किसानों के लिए बड़ी खबर- मोदी सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड को लेकर किया ये ऐलान

किसानों के लिए बड़ी खबर-  मोदी सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड को लेकर किया ये ऐलान
किसानों के नाम पर चीनी मिलों को मिलती मदद

किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) पर लिए गए कर्ज अदायगी की तारीख अब 31 मई हुई, लॉकडाउन के दौरान किसानों की परेशानी समझते हुए नरेंद्र मोदी सरकार का फैसला, सिर्फ 4 फीसदी ब्याज दर पर होगा भुगतान

  • Share this:
नई दिल्ली. मोदी सरकार ने कहा है कि सभी किसानों का केसीसी यानी किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) बनेगा. साथ ही 7 करोड़ किसानों को बड़ी राहत देते हुए केसीसी पर लिए गए लोन (Agri loan) के भुगतान की तारीख आगे बढ़ाकर 31 मई कर दी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित विशेष आर्थिक पैकेज की जानकारी देते हुए केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने इस बात की जानकारी दी. मलब यह हुआ कि अब केसीसी धारक किसान अगले 17 दिन के भीतर अपने फसल ऋण को बिना किसी बढ़े ब्याज के केवल 4 प्रतिशत प्रति वर्ष के पुराने रेट पर ही भुगतान कर सकते हैं. कोरोना वायरस लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) में किसानों को राहत देने के लिए यह निर्णय लिया गया है.

वित्त मंत्री ने यह भी बताया कि 1 मार्च से 30 अप्रैल के बीच लॉकडाउन के दौरान 86,600 करोड़ रुपये के 63 लाख लोन अप्रूव किए गए. साथ ही 25 लाख नए केसीसी जारी किए गए हैं. लॉकडाउन में किसान अपने बकाया कर्ज के भुगतान के लिए बैंक शाखाओं तक जाने में सक्षम नहीं हैं. इसके अलावा, कृषि उत्पादों की समय पर बिक्री  और उनका भुगतान लेने में कठिनाई हो रही है. इसलिए इन्हें छूट प्रदान की गई है.

केसीसी पर मिलती है बड़ी छूट 



खेती-किसानी के लिए केसीसी पर लिए गए तीन लाख रुपये तक के लोन की ब्याजदर वैसे तो 9 फीसदी है. लेकिन सरकार इसमें 2 परसेंट की सब्सिडी देती है. इस तरह यह 7 फीसदी पड़ता है. लेकिन समय पर लौटा देने पर 3 फीसदी और छूट मिल जाती है. इस तरह इसकी दर ईमानदार किसानों के लिए मात्र 4 फीसदी रह जाती है.
केसीसी पर सरकार ने किसानों को बड़ी राहत दी है


अगर किसान 31 मार्च या फिर समय पर इस कर्ज का बैंक को भुगतान नहीं करते हैं तो उन्हें 7 फीसदी ब्याज देना होता है. कोविड-19 संकट को देखते हुए सरकार ने इसी बढ़े ब्याज पर राहत देकर 31 मई तक उनसे सिर्फ 4 फीसदी रेट पर ही पैसा वापस लेने का फैसला लिया है.

सरकार ने कहा है कि सिर्फ तीन कागजातों पर ही किसान क्रेडिट कार्ड बनेगा. इसके लिए बैंक पीएम किसान सम्मान निधि का भी डाटा इस्तेमाल कर सकते हैं. आवेदन के 15 दिन के भीतर केसीसी जारी करने को कहा गया है.  

ये भी पढ़ें: 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना: इस प्रदेश में 50.37 लाख किसान रजिस्टर्ड, लिया 2547 करोड़ का मुआवजा

Economic Package: क्या इसलिए एग्रीकल्चर सप्लाई चेन में रिफॉर्म करना चाहते हैं पीएम मोदी?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading