LIC की होल्डिंग लिस्टेड कंपनियों में अब तक सबसे निचले स्‍तर पर पहुंची, जानें चौथी तिमाही में किन कंपनियों में बढ़ाई हिस्‍सेदारी

LIC ने कुछ कंपनियों में अपनी हिस्‍सदेारी बढ़ाकर कुछ लिस्टेड कंपनियों में होल्डिंग घटाई है.

LIC ने कुछ कंपनियों में अपनी हिस्‍सदेारी बढ़ाकर कुछ लिस्टेड कंपनियों में होल्डिंग घटाई है.

सरकारी बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) ने निफ्टी (Nifty) में 5 फीसदी की बढ़ोतरी के बावजूद 2021 के पहले 3 महीनों में मुनाफावसूली (Profit Booking) की है. प्राइम डेटाबेस ग्रुप (Prime Database Group) के आकंड़ों के मुताबिक, 30 जून 2012 को समाप्त तिमाही में सूचीबद्ध कंपनियों में एलआईसी की हिस्सेदारी 5 फीसदी थी, जो ऑलटाइम हाई है.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. सरकारी बीमा कंपनी लाइफ इंश्‍योरेंस कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (LIC) ने वित्त वर्ष 2021 की चौथी तिमाही के दौरान बाजार में सूचीबद्ध कंपनियों (Listed Companies) में अपनी हिस्सेदारी घटाई है. एलआईसी की इन कंपनियों में हिस्‍सेदारी अब तक के सबसे निचले स्‍तर पर पहुंचकर 3.66 फीसदी रह गई है. एलआईसी की सूचीबद्ध कंपनियों में हिस्‍सेदारी 31 दिसंबर 2020 को 3.7 फीसदी थी. एलआईसी की 296 सूचीबद्ध कंपनियों में 1 फीसदी से ज्यादा हिस्सेदारी है. प्राइम डेटाबेस ग्रुप (Prime Database Group) के आकंड़ों के मुताबिक, 30 जून 2012 को समाप्त तिमाही में सूचीबद्ध कंपनियों में एलआईसी की हिस्सेदारी 5 फीसदी थी, जो ऑलटाइम हाई है.

LIC ने 2021 के पहले 3 महीनों में की मुनाफावसूली

एलआईसी ने निफ्टी में 5 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद भी 2021 के पहले 3 महीनों में मुनाफावसूली की है. प्राइम डेटाबेस ग्रुप के प्रणव हल्दिया का कहना है कि 31 मार्च 2021 को समाप्त तिमाही में समग्र तौर पर देखें तो सभी कंपनियों में एलआईसी की होल्डिंग 7.24 लाख करोड़ रुपये के सर्वोच्‍च स्‍तर पर पहुंच गई थी, जो पिछले तिमाही की तुलना में 6.30 फीसदी ज्यादा थी. इसी अवधि में सेसेंक्स में 3.70 फीसदी और निफ्टी में 5.10 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है. एलआईसी ने 31 मार्च 2021 को समाप्त तिमाही में फार्मा, इंश्‍योरेंस, फाइनेंशियल और टेलिकॉम सेक्टरों में निवेश किया है. वहीं, इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर, ऑटो और सरकारी बैंकों में अपनी हिस्सेदारी घटाई है.

ये भी पढ़ें- Zydus Cadila का दावा: कोरोना वायरस के इलाज में कारगर है Virafin! जानें कितने में मिलेगी 1 डोज
इन कंपनियों में एलआईसी ने बढ़ाई अपनी हिस्‍सेदारी

कॉरपोरेशन ने 31 मार्च 2021 को समाप्त तिमाही में प्रतिशत के आधार पर रेल विकास निगम, न्‍यू इंडिया एश्‍योरेंस, बजाज ऑटो, टाटा कम्‍युनिकेशंस, अलेम्बिक फार्मा, अरविंदो फार्मा और बायोकॉन में सबसे ज्यादा हिस्सेदारी बढ़ाई है. इस अवधि में फार्मा कंपनियां एलआईसी की टॉप पिक रही हैं. वहीं, सेंट्रल बैंक आक्‍फ इंडिया, हिंदुस्‍तान मोटर्स, ज्‍योति स्‍ट्रक्‍चर्स, आरपीएसजी वेंचर्स और डालमिया भारत जैसी कंपनियों में अपनी होल्डिंग घटाई है. बता दें कि 31 मार्च 2021 को समाप्त तिमाही में आईडीबीआई बैंक (IDBI Bank), एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस (LHF), हिंदुस्‍तान एयरोनॉटिक्‍स (HAL), एलएंडटी (L&T), एनएमडीसी (NMDC), कैस्‍ट्रॉल इंडिया (Castrol India) और नेशनल फर्टिलाइजर्स (National Fertilizers) में एलआईसी की सबसे ज्यादा हिस्‍सेदारी थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज