लाइव टीवी

बजट के बाद क्यों धड़ाम हुआ शेयर बाजार? निर्मला सीतारमण का जवाब- वीकेंड था न

News18Hindi
Updated: February 4, 2020, 9:43 AM IST
बजट के बाद क्यों धड़ाम हुआ शेयर बाजार? निर्मला सीतारमण का जवाब- वीकेंड था न
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) के बजट भाषण के बाद सेंसेक्स में करीब 1,000 अंक की गिरावट देखने को मिली. इसके बाद सोमवार को फिक्की के आयोजन में वित्त मंत्री से इस संबंध में जवाब पूछा गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 4, 2020, 9:43 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय वित्त मंत्री ​निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) द्वारा बजट भाषण से निराश शेयर बाजार में शनिवार को भारी बिकवाली देखने को मिली. बजट भाषण के बाद बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स (Sensex) करीब 1,000 अंक गिरकर बंद हुआ. इसके बाद से ही वित्त मंत्री से ये सवाल कई बार पूछा गया कि आपके बजट के बाद शेयर बाजार (Share Market) में इतनी भारी गिरावट क्यों आई. सोमवार को FICCI के आयोजन में भी वित्त मंत्री से यह सवाल पूछा गया है.आइए जानते हैं उन्होंने इसका क्या जवाब दिया.

क्या था वित्त मंत्री का जवाब
जब वित्त मंत्री से सोमवार को ये सवाल पूछा गया कि आपके भाषण के बाद शेयर बाजार में इतनी बड़ी गिरावट क्यों देखने को मिली? इस पर वित्त मंत्री ने मुस्कुराते हुए जवाब दिया कि आज तो मैं शेयर बाजार में खुशी देख रही हूं. उन्होंने कहा कि सही मायने में सोमवार को ही काम का मूड होता है और आज का मूड अच्छा है. क्या आपको नहीं लगता? हां, बहुत तेजी नहीं है लेकिन बेहतर तो है.

यह भी पढ़ें: जानलेवा कोरोना वायरस का असर, 30 दिन में चीन के डूबे 30 लाख करोड़ रुपये

राजकोषीय घाटे के मुद्दे पर सीतारमण ने कहा, ‘‘कुछ लोग वित्तीय घाटे के 4-5 प्रतिशत से ऊपर निकलने की बात कह रहे हैं. लेकिन हमने बजट में अपना रुख बिल्कुल साफ किया है. जहां जरूरी है हम वहां खर्च कर रहे हैं.’’ उल्लेखनीय है कि बजट में सरकार ने चालू वित्त वर्ष के लिये राजकोषीय घाटा का अनुमान 3.3 प्रतिशत से संशोधित कर 3.8 प्रतिशत कर दिया है. अगले वित्त वर्ष में 3.5 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया गया है.



क्यों रही थी शेयर बाजार में गिरावट
गौरतबल है कि शनिवार को बजट के चलते शेयर बाजार खुला था. बजट भाषण में सरकार द्वारा कुछ ऐलान नहीं होने की वजह से बाजार में निराशा देखने को मिली है. हालांकि, डिविडेंड डिस्ट्रीब्युशन टैक्स (Dividend Distribution Tax) को सरकार ने पूरी तरह से वापस लेने का ऐलान किया. लेकिन बजट में लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स (LTCG) को लेकर कोई ऐलान नहीं किया गया. बजट से पहले उम्मीद की जा रही थी कि निवेशकों को एलटीसीजी के मोर्चे पर सरकार राहत दे सकती है.

ये भी पढ़ें:  30 लाख करोड़ रुपये के आम बजट में जानिए आम आदमी और किसानों को क्या मिला?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 9:33 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर