Covid-19: कोरोना काल में कई कंपनियां दे रही मदद, किम्बर्ली-क्लार्क ने 8 करोड़ रु किए डोनेट

कोरोना वायरस महामारी

कोरोना वायरस महामारी

अमेरिकी कंपनी किम्बर्ली-क्लार्क (Kimberly–Clark) ने मंगलवार को कहा कि वह भारत में कोरोना वायरस महामारी (Covid-19) का मुकाबला करने के लिए 25 लाख डॉलर (करीब 18 करोड़ रुपये) का योगदान करेगी.

  • Share this:

नई दिल्ली. अमेरिकी कंपनी किम्बर्ली-क्लार्क (Kimberly–Clark) ने मंगलवार को कहा कि वह भारत में कोरोना वायरस महामारी (Covid-19) का मुकाबला करने के लिए 25 लाख डॉलर (करीब 18 करोड़ रुपये) का योगदान करेगी. किम्बर्ली-क्लार्क ने एक बयान में कहा कि ये आपातकालीन राहत यूनिसेफ के माध्यम से दी जाएगी, जिसका इस्तेमाल जीवन रक्षक वस्तुओं की आपूर्ति और स्वास्थ्य संबंधी जरूरतों के लिए होगी.

एकीकृत लॉजिस्टिक सेवा प्रदाता डीबी शेन्कर ने दिल्ली के एक अस्पताल में ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित करने के लिए मदद दी है. यह मदद एक गैर सरकारी संगठन के साथ साझेदारी के जरिए पहुंचाई जाएगी. शराब बनाने वाली दुनिया की अग्रणी कंपनी अनाहेसर-बुश इनबेव ने कहा कि वह देश में स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को बेहतर बनाने और जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने में मदद करेगी.

ये भी पढ़ें: सरकार की इस स्कीम के तहत सस्ते में खरीदें घर, जानें कैसे उठाएं योजना का लाभ

कंपनी ने एक बयान में कहा कि वह 300 से अधिक ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 8,000 से अधिक सहायता किट, पांच लाख से अधिक मास्क और भारत के 50 गांवों में 5,000 से अधिक परीक्षण किट मुहैया करा रही है.
बिजली वितरण कंपनी बीवाईपीएल ने कहा है कि उसने दिल्ली सरकार द्वारा बनाए गए 500 बिस्तर वाले दो कोविड आईसीयू इकाई को निर्बाध बिजली मुहैया कराने के लिए एक सप्ताह के भीतर व्यापक बुनियादी ढांचा स्थापित किया. कंपनी ने बताया कि ये संयंत्र जीटीबी और लोक नायक अस्पतालों के पास खाली मैदानों में तैयार किए गए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज