• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • आखिरी मौका! PPF और सुकन्या खाताधारक 30 जून तक कर लें ये जरूरी काम, वरना भरनी होगी पेनल्टी

आखिरी मौका! PPF और सुकन्या खाताधारक 30 जून तक कर लें ये जरूरी काम, वरना भरनी होगी पेनल्टी

आखिरी मौका! PPF और सुकन्या खाताधारक 30 जून तक लें ये काम, वरना लगेगी पेनल्टी

आखिरी मौका! PPF और सुकन्या खाताधारक 30 जून तक लें ये काम, वरना लगेगी पेनल्टी

किसी खाताधारक ने सुकन्या खाते या PPF खाते में वित्तीय वर्ष में निर्धारित न्यूनतम राशि जमा नहीं की है तो वे भी बिना पेनाल्टी के साथ जमा कर सकते हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के चलते सरकार ने पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) और सुकन्या समृद्धि अकाउंट (SSA) होल्डर्स को वित्त वर्ष 2019-20 के लिए खाते जमा करने की समय सीमा बढ़ाकर तीन महीन बढ़ाकर 30 जून कर दी थी. किसी खाता धारक ने सुकन्या खाते या PPF खाते में वित्तीय वर्ष में निर्धारित न्यूनतम राशि जमा नहीं की है तो वे भी बिना पेनाल्टी के साथ जमा कर सकते हैं. खाता धारक 30 जून तक पीपीएफ और सुकन्या में जमा की गई रकम से अपनी सुविधा के अनुसार वित्तीय वर्ष 2019-20 या वित्तीय वर्ष 2020-21 में इनकम टैक्स की धारा 80C अंतर्गत तय सीमा में छूट का लाभ भी के सकते हैं.

    कितना लगता है जुर्माना
    किसी भी वित्तीय वर्ष में पीपीएफ में न्यूनतम 500 रुपए और सुकन्या में न्यूनतम 250 रुपए जमा करने आवश्यक हैं, नहीं तो अगले वित्तीय वर्ष में 50 रुपए पेनल्टी भरनी पड़ती है. सरकार ने वित्‍त वर्ष 2019-20 के लिए पीपीएफ और छोटी बचत स्कीमों में न्‍यूनतम जमा की आखिरी तारीख 30 जून तक बढ़ा दी है. पहले इसकी समयसीमा 31 मार्च 2020 थी. अगर आपने न्‍यूनतम सालाना जमा वाला पीपीएफ खाता या कोई भी लघु बचत योजना का खाता खुलवाया है तो अंतिम तिथि के बाद जरूरी रकम जमा नहीं करने पर जुर्माना लग सकता है.

    ये भी पढ़ें:- 30 जून तक निपटा लें पैसे से जुड़े ये 7 जरूरी काम, नहीं तो उठाना पड़ेगा नुकसान

    अभी पीपीएफ और सुकन्‍या समृद्धि योजना खाते में न्‍यूनतम राशि जमा नहीं करने पर जुर्माना लगता है. इसी तरह अगर आप अपने रेकरिंग डिपॉजिट अकाउंट में अप्रैल और मई 2020 में पैसे जमा नहीं करवा पाए है.

    खाताधारक 30 जून तक  पीपीएफ और सुकन्या में जमा की गई रकम से अपनी सुविधा के अनुसार वित्तीय वर्ष 2019-20 या वित्तीय वर्ष 2020-21 में इनकम टैक्स की धारा 80C अंतर्गत तय सीमा में छूट का लाभ भी के सकते हैं. हैं.

    ये भी पढ़ें:- अब आपकी गाड़ी पर लगेगा ये स्टिकर, 1 अक्टूबर से होगा नया नियम लागू

    निवेश सीमा
    पीपीएफ और सुकन्या समृद्धि अकाउंट में एक वित्त वर्ष में अधिकतम 1.50 लाख रुपए निवेश कर सकते हैं. भूल से अगर आपने तय सीमा से अधिक राशि जमा कर दी तो वह राशि आपको लौटा दी जाएगी, लेकिन उस पर ब्याज नहीं दिया जाएगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज