संसदीय पैनल की बैठक में उठा कोविड-19 का मुद्दा, कहा- 10 करोड़ से ज्यादा नौकरियों पर पड़ा असर

संसदीय पैनल की बैठक में उठा कोविड-19 का मुद्दा, कहा- 10 करोड़ से ज्यादा नौकरियों पर पड़ा असर
COVID-19 के कारण नौकरी में हुआ नुकसान

संसदीय पैनल की बैठक में सदस्यों ने कहा, कोरोनो वायरस महामारी ने 10 करोड़ से ज्यादा नौकरियों को खतरे में डाल दिया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. सोमवार को हुई संसदीय दल की बैठक में कोविड-19 (COVID-19) से संबंधित महत्वपूर्ण मुद्दों को लेकर चर्चा की गई. पैनल ने कहा कि कोरोनो वायरस महामारी ने 10 करोड़ से ज्यादा नौकरियों को खतरे में डाल दिया है. इस बैठक में कई वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया. बिजनेस वर्ल्ड में छपी एक खबर के मुताबिक़, पैनल के सदस्यों ने बैठक में COVID-19 के कारण नौकरी में हुए नुकसान और स्टार्टअप को बढ़ावा देने की आवश्यकता के मुद्दों पर जोर दिया गया. उन्होंने कहा कि इस चुनौतीपूर्ण समय में उद्योग और आंतरिक व्यापार को बढ़ावा देने की जरूरत है.

आर्थिक पैकेज ने उद्योग जगत को दी राहत
पैनल ने कहा कि 20 लाख करोड़ रुपये के 'आर्थिक पैकेज' ने उद्योग को बढ़ी राहत दी है साथ ही 'आत्मनिर्भर भारत' अभियान के तहत अर्थव्यवस्था को मजबूत करने का मार्ग प्रशस्त करता है.

स्टार्टअप्स को बढ़ावा देने की कही बात
सूत्रों ने कहा कि बैठक में पैनल के कुछ सदस्यों ने COVID-19 के कारण लोगों को नौकरी में हुए नुकसान का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि नौकरी किसी भी गैर-व्यवसायिक परिवार के लिए एक बड़ी उम्मीद है. सूत्रों ने कहा कि कोरोनो वायरस महामारी ने 10 करोड़ से ज्यादा नौकरियों को खतरे में डाल दिया है. नौकरियां जाने और बेरोजगारी बढ़ने से अपराध में वृद्धि हो सकती है ऐसे में सरकार को रोजगार पैदा करने के नए-नए तरीकों से अवगत कराना चाहिए.



ये भी पढ़ें : चीन को झटका! भारत में सामान भेजना होगा ज्यादा मुश्किल, मार्च से लागू होगा रूल

पैनल की बैठक में 13 सदस्यों ने लिया भाग
संक्रमण को देखते हुए संसदीय पैनल की इस बैठक में 31 में से 13 सदस्यों ने भाग लिया. कुछ सदस्यों ने भारत-चीन के बीच संबंधों में तनाव के मद्देनजर चीनी उत्पादों पर निर्भर कंपनियों के लिए चीनी उत्पादों और वैकल्पिक स्रोतों पर प्रतिबंध की संभावना के बारे में भी सवाल किए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading