• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • जानें Jeff Bezos ने कैसे तय किया गैराज बुकस्‍टोर चलाने से दुनिया के सबसे अमीर कारोबारी तक का सफर, जानें सबकुछ

जानें Jeff Bezos ने कैसे तय किया गैराज बुकस्‍टोर चलाने से दुनिया के सबसे अमीर कारोबारी तक का सफर, जानें सबकुछ

जेफ बेजोस का अमेजन के सीईओ के तौर पर आज आखिरी दिन है.

जेफ बेजोस का अमेजन के सीईओ के तौर पर आज आखिरी दिन है.

ई-कॉमर्स कंपनी अमेज़न (Amazon) के फाउंडर जेफ बेजोस (Jeff Bezos) का आज कंपनी के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी (CEO) के पद पर आखिरी दिन है. आइए जानते हैं कि उन्‍होंने अमेज़न को कैसे दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बनाया.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. अमेज़न (Amazon) के फाउंडर जेफ बेजोस (Jeff Bezos) का आज ई-कॉमर्स कंपनी के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी (CEO) के पद पर आखिरी दिन है. अमेज़न के कार्यकारी एंडी जेसी 5 जुलाई 2021 को सीईओ का पद संभालेंगे. जेफ बेजोस ने बताया कि उन्होंने इस तारीख को इसलिए चुना, क्योंकि ये तारीख उनके दिल से जुड़ी है. दरअसल, बेजोस ने 27 साल पहले 5 जुलाई 1994 में अमेजन की शुरुआत की थी. आज का दिन उनके लिए इसलिए भी खास है, क्योंकि इसी दिन उन्होंने एक छोटे से गैराज से अमेजन की शुरुआत की थी. अब वह दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में शुमार है.

    शुरू में खुद अमेज़न के पैकेज डिलिवर करते थे बेजोस
    अमेज़न 27 साल पहले शुरू होने के बाद से अब तक ऑनलाइन शॉपिंग की दुनिया में बड़ा नाम बन चुकी है. क्लाउड कंप्यूटिंग, ग्रॉसरीज, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI), स्ट्रीमिंग मीडिया कारोबार से कंपनी का मार्केट कैप 1.7 ट्रिलियन पर पहुंच गया है. अमेज़न की ग्रोथ के कारण जेफ बेजोस की निजी संपत्ति 200 अरब डॉलर तक पहुंच गई. अपनी पूर्व पत्‍नी मैकेंजी स्कॉट को एक हिस्सा देने के बाद भी जेफ दुनिया के अमीर कारोबारियों की गिनती में शीर्ष पर बने रहे. बेजोस ने एक साक्षात्‍कार में कहा कि एक समय वह अमेज़न के पैकेज को खुद डिलिवर करते थे. बीते 25 साल में जो हुआ, वह उम्मीद से कहीं अधिक था.

    ये भी पढ़ें- Gold Price Today: सोने के दाम में बढ़ोतरी, चांदी भी हुई महंगी, फटाफट देखें आज के लेटेस्‍ट रेट्स

    शुरुआत के 30 दिन में शुरू कर दी 45 देशों में डिलिवरी
    अमेज़न की शुरुआत 1994 में ऑनलाइन बुकस्टोर के तौर पर हुई. बेजोस और कुछ कर्मचारियों ने मिलकर साइट के लिए सॉफ्टवेयर बनाया. टेस्ट साइट 1995 में बनाई और वह जल्द ही गैराज से दो कमरे में शिफ्ट हो गए. साइट को अच्छा रिस्पॉन्स मिला. 30 दिन के अंदर ही कंपनी अमेरिका समेत 45 देशों में डिलिवरी करने लगी. अमेजन जल्द ही इलेक्ट्रॉनिक, सॉफ्टवेयर अपेरल, फर्नीचर, खिलौने समेत ग्रॉसरी भी बेचने लगी. साल 2015 में अमेजन ने वैल्युबल ब्रांड की गिनती में वालमार्ट (Walmart) को भी पीछे छोड़ दिया.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज