Home /News /business /

know all about terra crisis and the important lesson for investors mlks

क्रिप्टोकरेंसी Terra Luna का टूटना, सपनों का बिखरना और नए निवेशकों के लिए जरूरी सीख

पिछले सप्ताह टेरा क्रिप्टोकरेंसी बुरी तरह से गिरी और इसने दुनियाभर के निवेशकों के लगभग 40 बिलियन डॉलर (31 खरब रुपये) देखते ही देखते खाक हो गए.

पिछले सप्ताह टेरा क्रिप्टोकरेंसी बुरी तरह से गिरी और इसने दुनियाभर के निवेशकों के लगभग 40 बिलियन डॉलर (31 खरब रुपये) देखते ही देखते खाक हो गए.

पिछले सप्ताह टेरा क्रिप्टोकरेंसी बुरी तरह से गिरी और इसने दुनियाभर के निवेशकों के लगभग 40 बिलियन डॉलर (31 खरब रुपये) देखते ही देखते खाक हो गए. जिन्होंने टेरा में पैसा लगाया था, उनके सपने भी इसी आग के साथ मिट्टी में मिल गए.

नई दिल्ली. क्रिप्टोकरेंसी में निवेश इस दिनों काफी फैशन में है. किसी समय पहते तक कुछ हजार में मिलने वाली करेंसी बिटकॉइन की कीमत आज कई लाखों में है. बिटकॉइन तो सबसे बड़ी ब्लू चिप क्रिप्टोकरेंसी है, लेकिन उसके बाद नंबर 2, नंबर 3 और ऐसी ही अन्य करेंसीज़ भी भारत में काफी पॉपुलर हैं. यही वजह है कि भारत में कई करोड़ों रुपये का निवेश क्रिप्टो एसेट्स में है. हालांकि भारतीय रिजर्व बैंक इसे अर्थव्यवस्था के लिए खतरा मानता है.

आज हम बात कर रहे हैं टेरा (Terra) की. पिछले सप्ताह टेरा क्रिप्टोकरेंसी बुरी तरह से गिरी और इसने दुनियाभर के निवेशकों के लगभग 40 बिलियन डॉलर (31 खरब रुपये) देखते ही देखते खाक हो गए. जिन्होंने टेरा में पैसा लगाया था, उनके सपने भी इसी आग के साथ मिट्टी में मिल गए. अब उन्हें कोई उम्मीद नहीं है कि वे अपना पैसा कभी रिकवर कर पाएंगे.

ये भी पढ़ें – क्रिप्टोकरेंसी: बड़ी करेंसीज़ में हलचल नहीं, पर 10 पैसे वाली करेंसी 2519% उछली

ये था टेरा का काम
टेरा एक पब्लिक ब्लॉकचेन प्रोटोकॉल है, जो एक ऐसा स्टेबलकॉइन्स डिसेंट्रलाइज्ड एल्गोरिदम चलाता है, जोकि यूएस डॉलर और यूरो जैसी करेंसियों के प्राइस की मूवमेंट को ट्रैक करता है. इसमें यूएस डॉलर से लिंक टेरा यूएसडी (TerraUSD) और लूना (Luna) जैसे टोकन शामिल हैं.

टेरा क्रिप्टोकरेंसी ईकोसिस्टम में 9 मई जो तूफान उठा, उसने लूना और टेरा यूएसडी को लगभग शत-प्रतिशत तबाह कर दिया. Coinmarketcap के आंकड़ों के अनुसार, लूना में लगभग 100 प्रतिशत की गिरावट आई और टेरा यूएसडी स्टेबलकॉइन ने भी अपनी पूरी कीमत खो दी. जब इस आर्टिकल को लिखा गया, तब तक टेरा यूएसडी $0.00013 पर था.

