Home /News /business /

गलती से दूसरे के खाते में चली गई है रकम तो कैसे मिलेगी वापस, क्‍या कहते हैं RBI के नियम?

गलती से दूसरे के खाते में चली गई है रकम तो कैसे मिलेगी वापस, क्‍या कहते हैं RBI के नियम?

कोरोना संकट के बीच डिजिटल पेमेंट और ऑनलाइन मनी ट्रांसफर में तेज बढ़ोतरी हुई है.

कोरोना संकट के बीच डिजिटल पेमेंट और ऑनलाइन मनी ट्रांसफर में तेज बढ़ोतरी हुई है.

अगर भूल से किसी दूसरे व्‍यक्ति के बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर हो जाएं तो सबसे पहले अपने बैंक को फोन या ईमेल से सूचना दें. बेहतर रहेगा कि आप जल्‍द से जल्‍द ब्रांच मैनेजर से मिलें.

    नई दिल्ली. डिजिटल पेमेंट (Digital Payment) पर काफी समय जोर दिया जा रहा है. कोरोना संकट के बीच और उसके बाद डिजिटल ट्रांजेक्‍शंस (Digital Transaction) में बहुत ज्‍यादा बढ़ोतरी दर्ज की गई है. इस समय डिजिटल वॉलेट, NEFT/RTGS, यूपीआई, गूगल पे, भीम ऐप और अन्य सेवाओं के जरिये आसानी से पैसों का लेनदेन किया जा रहा है. ये सभी माध्यम पैसे भेजने या मंगाने के सबसे आसान तरीके हैं. इनके चलते पैसे ट्रांसफर करना आसान तो हुआ है, लेकिन गलतियां भी उतनी ही हो रही हैं. कई बार पैसे ट्रांसफर करते समय गलती से बैंक अकाउंट नंबर गलत टाइप हो जाने पर गलत अकाउंट में ट्रांसफर हो जाते हैं.

    जानते हैं कि रकम गलत अकाउंट में ट्रांसफर होने पर क्‍या करें? रिजर्व बैंक (RBI) के नियम क्‍या हैं?

    तत्‍काल अपने बैंक को सूचना दें
    अगर भूल से किसी दूसरे व्‍यक्ति के बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर हो जाएं तो सबसे पहले अपने बैंक को फोन या ईमेल से सूचना दें. बेहतर रहेगा कि आप जल्‍द से जल्‍द ब्रांच मैनेजर से मिलें. सिर्फ वही बैंक इस मसले को सुलझा सकता है, जिसके खाते में पैसे ट्रांसफर किए गए हैं. अपने बैंक के ग्राहक सेवा केंद्र को कॉल करें और उन्हें सब कुछ बताएं. अगर बैंक ई-मेल से सभी जानकारी मांगता है तो ट्रांजेक्शन का पूरा ब्‍योरा भेज दें. इसमें ट्रांजेक्शन की तारीख, समय, अपना अकाउंट नंबर, जहां पैसा भेजा उसका अकाउंट नंबर जैसी जानकारियां शामिल रहेंगी.

    ये भी पढ़ें- Amazon की सीक्रेट वेबसाइट से करें खरीदारी, आधी से कम कीमत पर मिल रहे प्रोडक्‍ट्स, त्‍योहारों में होगी बड़ी बचत

    ब्रांच मैनेजर से करें मुलाकात
    अगर आपने जिस बैंक खाते में पैसा ट्रांसफर किया है, वो अकाउंट नंबर गलत है या आईएफएससी कोड (IFSC) गलत है तो पैसा अपने आप आपके खाते में आ जाएगा. वहीं, अगर ऐसा नहीं है तो अपने बैंक जाकर ब्रांच मैनेजर से मिलें. उसे इस गलत ट्रांजेक्शन के बारे में पूरी जानकारी दें. ये जानने की कोशिश करें कि पैसे किस बैंक के खाते में गए हैं. अगर किसी दूसरे बैंक के खाते में पैसे गलती से ट्रांसफर हुए हैं तो रकम वापसी में ज्यादा समय लग सकता है. कई बार तो बैंक इस तरह के मामले निपटाने में 2 महीने तक लगा सकते हैं. आप अपने बैंक से यह पता कर सकते हैं कि किस शहर की किस ब्रांच के किस अकाउंट में पैसा ट्रांसफर हुआ है. उस ब्रांच में बात करके आप रकम वापस ले सकते हैं.

    ये भी पढ़ें- SpiceJet ने दिल्‍ली और तिरुपति के बीच शुरू की वन स्‍टॉप फ्लाइट्स सर्विस, हफ्ते में 3 दिन भरेंगी उड़ान

    खुद करा सकते हैं FIR
    किसी दूसरे के अकाउंट में गलती से पैसे ट्रांसफर के ज्यादातर मामलों में रिसीवर पैसे लौटाने को तैयार हो जाता है. अगर वह पैसे लौटाने से इनकार कर दे तो आप उसके खिलाफ केस दर्ज कर सकते हैं. आप अपनी तरफ से भी ऐसे मामलों में लीगल एक्शन लेने का अधिकार रखते हैं. चाहें तो बैंक से शिकायत दर्ज कराकर लीगल एक्शन ले सकते हैं. आरबीआई का निर्देश है कि अगर गलती से पैसे किसी दूसरे के खाते में जमा हो जाते हैं तो आपके बैंक को जल्द कदम उठाना होगा. बैंक को गलत खाते से पैसे को सही खाते में लौटाने की व्यवस्था करनी होगी. आजकल पैसे ट्रांसफर करने पर मोबाइल और मेल पर मैसेज मिलता है कि अगर ट्रांजेक्शन गलत है तो इस फोन नंबर पर मैसेज भेजें. इसके जरिये भी आप शिकायत दर्ज करा सकते हैं.

    Tags: ATM transactions, Bank account, Bank news, Banking services, Business news in hindi, Digital payment, Digital Transaction in India, Online banking

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर