लाइव टीवी

EMI के चक्कर में भूल कर भी न करें ये गलती, खाली हो सकता है आपका बैंक अकाउंट

भाषा
Updated: April 9, 2020, 11:24 PM IST
EMI के चक्कर में भूल कर भी न करें ये गलती, खाली हो सकता है आपका बैंक अकाउंट
ई बैंकों ने पिछले कुछ दिन के दौरान ग्राहकों को इस बारे में एसएमएस और ईमेल भेजकर सतर्क किया है.

हाल ही में RBI ने 3 महीने तक EMI न जमा करने की छूट का विकल्प दिया था. अब धोखेबाज तथा साइबर अपराधी इसी के नाम पर ग्राहकों का बैंक अकाउंट साफ कर रहे हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. बैंकों ने कर्ज किस्त भुगतान (EMI) में दी गयी राहत का फायदा उठा सकने वाले ठगों को लेकर ग्राहकों को सतर्क किया है. बैंकों ने ग्राहकों से कहा है कि वे OTP और PIN जैसी संवदेनशील जानकारियां धोखेबाजों को बताने से बचें.एक्सिस बैंक, भारतीय स्टेट बैंक (SBI) समेत कई अन्य बैंकों ने पिछले कुछ दिन के दौरान ग्राहकों को इस बारे में एसएमएस और ईमेल भेजकर सतर्क किया है.

EMI से राहत के नाम पर ठगी
उन्होंने ग्राहकों को ठगी के इस नये तरीके के बारे में बताते हुए कहा कि धोखेबाज तथा साइबर अपराधी (Cyber Criminal) लोगों की बैंकिंग जानकारियां हासिल करने के लिये EMI राहत योजना का सहारा ले सकते हैं. एक्सिस बैंक (Axis Bank) ने ग्राहकों को भेजे ईमेल में कहा कि धोखेबाजों ने बैंकिंग जानकारियां हासिल करने के लिये ठगी का नया तरीका अपनाया है.

यह भी पढ़ें: सस्ता हुआ इस सरकारी बैंक से लोन लेना, जानें किस दर पर मिलेगा होम या ​ऑटो लोन



बैंकों ने किया सावधान


बैंक ने कहा, ‘‘ये ठग ईएमआई भुगतान टालने का जिक्र कर आपसे ओटीपी, सीवीवी, पासवर्ड और पिन आदि मांग सकते हैं. इनसे सतर्क रहिये. यदि आप ये जानकारियां बतायेंगे तो आपको चूना लग सकता है.’’ भारतीय स्टेट बैंक ने पांच अप्रैल को ट्वीट कर कहा कि साइबर अपराधी व ठग नये तरीके से लोगों को चूना लगा रहे हैं. इसे लेकर सतर्क और जागरुक रहिये.

बैंक ने कहा, ‘‘इस तरीके में ग्राहकों के पास फोन आता है और उनसे कहा जाता है कि ईएमआई भुगतान टालने के लिये ओटीपी बतायें. जैसे ही आप ओटीपी बताते हैं, आपके खाते से पैसे निकाल लिये जाते हैं.’’

यह भी पढ़ें: क्या खेती के लिए लॉकडाउन का समय ठीक नहीं? 7 साल के उच्चतम स्तर पर चावल का भाव

3 महीने के EMI से छूट का विकल्प
उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) से फैली महामारी के मद्देनजर लोगों को नकदी की कमी के संकट से बचाने के लिये विभिन्न बैंकों ने ग्राहकों को तीन महीने तक कर्ज की किस्तें चुकाने से छूट दी है. इससे पहले भारतीय स्टेट बैंक ने पीएम-केयर्स कोष (PM CARES Fund) में योगदान का सहारा लेकर की जा सकने वाली धोखाधड़ी के बारे में भी ग्राहकों को सतर्क किया था.

यह भी पढ़ें: दुनियाभर में Oyo Rooms ने अपने कर्मचारियों को बिना सैलरी के छुट्टी पर भेजा!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 9, 2020, 11:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading