जेट एयरवेज के शेयर ने एक दिन में दिया 150% का मुनाफा, जानें ऐसा क्या हुआ?

नकदी संकट की वजह से बंद हो चुकी एयरलाइन कंपनी जेट एयरवेज के शेयरों में 100 फीसदी से ज्यादा तेजी दर्ज की गई. कारोबार के दौरान एनएसई पर जेट का शेयर 150 फीसदी चढ़कर 82.75 रुपये के भाव पर पहुंच गया.

News18Hindi
Updated: June 20, 2019, 5:26 PM IST
जेट एयरवेज के शेयर ने एक दिन में दिया 150% का मुनाफा, जानें ऐसा क्या हुआ?
जेट एयरवेज के शेयर ने एक दिन में दिया 150% का मुनाफा
News18Hindi
Updated: June 20, 2019, 5:26 PM IST
नकदी संकट की वजह से बंद हो चुकी एयरलाइन कंपनी जेट एयरवेज (Jet Airways) के शेयरों में 100 फीसदी से ज्यादा तेजी दर्ज की गई. कारोबार के दौरान एनएसई पर जेट का शेयर 150 फीसदी चढ़कर 82.75 रुपये के भाव पर पहुंच गया. हालांकि कारोबार के अंत में एनएसई पर शेयर 122.21 फीसदी की बढ़त के साथ 73.55 रुपये पर बंद हुआ. इस तरह एक दिन में जेट एयरवेज के शेयर ने 150 फीसदी का मुनाफा दिया है. जानें, जेट के शेयर में तेजी आने की क्या है वजह?

जेट के शेयर में तेजी की है ये वजह
दरअसल, बंद हो चुकी एयरलाइन जेट एयरवेज का कोई खरीदार नहीं मिलने पर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) की अगुवाई वाला 26 बैंकों का समूह 8,500 करोड़ रुपये बकाये की वसूली के लिए जेट एयरवेज को नेशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल (NCLT) में ले गया है. मुंबई पीठ के समक्ष जेट के खिलाफ इन्वसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्टसी कोड (IBC) के तहत दर्ज मामले में आज फैसला आ सकता है. बाजार को लगता है कि फैसला जेट एयरवेज के लिए पॉजिटिव हो सकता है.

ये भी पढ़ें: बजट में नौकरी करने वालों को मिल सकती है बड़ी खुशखबरी!

150% तक उछला जेट का शेयर
हालांकि गुरुवार को कारोबार के दौरान जेट एयरवेज का शेयर 9.5 फीसदी की गिरावट के साथ 29.95 रुपये के भाव पर खुला था. लेकिन एनसीएलटी में मामले की सुनवाई शुरू होने की वजह से कारोबार के दौरान शेयर 150 फीसदी चढ़कर 82.75 रुपये के हाई पर पहुंच गया. वहीं कारोबार के अंत में एनएसई पर शेयर 122.21 फीसदी की बढ़त के साथ 73.55 रुपये पर बंद हुआ जबकि बीएसई पर जेट का शेयर 93.35 फीसदी की उछाल के साथ 64 रुपये के भाव पर क्लोज हुआ.

8500 करोड़ रुपये का कर्ज
Loading...

नकदी संकट के कारण जेट एयरवेज को बीते 17 अप्रैल को अपना परिचालन बंद करना पड़ा. विमानन कंपनी पर 8,500 करोड़ रुपये का कर्ज है और इसकी कुल देनदारी 25 हजार करोड़ रुपये है. जेट एयरवेज के ठप होने के बाद इसके 16 हजार से ज्यादा कर्मचारियों के सामने रोजगार का संकट खड़ा हो गया था. स्पाइसजेट ने जेट के कुछ कर्मचारियों को नौकरी दी थी. जेट एयरवेज के फाउंडर नरेश गोयल को इनकम टैक्स द्वारा कर चोरी के मामले में समन भेजा जा चुका है. वहीं, उन्हें हाल ही में पत्नी सहित विदेश जाने के दौरान ईडी के अधिकारियों ने रोक दिया था.

ये भी पढ़ें: 2 लाख रुपये हर महीने कमाने का हिट फॉर्मूला, करें ये बिजनेस

28 जून से जेट एयरवेज के शेयर की ट्रेडिंग पर पाबंदी
बता दें कि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) जेट एयरवेज के शेयरों की डेली ट्रेडिंग पर 28 जून से पाबंदी लगा देगा. जेट के कर्जदाता कंपनी के लिए नया खरीदार ढूंढ रहे हैं. इस पर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ने कहा है कि कंपनी अपने बारे में विभिन्न अफवाहों का जवाब देने में नाकाम रही है. जेट का जवाब स्पष्ट और संतोषजनक नहीं था. यह फैसला एक्सचेंजों ने संयुक्त रूप से लिया है और यह 28 जून से प्रभावी हो जाएगा.

आम बजट 2019 की सही और सटीक खबरों के लिए न्यूज18 हिंदी पर आएं. वीडियो और खबरों  के लिए यहां क्लिक करें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 20, 2019, 4:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...