ये भी पढ़ें – एक्सचेंजों से डिलिस्ट हुई टेरा लूना, दुनियाभर के निवेशकों को बड़ा झटका

लोगों की उम्मीदें धराशायी
मनीकंट्रोल ने उन निवेशकों से बात की, जिन्होंने टेरा लूना में निवेश किया था. इस बातचीत में मुख्य रूप से यह उभरकर आया कि इन निवेशकों को अपना पैसा वापस मिलने की कोई उम्मीद अब दिखती नहीं है.
वेंचर कैपिटल फर्म iBC कैपिटल के संस्थापक हितेश मालवीय ने कहा कि उन्होंने लूना को डीलिस्ट होने से एक दिन पहले $4 में खरीदा था और खो सकने लायक एक राशि का निवेश किया था. उन्होंने कहा, “मुझे अब रिकवरी की उम्मीद नहीं है, क्योंकि मेरी खरीद प्राइश बहुत अधिक थी. सप्लाई के बेहद बढ़ जाने से और इसके बाद रिवाइवल प्लान लाए जाने के बाद भी इसकी कीमत फिर से $ 1 तक नहीं पहुंच सकती. इसलिए, मूव-ऑन करना ही बेहतर है.”

इस क्रिप्टोकरेंसी को 2018 में दक्षिण कोरिया के टेराफॉर्म लैब्स (Terraform Labs) द्वारा स्थापित किया गया था. इसके पतन के बाद Binance, CoinDCX, Coinswitch Kuber और Wazir X जैसे क्रिप्टो प्लेटफॉर्म्स ने TerraUSD और Luna को डीलिस्ट कर दिया है मतलब हटा दिया है.

ये भी पढ़ें – Zerodha वाले नितिन कामथ ने क्रिप्टो निवेशकों को किया आगाह, खतरे में पड़ जाएंगे एसेट्स

निवेशकों के लिए सीख
टेरा में भारी नुकसान उठाने वाले एक निवेशक ने कहा कि अब कोई फर्क नहीं पड़ता कि लूना फिर से ट्रेड करे या नहीं. अब इसका पुरानी कीमत पर लौटना संभव नहीं लगता. यह अगर अपनी गिरावट के बाद 200 फीसदी भी रिकवर कर ले तो यह 80-100 डॉलर तक कभी नहीं आएगा.

ब्लू चिप में निवेश: इस निवेशक ने अपना दर्द जाहिर करते हुए कहा कि केवल लूना के गिरने से ही उसका पोर्टफोलियो 50 फीसदी का नुकसान दिखा रहा है. उनका मानना है कि निवेशकों को बिटकॉइन और इथेरियम जैसे ब्लू चिप टोकन्स में ही निवेश करना चाहिए, जोकि सुरक्षित हैं और लम्बे समय के लिए टिकाऊ हैं.

गिरते चाकू को न पकड़ें: गिरते हुए चाकू या तेजधार वस्तु को पकड़ने की कोशिश नहीं करनी चाहिए. यह आपके हाथ को नुकसान पहुंचा सकता है. कई निवेशकों ने इसे 3-4 डॉलर पर यह सोचकर खरीदा कि यह बहुत गिर चुका है और अब ज्यादा नहीं गिरेगा. एक निवेशक ने बताया कि उसने अपनी बेटी की शादी के लिए 15 लाख रुपये का निवेश किया हुआ था. उसने वह निवेश निकालने के बाद टेरा में पैसा डाला, ये सोचकर कि ये अच्छा मुनाफा देगा. उन्होंने कहा, “मैंने 15 लाख रुपये खो दिये हैं. मैंने अपनी पत्नी तक को नहीं बताया है. मुझे इस बात का अंदाजा नहीं है कि जब उसे पता चलेगा तो क्या होगा.”

ये स्टोरी मनीकंट्रोल पर Murtuza Merchant ने लिखी है. आप पूरी स्टोरी यहां पढ़ सकते हैं – क्लिक करें.

Tags: Crypto, Cryptocurrency

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर