LIC का मार्केट शेयर 70% गिरा, प्राइवेट इंश्योरेंस कंपनियों की आक्रामक रणनीति रही वजह

LIC का मार्केट शेयर 70% गिरा, प्राइवेट इंश्योरेंस कंपनियों की आक्रामक रणनीति रही वजह
पॉलिसी के नवीनीकरण से प्राप्त होने वाले प्रीमियम के मामले में एलआईसी की हिस्सेदारी पिछले साल के 72.31 फीसदी से घटकर 69.35 फीसदी पर आ गयी.

पॉलिसी के नवीनीकरण से प्राप्त होने वाले प्रीमियम के मामले में एलआईसी की हिस्सेदारी पिछले साल के 72.31 फीसदी से घटकर 69.35 फीसदी पर आ गयी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 13, 2019, 6:21 PM IST
  • Share this:
सरकारी स्वामित्व वाले भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) की बाजार हिस्सेदारी मार्च 2018 में समाप्त तिमाही में 70 फीसदी से नीचे आ गयी. निजी बीमा कंपनियों की अधिक आक्रामक रणनीति अख्तियार करने से कंपनी की हिस्सेदारी में यह कमी देखी गयी है. (ये भी पढ़ें: ग्राहक ध्यान दें! इस सरकारी बैंक ने मिनिमम बैलेंस को किया दोगुना, नहीं मानने पर खाते से कटेंगे पैसे)

IRDAI की वार्षिक रिपोर्ट में हुआ खुलासा
पिछले वित्त वर्ष में निजी बीमा कंपनियों की बाजार हिस्सेदारी 2016-17 की 28.19 फीसदी से बढ़कर 30.64 फीसदी हो गयी. भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (IRDAI) की वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया है, वित्त वर्ष 2017-18 में प्रीमियम से कुल आय के आधार पर एलआईसी की बाजार हिस्सेदारी 71.81 से घटकर 69.36 फीसदी पर आ गयी है.

ये भी पढ़ें: कार्ड से पेमेंट करते वक्त देना होगा अब ये नंबर, RBI ने जारी किए नए नियम
रिन्‍यूअल प्रीमियम में भी हिस्‍सेदारी घटी


समीक्षाधीन वित्त वर्ष में नयी बीमा पॉलिसी से आय के मामले में भी निजी बीमा कंपनियों की बाजार हिस्सेदारी बढ़ी है. पॉलिसी के नवीनीकरण से प्राप्त होने वाले प्रीमियम के मामले में एलआईसी की हिस्सेदारी पिछले साल के 72.31 फीसदी से घटकर 69.35 फीसदी पर आ गयी. वहीं निजी बीमा कंपनियों की हिस्सेदारी 27.69 फीसदी से बढ़कर 30.65 फीसदी हो गयी.

आलोच्य वित्त वर्ष में जीवन बीमा कंपनियों ने 281.97 लाख नयी बीमा पॉलिसी जारी की. इनमें से एलआईसी ने 213.38 लाख नयी पॉलिसी (75.7 फीसदी) जारी किया और निजी बीमा कंपनियों ने 68.59 लाख पॉलिसी जारी किये.

ये भी पढ़ें: हर महीने हो सकती है 1 लाख रुपये तक कमाई, शुरू करें ये बिजनेस

बिजनेस से जुड़ी और खबरों के लिए यहां क्लिक करें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading