बड़ी खबर! ये बैंक कोरोना से जान गंवाने वाले कर्मचारी के परिजनों को 2 साल तक देगा सैलरी

कोटक महिंद्रा ग्रुप (Kotak Mahindra Group)

कोटक महिंद्रा ग्रुप (Kotak Mahindra Group)

कोटक महिंद्रा ग्रुप (Kotak Mahindra Group) ने ऐलान किया है कि कोरोना से जान गंवाने वाले कर्मचारियों के परिजनों को कंपनी अगले 2 साल तक पूरी सैलरी देता रहेगा.

  • Share this:

नई दिल्ली. कोरोना वायरस ने लाखों लोगों की जिंदगी छीन ली है. इस भयावह स्थिति में कई कॉर्पोरेट कंपनियां अपने कर्मचारियों और उनके परिजनों की भलाई के लिए कई कदम उठा रही है. टाटा स्टील (Tata Steel) और टाटा मोटर्स (Tata Motors) के बाद अब कोटक महिंद्रा ग्रुप (Kotak Mahindra Group) ने कोविड-19 के कारण जान गंवाने वाले कर्मचारियों को परिजनों को बड़ी राहत दी है.

इन लोगों को मिलेगा लाभ

Kotak Mahindra Group ने कंपनी के अपने 73,000 कर्मचारियों के लिए कोविड परोपकारी नीति (pandemic benevolent policy) का ऐलान किया है. इसके मुताबिक, 1 अप्रैल 2020 से 31 मार्च 2022 के अंदर कोरोना से जान गंवाने वाले कर्मचारियों के परिजनों को कंपनी अगले 2 साल तक कर्मचारी के लास्ट सैलरी के बराबर फुल सैलरी (CTC) देती रहेगी.

ये भी पढ़ें: निर्मला सीतारमण की इंश्योरेंस कंपनियों के प्रमुख के साथ बैठक आज, वित्त मंत्रालय ने ट्वीट कर कही ये बात
अन्य बीमारी से मरने वालों को भी मिलेगी सैलरी

कोविड से जान गंवाने वाले कंपनी के कर्मचारियों के परिजनों को जून, 2021 से अगले 2 साल तक पूरी सैलरी मिलेगी. कंपनी 2 साल तक फुल सैलरी कोविड से जान गंवाने वाले कर्मचारियों के परिजनों को तो देगी है, साथ ही अन्य किसी बीमारी या दूसरे कारण से मरने वाले कर्मचारेयों को परिजनों को भी 2 साल तक पूरी सैलरी मिलेगी.

कोटक महिंद्रा ग्रुप ने कहा कि मृक कर्मचारियों के परिजनों को FY21 का बोनस भी मिलेगा और उन्हें मृत कर्मचारी की पत्नी और उसके नाबालिग बच्चे वित्त वर्ष 2021-22 में कंपनी की हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी का लाभ उठा सकेंगे. इसके साथ ही कंपनी ने अपने कर्मचारियों को इलाज के लिए कई अन्य सुविधाएं देने का ऐलान किया है. कंपनी सभी करमचारियों और उनके परिजनो को कोविड वैक्सीन लगवाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज