मनपसंद बेवरेजेज के MD समेत तीन बड़े अधिकारी हुए गिरफ्तार, GST चोरी का आरोप

GST चोरी के आरोप में फ्रूट ड्रिंक मैन्युफैक्चरिंग कंपनी मनपसंद बेवरेजेज के MD समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मनपसंद बेवरेजेज पर फेक कंपनी यूनिट बनाकर टैक्स चोरी करने का आरोप है.

  • Share this:
GST चोरी के आरोप में फ्रूट ड्रिंक मैन्युफैक्चरिंग कंपनी मनपसंद बेवरेजेज के MD समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मनपसंद बेवरेजेज पर फेक कंपनी यूनिट बनाकर टैक्स चोरी करने का आरोप है. कंपनी के MD अभिषेक सिंह, उनके भाई हर्षवर्धन सिंह और CFO परेश ठाकुर को गिरफ्तार किया गया है. आपको बता दें कि हाल में हैदराबाद में भी इसी तरह एक और टैक्स चोरी पकड़ी गई थी. ये सभी लोग  फर्जी जीएसटी बिल (इनवायस) बनाकर इनपुट क्रेडिट हासिल कर रहे थे. जीएसटी आयुक्त कार्यालय, मेडचल सेंट्रल ने इन कंपनियों ने कथित रूप से 22.64 करोड़ रुपये का इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) का लाभ लिया जबकि वे इसके पात्र नहीं थीं.

क्या है कंपनी का कारोबार- मनपसंद बेवरेजेज फ्रूट ड्रिंक मैन्युफैक्चरिंग कंपनी है. इसके फ्लैगशिप ब्रांड्स मैंगो सिप फ्रूटी, माजा और स्लाइस जैसे ब्रांड्स की बनाई कैटेगरी में गांवों और छोटे शहरों में पहुंच बढ़ रही है. (ये भी पढ़ें-24 घंटे मिलेगी बिजली! मोदी सरकार का 100 दिन एजेंडा तैयार)





कंपनी ने पोर्टफोलियो में डायवर्सिफिकेशन करने के लिए नए प्रॉडक्ट्स लॉन्च करती रहती है. कंपनी के कार्बोनेटेड फ्रूट ड्रिंक फ्रूट्स अप, फ्रूट ड्रिंक री-हाइड्रेशन साल्ट मनपसंद ओआरएस और बोतलबंद पानी जैसे प्रोडक्ट भी मार्केट में हैं. कंपनी जिन राज्यों में बिजनेस कर रही है, वहां डिस्ट्रीब्यूटर नेटवर्क को मजबूत बनाना और नए राज्यों में फैलाव करना चाहती है.(ये भी पढ़ें-नई नौकरियों को लेकर मोदी सरकार उठाएगी ये कदम!)
कंपनी के शेयर में आ चुकी हैं भारी गिरावट- पिछेल एक साल के दौरान कंपनी के शेयर में भारी गिरावट देखने को मिली है. एक साल के दौरान शेयर 75 फीसदी लुढ़क गया है. हालांकि, पिछले तीन महीने में कुछ रिकवरी आई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज