Home /News /business /

आखिर क्या है पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की सबसे बड़ी समस्या!

आखिर क्या है पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की सबसे बड़ी समस्या!

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान

इमरान खान पाकिस्तान (Pakistan Prime Minister Imran Khan) के सबसे सफलतम कप्तान रहे, लेकिन प्रधानमंत्री के तौर पर इमरान खान के हाथ अब तक कोई सफलता नहीं मिली है.

    नई दिल्ली. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Pakistan Prime Minister Imran Khan) का आज जन्मदिन है. पाकिस्तान क्रिकेट टीम (Pakistan Cricket Team) को बुलंदियों पर पहुंचाने के बाद इमरान खान अब देश की कमान भी संभाल रहे हैं. लेकिन, क्रिकेट के मोर्चे पर इमरान खान की सफलता में जो चार चांद लगे, वो अब तक प्रधानमंत्री के रूप में नहीं मिला है. इमरान खान पाकिस्तान के इकलौते कप्तान रहे, जिन्होंने पाकिस्तान को​ क्रिकेट में विश्व विजेता बनाया. पाकिस्तान को सोशल वेलफेयर स्टेट, सभी को न्याय देने और भ्रष्टाचार रोधी देश बनाने के सपने के साथ अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत करने वाले इमरान खान आज पाकिस्तान के प्रधानमंत्री हैं.

    कश्मीर का राग अलापने वाले इमरान के पास कई चुनौतियां- पाकिस्तानी क्रिकेट को बु​लंदियों पर पहुंचाने और आने वाले कई दशकों तक पाकिस्तानी युवाओं को प्रेरित करने वाले इमरान खान प्रधानमंत्री के तौर पर कई मोर्चे पर चुनौतियों का सामना कर रहे हैं. नए पाकिस्तान की हसरत दिल में पाले इमरान खान आज आर्थिक मोर्चे (Pakistan Economy) पर सबसे अधिक चुनौ​तियों का सामना कर रहे हैं.

    ​कश्मीर के मुद्दे पर दुनिया के सामने भारत पर सवाल खड़े करने और आक्रामक दिखने वाले इमरान खान के लिए सबसे बड़ी चिंता ये है कि आखिर देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए क्या किया जाए. आज इमरान खान के जन्मदिन पर हम आपको आर्थिक मोर्चे पर उनके सामने चुनौतियों के बारे में जानकारियां दे रहे हैं.

    (1) वित्त वर्ष 2018 के मुकाबले पाकिस्तान की आर्थिक वृद्धि (Economic Growth of Pakistan) दर 5.5 फीसदी थी, जो कि वित्त वर्ष 2019 में घटकर 3.3 फीसदी हो गई है. बजट में वित्त वर्ष के लिए इसे और भी घटाकर 2.4 फीसदी का अनुमान लगाया गया है.

    (2) चालू वित्त वर्ष की शुरुआत के बाद से अब तक डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपया करीब 35 फीसदी कमजोर हो गया है.



    (3) महंगाई (Inflation of Pakistan) की बात करें तो अगले 12 महीने में इसे 13 फीसदी पहुंचने की उम्मीद है. अगर ऐसा होता है तो यह 10 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच जाएगा.

    (4) पाकिस्तान का राजकोषिय घाटा (Fiscal Deficit of Pakistan) 7.1 फीसदी है. वित्त वर्ष 2020 में यह सात साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच जाएगा.

    ये भी पढ़ें: सोने की जूलरी खरीदने का है आपका प्लान तो ठहरिए! बदलने वाला है ये नियम, सरकार ने दी मंजूरी



    (5) न्यूज एजेंसी ब्लूमबर्ग (Bloomberg report on Pakistan) ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि पाकिस्तान को IMF के कर्ज से दोगुना राशि चीन (China Debt) की चुकानी है. वह उसके कर्ज के बोझ से दबा हुआ है और यह रकम लगातार बढ़ती जा रही है. कर्ज के चलते पाकिस्तान के सामने फॉरेन एक्सचेंज का संकट भी आ खड़ा हुआ है.

    (6) मौजूदा समय में आंकड़ों के मुताबिक, पाकिस्तान में केवल 1 फीसदी लोग ही टैक्स चुकाते हैं. पाकिस्तान पूरी दुनिया में उन देशों में से एक है, जिसका टैक्स टू जीडीपी अनुपात केवल 11 फीसदी ही है.

    (7) सत्ता में आने से पहले इमरान खान ने वादा किया था कि वो टैक्स चोरी रोकने के लिए कदम उठाएंगे. अभी तक उन्होंने इसे लेकर कुछ खास कदम नहीं उठाया है.

    Tags: Business news in hindi, Imran khan, Pakistan, Pakistan government, Pakistani currency

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर