लाइव टीवी

किसान और आम आदमी के हित में मोदी सरकार ने लिए ये 5 बड़े फैसले

News18Hindi
Updated: October 23, 2019, 5:57 PM IST

कैबिनेट ने बुधवार को बैठक में BSNL को 15 हजार करोड़ रुपये (BSNL MTNL Revival Plan) के राहत पैकेज देने का फैसला लिया है. वहीं, इस बैठक में किसानों के लिए रबी फसलों के न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर भी फैसला हो गया है. आइए जानें मोदी सरकार के 5 बड़े फैसलों के बारे में...

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2019, 5:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्र सरकार ने दिवाली से ठीक पहले कई बड़े फैसले लिए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में हुए इस बैठक में सकंट से जूझ रही सरकारी कंपनी BSNL से लेकर रबी फसलों के लिए न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य और पेट्रोल ट्रांसपोर्ट मार्केटिंग गाइडलाइंस पर चर्चा हुई. आइए जानते हैं कि आज के इस बैठक में कैबिनेट ने क्‍या बड़े फैसले लिए हैं.

(1) BSNL के लिए 15 हजार करोड़ रुपये का पैकेज-वित्‍तीय संकट से जूझ रही सरकारी टेलीकॉम कंपनी BSNL के लिए केंद्र सरकार (Central Government) की तरफ से राहत की खबर आई है. भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) और महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड (MTNL) के 15000 करोड़ रुपये के रिवाइवल प्लान को कैबिनेट (Union Cabinet) की मंजूरी मिल गई है. कैबिनेट बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद का कहना है कि बीएसएनएल और एमटीएनएल को बंद नहीं किया जा रहा है. साथ ही, इसे बेचने का भी कोई प्लान नहीं है. सरकार इसे प्रतिस्पर्धी बनाना चाहती है. इसीलिए 15000 करोड़ रुपये का सॉवरेन बांड बनाया जायेगा. पहले की सरकारों ने बीएसएनएल के साथ बहुत नाइंसाफी की है. अगले 4 साल में 38000 करोड़ रुपये को मोनेटाइज करेंगे. साथ ही, बहुत ही आकर्षक वीआरएस पैकेज ला रहे है.

(2)  आसान किए पेट्रोल रिटेलिंग के नियम-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister of India) की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में पेट्रोल ट्रांसपोर्ट मार्केटिंग गाइडलाइंस (Petrol Transport Marketing Guidelines) में बदलाव को मंजूरी मिल गई है. मतलब साफ है कि सरकार ने पेट्रोल रिटेलिंग (Petrol Retailing) के नियम आसान कर दिए है. ऐसे में आपके पास भी पेट्रोल पंप खोलने (Petrol Pump Dealership) का मौका है. अगर आपके पास ज्यादा पैसे नहीं हैं और आपके नाम पर जमीन नहीं है, तो भी अब आप पेट्रोल पंप डीलरशिप के लिए अप्लाई कर सकते हैं

>> मोदी सरकार ने पेट्रोलपंप खोलने के नियम किए आसान- बुधवार को केन्द्रीय कैबिनेट की बैठक में पेट्रोलियम सेक्टर को लेकर बड़ा फैसला हुआ है. नए फैसले के तहत अन्य कंपनियां भी पेट्रोलपंप खोलने के लिए डीलरशिप दे पाएंगी.

>> मतलब साफ है कि मौजूदा समय में सरकारी कंपनी IOC, BPCL, HPCL समेत कुल 7 कंपनियां पेट्रोल की रिटेलिंग करती है. लेकिन नए फैसले के तहत कुल 250 करोड़ रुपये की नेटवर्थ वाली कंपनी भी पेट्रोल पंप खोल सकेगी.

>> साथ ही, ये कंपनियां अब हवाई ईंधन ATF भी बेच पाएंगी. आपको बता दें कि देशभर में कुल 64,624 पेट्रोल पंप है. इनमें से 57,944 सरकारी ऑयल मार्केटिंग कंपनियों के है. इसको लेकर सरकार ने 2018 में एक कमेटी बनाई थी.

(3) रबी फसलों के न्‍यून‍तम समर्थन मूल्‍य को मंजूरी -आज के कैबिनेट बैठक में रबी फसलों के न्यून्तम समर्थन मूल्य यानी एमएसपी (MSP) को मंजूरी मिल गई है. सूत्रों के मुताबिक गेंहू के एमएसपी में 85 रुपये की बढ़ोतरी हो गई है. वहीं, बाजरे के दाम में भी 85 रुपये की बढ़ोतरी हुई है. गेहूं का समर्थन मूल्य 1840 रुपये से बढ़कर 1925 रुपये हो गया है. बाजरे के समर्थन मुल्य में भी 85 रुपये की बढ़ोतरी हुई है. इससे सरकार को अतिरिक्त 3,000 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा. आपको बता दें कि कैबिनेट के फैसलों पर प्रेस कॉन्फ्रेंस 4 बजे होगी.
Loading...

देश में अक्टूबर से मार्च के बीच होने वाली सभी फसलें को रबी फसल कहा जाता है. रबी को सर्दी की फसलों के रूप में भी जाना जाता है. अक्टूबर में मॉनसून जब वापसी हो चुका होता है, तभी इन फसलों की बुवाई की जाती है. वहीं, मार्च एवं अप्रैल माह में रबी फसलों की कटाई की जाती है. इस मौसम के दौरान फसलों को सिंचाई के लिए कम पानी की आवश्यकता होती है.

(4) दिल्लीवासियों को बड़ा तोहफा-दिवाली से पहले केंद्र सरकार (Central Government) ने दिल्लीवासियों को बड़ा तोहफा दिया है. बुधवार को हुई कैबिनेट बैठक में सरकार ने दिल्ली के अनधिकृत कॉलोनियों (Unauthorised Colonies) में रहने वाले 40 लाख लोगों को घर का मालिकाना हक देगी. बता दें कि राजधानी दिल्ली में 1,797 अनधिकृत कॉलोनी है.

(5) कैबिनेट ने इंडो-तिब्बत बॉर्डर पुलिस के लिए काडर रिव्यू को भी मंजूरी दे दी है. यह मामला बीते 18 साल से सरकार के पास लंबित पड़ा हुआ था. पीएम मोदी की अगुवाई में कैबिनेट ने ग्रुप ए जनरल ड्यूटी और नॉन-जनरल ड्यूटी के काडर रिव्यू को मंजूरी दी है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 4:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...