Home /News /business /

कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन ने मुख्य आर्थिक सलाहकार का पद संभाला, 3 साल का होगा कार्यकाल

कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन ने मुख्य आर्थिक सलाहकार का पद संभाला, 3 साल का होगा कार्यकाल

सरकार ने इसी महीने अरविंद सुब्रमण्‍यन के पद से हटने के बाद डॉ. कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन को देश का नया मुख्य आर्थिक सलाहकार नियुक्त किया था.

सरकार ने इसी महीने अरविंद सुब्रमण्‍यन के पद से हटने के बाद डॉ. कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन को देश का नया मुख्य आर्थिक सलाहकार नियुक्त किया था.

सरकार ने इसी महीने अरविंद सुब्रमण्‍यन के पद से हटने के बाद डॉ. कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन को देश का नया मुख्य आर्थिक सलाहकार नियुक्त किया था.

    प्रोफेसर डॉ. कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन ने मुख्य आर्थिक सलाहकार का पद संभाल लिया है. सरकार ने इसी महीने अरविंद सुब्रमण्‍यन के पद से हटने के बाद डॉ. कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन को देश का नया मुख्य आर्थिक सलाहकार नियुक्त किया था. उनका कार्यकाल तीन वर्ष का होगा. वह आईएसबी में पढ़ाते रहे हैं, इसके साथ ही वह नए चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर आईआईटी और आईआईएम के एल्युमिनी हैं. सुब्रमण्‍यन के पास शिकागो बूथ स्कूल से पीएचडी की उपाधि है. (ये भी पढ़ें: पेट्रोल पंप खोलने का आज आखिरी मौका, बिना पैसे और जमीन के कर सकते हैं आवेदन)

    जानिए इनके बारे में सबकुछ...

    कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यम इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस में प्रोफेसर के तौर पर कार्यरत हैं. उन्होंने शिकागो बूथ से पीएचडी की है. वो बैंकिंग, कॉर्पोरेट गवर्नेंस और इकोनॉमिक पॉलिसी के एक्सपर्ट हैं. नए आर्थिक सलाहकार का भारत के बैंकिंग सुधारों में बड़ा योगदान है. कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन सेबी और रिजर्व बैंक की कई कमेटी में शामिल रहे हैं. इसके अलावा सुब्रमण्यन बंधन बैंक के बोर्ड में भी शामिल थे.



    क्या काम होता है आर्थिक सलाहकार का- सीईए आम तौर पर फाइनेंस मिनिस्टर को मैक्रो इकोनॉमिक मामलों और छमाही विश्लेषण व इकोनॉमिक सर्वे सहित कई प्रमुख जिम्मेदारियों में सलाह देने का काम करते हैं.

    न्यूयॉर्क में जेपी मॉर्गन चेज के साथ कंसल्टेंट के तौर पर किया काम- कृष्णमूर्ति ने यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो बूथ स्कूल ऑफ बिजनेस से प्रोफेसर लुइगी जिंगालेस और प्रोफेसर रघुराम राजन (पूर्व आरबीआई गवर्नर) के गाइडेंस में पीएचडी की डिग्री प्राप्त की है. बैंकिंग, लॉ एंड फाइनेंस, इनोवेशन एंड इकोनॉमिक ग्रोथ और कॉरपोरेट गवर्नेंस पर उनका रिसर्च द रिव्यू ऑफ फाइनेंशियल और द जर्नल ऑफ लॉ एंड इकोनॉमिक्स जैसे दुनिया के शीर्ष जर्नल में प्रकाशित हो चुके हैं. आईएसबी में टीचिंग शुरू करने से पहले वह न्यूयॉर्क में जेपी मॉर्गन चेज के साथ कंसल्टेंट के तौर पर काम कर चुके हैं. वह आईसीआईसीआई लिमिटेड में एलिट डेरिवेटिव रिसर्च ग्रुप के प्रबंधन में अपनी सेवाएं भी दे चुके हैं.

    Tags: Finance ministry, Government of India, Ministry of Finance, Narendra modi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर