• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Future Group के किशोर बियानी ने कहा, RIL के साथ रिटेल एसेट्स के सौदे की Amazon को थी पूरी जानकारी

Future Group के किशोर बियानी ने कहा, RIL के साथ रिटेल एसेट्स के सौदे की Amazon को थी पूरी जानकारी

फ्यूचर ग्रुप के सीईओ किशोर बियानी ने कहा कि अमेजन उसके सौदे में बेवजह दिक्‍कतें खड़ी कर रही है.

फ्यूचर ग्रुप के सीईओ किशोर बियानी ने कहा कि अमेजन उसके सौदे में बेवजह दिक्‍कतें खड़ी कर रही है.

फ्यूचर ग्रुप (Future Group) के सीईओ किशोर बियानी (CEO Kishore Biyani) ने कहा कि कई बार अमेजन (Amazon) को कंपनी के नकदी संकट से जूझने की जानकारी दी गई थी, लेकिन उसने कोई मदद नहीं की. वहीं, अमेजन का निवेश सिर्फ फ्यूचर कूपंस प्राइवेट लिमिटेड में है. उसका फ्यूचर ग्रुप के रिटेल बिजनेस (Retail Business) से कोई लेनादेना नहीं है.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. फ्यूचर ग्रुप (Future Group) के सीईओ किशोर बियानी (Kishore Biyani) ने मंगलवार को कहा कि अमेजन (Amazon) को ग्रुप और रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) के बीच रिटेल एसेट्स को बेचने के लिए हो रहे सौदे के बारे में पूरी जानकारी थी. कोरोना महामारी के कारण जब फ्यूचर ग्रुप नकदी संकट से जूझ रहा था, तब कंपनी ने कई बार अमेजन को इसके बारे में लिखा, लेकिन उसने कोई मदद नहीं की. बियानी ने कहा कि जब भी उन्होंने अमेजन से संपर्क किया, तब हल निकालने की बात कह दी गई. हालांकि, उनकी तरफ से हर बार पेपर वर्क के अलावा कुछ नहीं किया गया.

    'सेबी की मंजूरी के 2 महीने में पूरी हो जाएगी डील'
    किशोर बियानी ने उम्मीद जताई कि बाजार नियामक सेबी (SEBI) से मंजूरी मिलने के 2 महीने के अंदर रिलायंस रिटेल के साथ डील पूरी हो जाएगी. रिलायंस रिटेल के साथ 24,713 करोड़ रुपये में रिटेल बिजनेस का सौदा करने के बाद अमेजन से कानूनी लड़ाई पर किशोर बियानी ने कहा कि उसका निवेश केवल फ्यूचर कूपंस प्राइवेट लिमिटेड में है. ये केवल कूपन और गिफ्ट बिजनेस से संबंधित है. उसका फ्यूचर ग्रुप के रिटेल बिजनेस से कोई लेनादेना नहीं है.

    ये भी पढ़ें- RBI ने बजाज फाइनेंस पर ठोकी 2.5 करोड़ रुपये की पेनाल्‍टी, ग्राहकों की शिकायत पर हुई कार्रवाई

    'अमेजन से नहीं मिला नकदी संकट का समाधान'
    सीईओ बियानी ने कहा कि रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के साथ सौदे के बारे में अमेजन को पूरी जानकारी थी. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के बाद से ही हम अमेजन के संपर्क में थे. हमने इसके बारे में अमेजन को मार्च 2020 में भी लिखा था. उन्होंने कहा कि जब उनकी बात इस सौदे के संबंध में रिलायंस इंडस्‍ट्रीज से हो रही थी, तब अमेजन को इसके बारे में पता था. किशोर बियानी ने कहा कि नकदी संकट के बारे में हमें अमेजन की ओर से कोई समाधान नहीं मिला. हालांकि, अमेजन ने किशोर बियानी के इस दावे से इनकार किया है.

    ये भी पढ़ें- Indian Railways की बड़ी पहल! अब मालढुलाई के लिए भी हो सकेगी ऑनलाइन बुकिंग, नए पोर्टल से होगी माल की ट्रैकिंग भी

    RIL-Future Group डील को CCI की मंजूरी
    अमेजन और फ्यूचर ग्रुप के बीच जारी कानूनी लड़ाई पर सुनवाई इसी महीने के अंत में फिर शुरू होगी. फ्यूचर ग्रुप ने सेबी से उसके और रिलायंस के बीच हुई डील का तेजी से रिव्यू करने का आग्रह किया है. बियानी ने सेबी से इसके रिव्यू तक नो-ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट जारी करने को कहा है. वहीं, अमेजन ने इस सौदे को रद्द करने की मांग की है. बियानी ने कहा कि हम अमेजन की ओर से बाजार नियामक को लिखी चिट्ठी का जवाब दे रहे हैं. किशोर बियानी ने कहा कि इस डील को सीसीआई से मंजूरी मिल चुकी है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज