लॉकडाउन संकट! मई से 3 महीने तक सैलरी काटेगी IndiGo, लागू करेगी लीव विदआउट पे कार्यक्रम

लॉकडाउन संकट! मई से 3 महीने तक सैलरी काटेगी IndiGo, लागू करेगी लीव विदआउट पे कार्यक्रम
लॉकडाउन की शुरुआत के बाद से घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय दोनों उड़ान को निलंबित कर दिया गया है.

देश की सबसे बड़ी एयरलाइंस कंपनी इंडिगो (IndiGo) ने इस कोरोना संकट में कर्मचारियों की सैलरी काटने का ऐलान किया है. मई महीने से 3 महीनो तक सैलरी कटेगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. इंडिगो इंडिगो के सीईओ रोनोजॉय दत्ता (IndiGo CEO Ronojoy Dutta) ने कर्मचारियों को एक मेल लिखकर कहा है कि मई के महीने से पे-कट लागू करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है. हमें मई, जून और जुलाई के लिए बिना वेतन के सीमित, श्रेणीबद्ध लीव विदाउट पे कार्यक्रम लागू करना होगा. उन्होंने आगे कहा कि लीव विदाउट पे कर्मचारी के ग्रुप के आधार पर 1.5 से 5 दिनों तक होगा. ए स्तर के कर्मचारी, जो हमारे वर्कफोर्स का प्रमुख हिस्सा हैं, वे प्रभावित नहीं होंगे.
इससे पहले अप्रैल में कंपनी ने अपनी वेतन कटौती की घोषणा को मार्च में सरकार द्वारा कंपनियों को लॉकडाउन के दौरान वेतन में कटौती नहीं करने की अपील के बाद वापस ले लिया था.

आपको बता दें कि कोरोना वायरस के कारण पैदा हुए इस संकट में एयरलाइंस को गंभीर नकदी संकट का सामना करना पड़ रहा है. वहीं मार्च में, लॉकडाउन की शुरुआत के बाद से घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय दोनों उड़ान को निलंबित कर दिया गया है.





इंडिगो के अलावा, उसके सभी समकक्ष कंपनियों जैसे स्पाइसजेट और गो-एयर ने या तो वेतन में कटौती की है या बड़ी संख्या में अपने कर्मचारियों को बिना वेतन के छुट्टी पर भेज दिया है.

गोएयर के कर्मचारियों को अप्रैल की सैलरी नहीं मिली. एयरलाइंस की ओर से कहा गया कि लॉकडाउन का दूसरा महीना चल रहा है. आशा है कि आप सभी सुरक्षित और स्वस्थ होने के साथ परिस्थितियों को अच्छे से समझ रहे हैं.

कोरोना संक्रमण की वजह से देश में 17 मई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है. सरकार के निर्देशानुसार गोएयर ने 31 मई तक सभी फ्लाइट्स पर रोक और टिकट की बुकिंग पर रोक लगा दी है. इसलिए 1 जून से पहले उड़ानें शुरू करने की उम्मीद नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading