नए साल के पहले दिन इस सरकारी बैंक ने लिया ये बड़ा फैसला, ग्राहकों पर होगा असर

नए साल के पहले दिन इस सरकारी बैंक ने लिया ये बड़ा फैसला, ग्राहकों पर होगा असर
साल के पहले दिन इस सरकारी बैंक ने लिया ये बड़ा फैसला, ग्राहकों पर होगा असर

बैंक के इस फैसले से होम, ऑटो और पर्सनल लोन की ईएमआई बढ़ जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 1, 2019, 10:56 AM IST
  • Share this:
सरकारी बैंक देना बैंक (Dena Bank) ने एमसीएलआर बढ़ा दिया है. बैंक के इस फैसले से होम, ऑटो और पर्सनल लोन की ईएमआई बढ़ जाएगी. देना बैंक ने MCLR की दर में 0.10 फीसदी तक की बढ़ोतरी की है. आपको बता दें कि एमसीएलआर वह दर होती है जिस पर किसी बैंक से मिलने वाले ब्याज की दर तय होती है. इससे कम दर पर देश का कोई भी बैंक लोन नहीं दे सकता है, सामान्य भाषा में यह आधार दर ही होती है.

क्या होता है MCLR-MCLR का को मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट भी कहते हैं. इसमें बैंक अपने फंड की लागत के हिसाब से लोन की दरें तय करते हैं. ये बैंचमार्क दर होती है. इसके बढ़ने से आपके बैंक से लिए गए सभी तरह के लोन महंगे हो जाते हैं.(ये भी पढ़ें-खटाई में रेलवे का 5G प्लान, दूरसंचार विभाग का मुफ्त में 1 लाख करोड़ रुपये का स्पेक्ट्रम देने पर ऐतराज





एमसीएलआर बढ़ने से नुकसान- एमसीएलआर बढ़ने से आम आदमी को सबसे बड़ा नुकसान यह होता है कि उसका मौजूदा लोन महंगा हो जाता है और उसे पहले की तुलना में ज्यादा ईएमआई देनी पड़ जाती है. वहीं एमसीएलआर घटने पर ईएमआई सस्ती हो जाती है.(ये भी पढ़ें-आज से शुरू होगी ये नई स्कीम, नौकरी के लिए सरकार देगी 120 घंटे की फ्री ट्रेनिंग)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading