नई दिल्ली. QR कोड पेमेंट ऐप PayPay भी जल्द ही अपना आईपीओ ला सकता है. सॉफ्टबैंक की वायरलेस यूनिट के CEO जूनिची मियाकावा के अनुसार दुनिया के बड़े इनवेस्टमेंट ग्रुप में शामिल जापान का सॉफ्टबैंक (SoftBank) अपने पेमेंट ऐप PayPay को स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट कराना चाहता है.  PayPay को 2018 में लॉन्च किया गया था. इसके बाद से इसने लगभग चार करोड़ यूजर्स एक्वायर किए हैं. इस ऐप पर आकर्षक डिस्काउंट दिए जाते हैं जिससे इसके यूजर्स की संख्या तेजी से बढ़ी है. जापान में कंज्यूमर्स की ऑनलाइन पेमेंट करने में दिलचस्पी बढ़ने का भी इसे फायदा मिला है. पिछले महीने सॉफ्टबैंक कॉर्प के चीफ एग्जिक्यूटिव बने मियाकावा ने कहा, "हम आने वाले समय में PayPay का आईपीओ (IPO) लाना चाहते हैं जिससे यह अलग कंपनी बन सकेगा. मुझे नहीं लगता कि हम इससे बहुत दूर हैं. "जापान की बड़ी टेलीकॉम कंपनियों में से एक सॉफ्टबैंक की है और यह इनवेस्टर्स को बिजनेस के इस नए सेगमेंट की संभावनाओं को लेकर आश्वस्त करना चाहती है


ऑटोनॉमस ड्राइविंग पर फोकस कर रही है कंपनी

सॉफ्टबैंक फाइनेंशियल सर्विसेज देने के लिए PayPay ऐप का इस्तेमाल कर रहा है. इसकी योजना एशिया में चैट ऐप ऑपरेटर लाइन के जरिए बिजनेस बढ़ाने की है. इस ऐप ने हाल ही में कंपनी की इंटरनेट सब्सिडियरी Z होल्डिंग्स के साथ मर्जर पूरा किया है. लॉन्ग टर्म में सॉफ्टबैंक की योजना ऑटोनॉमस ड्राइविंग पर फोकस करने की है. इसने 2018 में ग्लोबल ऑटोमोबाइल कंपनी टोयोटा के साथ मिलकर एक ऑटोनॉमस ड्राइविंग प्लेटफॉर्म डिवेलप करने की घोषणा की थी. सॉफ्टबैंक ने बताया कि PayPay की ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्यू पिछले फाइनेंशियल ईयर में बढ़कर लगभग 29.4 अरब डॉलर पर पहुंच गई. 


ये भी पढ़ें - फेसबुक कर रहा है टेस्टिंग! आर्टिकल को शेयर करने से पहले उसे पढ़ना होगा जरूरी


सबसे बड़ी ऑटो पार्ट्स कंपनी के आईपीओ को मंजूरी

देश की सबसे बड़ी ऑटो पार्ट्स मैन्युफैक्चिंग कंपनी सोना बीएलडब्ल्यू प्रीसिजन फॉर्गिंग्स (Sona BLW Precision Forgings) यानी सोना कॉमस्टार (Sona Comstar) भी अपना आईपीओ (IPO) लॉन्च केगी. प्राइमरी मार्केट से 6000 करोड़ रुपए जुटाने के लिए मार्केट रेगुलेट सेबी (SEBI) से मंजूरी मिल गई हैआईपीओ के लिए के लिए सोना कॉमस्टार300 करोड़ रुपये का फ्रेश शेयर जारी करेगी. वहीं 5700 करोड़ रुपए के शेयर कंपनी के प्रमोटर्स और मौजूदा निवेशक ऑफर फॉर सेल (OFS) के जरिए जारी करेंगे. कंपनी ने फरवरी 2021 में आईपीओ के लिए सेबी के पास आवेदन किया था. कंपनी इस महीने के अंत में या अगले महीने IPO लॉन्च कर सकती है. गौरतलब है कि सोना कॉमस्टार का यह आईपीओ किसी भी ऑटो कंपोनेंट बनाने वाली भारतीय कंपनी का सबसे बड़ा पब्लिक इश्यू होगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज