सरकार का फैसला! पेट दर्द, बुखार में इस्तेमाल होने वाली इन 80 दवाओं को बेचना गैरकानूनी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 80 FDC दवाओं पर रोक लगा दी है. पेट दर्द, उल्टी,बल्ड प्रेशर, जोड़ों के दर्द, बुखार, सर्दी जुकाम,बुखार की दवाइयां इसमें शामिल है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2019, 3:31 PM IST
  • Share this:
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने पेट दर्द, उल्टी, दस्त बल्ड प्रेशर, जोड़ों के दर्द, बुखार, सर्दी जुकाम, बुखार समते 80 जेनरिक FDC दवाओं पर रोक लगा दी है. सीएनबीसी आवाज को सूत्रों से मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक स्वास्थ्य मंत्रालय ने 80 नए जेनरिक FDCs पर रोक लगाई  है. अब इन सभी दवाओं का निर्माण और बिक्री नहीं हो पाएगी. आपको बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की कमेटी ने इन दवाओं को प्रयोग के लिए सुरक्षित नहीं माना है. इन दवाओं का 900 करोड़ रुपये का कारोबार है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय 80 जेनरिक FDC दवाओं को प्रतिबंधित कर दिया है. पेट दर्द, उल्टी,बल्ड प्रेशर, जोड़ों के दर्द, बुखार, सर्दी जुकाम,बुखार की दवाइयां इसमें शामिल है. फिक्सड डोज कॉम्बिनेशन वाली इन दवाओं में अधिकतर एंटीबायोटिक दवाए है. इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय ने 300 से अधिक FDCs को प्रतिबंधित किया था. (ये भी पढ़ें-SBI ग्राहक सावधान! अगर मिला है ये मैसेज तो भूल कर भी नहीं करें ये गलती)

पुरानी सूची की वजह से Alkem, Microlabs, Abbott सिप्ला , ग्लेनमार्क इंटास फार्मा फाइजर वॉकहार्ड और Lupin जैसे कंपनियों के कई ब्रांड प्रतिबंधित हुए थे. पुरानी सूची से 6000 से अधिक ब्रांड बंद हुए थे. (ये भी पढ़ें-आपके पैसों से एक साल में कितना मुनाफा कमाती है LIC? सरकार ने दी जानकारी)



(प्रतीक श्रीवास्तव, वरिष्ठ संवाददाता, CNBC आवाज़)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज