अपना शहर चुनें

States

इनकम टैक्स के रडार पर फर्जी स्टार्टअप्स, एंजेल टैक्स नियमों की आड़ में टैक्स चोरी का शक

सूत्रों के मुताबिक इनकम टैक्स विभाग फर्जी स्टार्टअप्स पर कार्रवाई करने की तैयारी में है. 45 कंपनियों से निवेश के स्रोत की जानकारी मांगी गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 16, 2019, 10:41 AM IST
  • Share this:
एक तरफ जहां सरकार जेनुइन स्टार्टअप्स को बड़ी राहत देने की तैयारी कर रही है, वहीं स्टार्टअप्स के नाम पर टैक्स चोरी करने वालों पर इनकम टैक्स विभाग सख्त कार्रवाई की तैयारी कर रही है. सीएनबीसी-आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक वैसे इन स्टार्टअप्स पर एंजेल टैक्स के नियमों का हवाला देकर टैक्स चोरी का आरोप है. (ये भी पढ़ें: किसानों के खाते में 2 हजार नहीं, अब 4 हजार रुपये आएंगे, जानें मोदी सरकार ने क्यों बदला प्लान!)

सूत्रों के मुताबिक इनकम टैक्स विभाग फर्जी स्टार्टअप्स पर कार्रवाई करने की तैयारी में है. 45 कंपनियों से निवेश के स्रोत की जानकारी मांगी गई थी. आईटी विभाग को स्टार्टअप्स के नाम पर कालाधन खपाने का शक है.

ये भी पढ़ें: 1 लाख रुपये लगाकर शुरू करें ये बिजनेस, हर महीने हजारों में होगी कमाई



सरकार ने संदिग्ध कंपनियों से सेक्शन 68 के तहत निवेश के स्रोत को उजागर करने को कहा था. कंपनियां आयकर विभाग को संतोषजनक जवाब देने में नाकाम रहीं. आयकर विभाग खाता जब्त करके टैक्स रिकवरी की तैयारी में है. आयकर विभाग को सेक्शन 226(3) के तहत टैक्स रिकवरी का अधिकार है.
ये भी पढ़ें: LIC में पैसा लगाने वालों के लिए बड़ी खबर! अब जरूरी हुआ पॉलिसी को इससे लिंक कराना

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज