जानें एलन मस्‍क ने ऐसा क्‍या कह दिया, जिससे 40% से ज्‍यादा गिरे Dogecoin के दाम! भारत में ऐसे करें इस क्रिप्‍टोकरेंसी में निवेश

Elon Musk के एक टीवी शो के दौरान दिए बयान के बाद क्रिप्‍टोकरेंसी डॉगक्‍वाइन की कीमतों में गिरावट का सिलसिला थम नहीं रहा है.

Elon Musk के एक टीवी शो के दौरान दिए बयान के बाद क्रिप्‍टोकरेंसी डॉगक्‍वाइन की कीमतों में गिरावट का सिलसिला थम नहीं रहा है.

टेस्‍ला (Tesla) के संस्‍थापक व सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) ने एक लाइव टीवी शो के दौरान 8 मई 2021 को मदर्स डे (Mother's Day) के मौके पर मां को गिफ्ट में डॉगक्‍वाइन (Dogecoin) देने की बात कही. इसके बाद उनकी मांग ने कहा कि उन्‍हें गिफ्ट का इंतजार है, लेकिन ये डॉगक्‍वाइन नहीं होगा. इसके बाद इस क्रिप्‍टोकरेंसी के दाम में तगड़ी गिरावट का सिलसिला जारी है.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. क्रिप्‍टोकरेंसी डॉगक्‍वाइन (Cryptocurrency Dogecoin) ने पिछले कुछ दिनों में निवेशकों को बेहतरीन मुनाफा (Return) दिया है, लेकिन 8 और 9 मई के बीच गुजरे 24 घंटों में इसकी कीमत में करीब 40 फीसदी से ज्‍‍‍‍‍‍यादा की गिरावट (Prices Fell) दर्ज की गई है. माना जा रहा है कि एक दिन के भीतर आई इतनी तेज गिरावट का कारण ई-व्‍हीकल बनाने वाली अमेरिकी कंपनी टेस्‍ला (Tesla) के संस्‍थापक व सीईओ एलन मस्‍क (CEO Elon Musk) और उनकी मां मे मस्‍क (Maye Musk) का एक बयान जिम्‍मदार है.

एलन मस्‍क ने मदर्स डे (Mother's Day) के मौके पर 8 मई 2021 यानी शनिवार की रात लाइव टीवी शो में कहा कि वह अपनी मां को गिफ्ट में डॉगक्‍वाइन दे रहे हैं. हालांकि, जब उनकी मां मे मस्‍क टीवी शो पर आईं तो उन्होंने कहा कि वह मदर्स डे के गिफ्ट को लेकर बहुत ही उत्साहित हैं. हालांकि, मुझे उम्मीद है कि वह डॉगक्‍वाइन नहीं होगा. इस पर एलन मस्क ने कहा कि यह डॉगक्‍वाइन ही है. इसके बाद इस क्रिप्‍टोकरेंसी की कीमत में तगड़ी गिरावट देखने को मिली. क्‍वाइनडेस्‍क (Coindesk) के मुताबिक, 9 मई 2021 की शाम 6.30 बजे एक डॉगक्‍वाइन की कीमत 0.44 डॉलर थी. इस आधार पर पिछले 24 घंटे में डॉगक्‍वाइन की कीमत 40.64 फीसदी तक गिर चुकी है. एलन मस्क की फेवरेट क्रिप्‍टोकरेंसी डॉगक्‍वाइन इस साल 130 गुना से भी ज्‍यादा उछाल दर्ज कर चुकी है.

ये भी पढ़ें- Gold Price: तेजी के बाद भी ऑलटाइम हाई से 9015 रुपये है सस्‍ता, जानें 2021 में कैसा रह सकता है ट्रेंड

मजाक-मजाक में दो साफ्टवेयर इंजीनियर्स ने की शुरुआत
डॉगक्‍वाइन की शुरुआत मजाक के तौर पर हुई थी, लेकिन सोशल मीडिया और मीम्स की बदौलत आज यह दुनिया की लोकप्रिय क्रिप्‍टोकरेंसीज में शामिल हो गई है. डॉगक्‍वाइन की शुरुआत सॉफ्टवेयर इंजीनियर बिली मारकस (Billy Markus) और जैक्‍सल पालमर (Jackson Palmer) ने 2013 में मजाक-मजाक में की थी. डॉगक्‍वाइन के प्रति निवेशकों के उत्साह का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि दुनिया के सबसे लोकप्रिय ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स में से एक रॉबिनहुड (RobinHood) इसकी ताबड़तोड़ बुकिंग के कारण क्रैश हो गया था. भारत में सबसे बड़ा क्रिप्‍टोकरेंसी एक्सचेंज वजीरएक्‍स (WazirX) भी इसी कारण कुछ समय के लिए डाउन हो गया था.

ये भी पढ़ें- मर्जर के बाद अब तक बंद हो गई 2118 बैंक की शाखाएं, चेक करें कौन-कौन से बैंक हैं इस लिस्ट में शामिल

मस्क के एक ट्वीट से बढ़ी भी थी डॉगक्‍वाइन की कीमत



एलन मस्क ने अपने ट्विटर हैंडल पर Dogue मैगजीन की एक फोटो पोस्ट की थी, जिसमें एक डॉग को लाल स्वेटर पहने दिखाया गया था. इससे डॉगक्‍वाइन की कीमत में तेज उछाल आया था. इसके बाद मस्क ने डॉगक्‍वाइन के समर्थन में फरवरी 2021 के दौरान कई ट्वीट किए थे. उन्होंने दिसंबर 2020 में किए ट्वीट में केवल डॉगी (Doge) लिखा. इससे इसकी कीमत में 20 फीसदी तेजी आ गई थी. फिर उन्होंने 'Dogecoin is the people's crypto' लिखा था. इससे अगले ट्वीट में उन्होंने 'No highs, no lows, only Doge'लिखा. इसके बाद इस क्रिप्‍टोकरेंसी की कीमत 3 सेंट से उछलकर 5 सेंट पहुंच गई थी.

ये भी पढ़ें- टॉप 8 कंपनियों के मार्केट कैप में हुआ इजाफा, TCS को हुआ सबसे ज्यादा फायदा

भारतीय निवेशक ऐसे खरीद सकते हैं डॉगक्‍वाइन

भारत में 2018 तक क्रिप्‍टोकरेंसीज खरीदने और इनका कारोबार करने की अनुमति नहीं थी. सुप्रीम कोर्ट ने 2018 में किप्‍टोकरेंसी की खरीद-फरोख्‍त के पक्ष में फैसला दिया. इसके बाद भारत में क्रिप्‍टोकरेंसी के कारोबार में तेजी आई. अब भारत में क्‍वाइनस्विच कुबेर (Coinswitch Kuber), वजीरएक्‍स (WazirX), क्‍वाइनडीसीएक्‍स (CoinDCX) जैसे एक्सचेंज के जरिये डॉगक्‍वाइन में निवेश किया जा सकता है. आइए जानते हैं कि भारतीय निवेशक डॉगक्‍वाइन में कैसे निवेश कर सकते हैं...

>> किप्‍टोकरेंसीस में डील करने वाले Coinswitch, WazirX, CoinDCX, Bitbns या Zebpay जैसे भारतीय क्रिप्‍टो एक्सचेंज को इंस्टॉल करें.

>> किसी एक्सचेंज का चयन करने से पहले उसके बारे में पूरी जांच पड़ताल करें.

>> केवाईसी वेरिफाई करने के बाद अपना अकाउंट बनाएं.

>> ऐप पर अपनी बैंक डिटेल और यूपीआई डिटेल डालें. बैंक डिटेल और यूपीआई रजिस्टर्ड होने के बाद एक्सचेंज में मनी एड करें.

>> एक्सचेंज में पैसा जमा होने के बाद आप इसका इस्तेमाल डॉगक्‍वाइन या किसी दूसरी क्रिप्‍टोकरेंसी को खरीदने में कर सकते हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज