Home /News /business /

6 साल में जनधन खातों की संख्या 40 करोड़ के पार, खातों में जमा हैं 1.30 लाख करोड़

6 साल में जनधन खातों की संख्या 40 करोड़ के पार, खातों में जमा हैं 1.30 लाख करोड़

जनधन खाते में मिलती है ये सुविधा

जनधन खाते में मिलती है ये सुविधा

पीएमजेडीवाई (PMJDY) के तहत खोले जाने वाले जनधन खाते बुनियादी बचत बैंक खाते हैं. इनके साथ रुपे कार्ड (RuPay Debit Card) और खाताधारक को ओवरड्राफ्ट (Overdraft) देने की अतिरिक्त सुविधा दी जाती है. इस खाते में खाताधारक को खाते में हर समय न्यूनतम राशि बनाये रखने की आवश्यकता नहीं होती है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. मोदी सरकार के फाइनेंशियल इनक्लूजन प्रोग्राम प्रधानमंत्री जनधन योजना (Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana- PMJDY) के तहत 40 करोड़ से अधिक बैंक खाते खोले जा चुके हैं. योजना की शुरुआत 6 साल पहले की गई थी. ताजा आंकड़ों के मुताबिक अब तक 40.05 करोड़ लोगों के जनधन खाते (Jan Dhan bank accounts) खोले गये हैं और इन खातों में जमा राशि 1.30 लाख करोड़ रुपए से अधिक हो गई है.

    2014 में शुरू हुई थी योजना
    वित्त मंत्रालय के तहत आने वाले वित्तीय सेवाओं के विभाग (डीएफएस) ने एक ट्वीट में कहा है, दुनिया के सबसे बड़ी वित्तीय समावेशी कार्यक्रम, पीएमजेडीवाई के तहत एक और अहम पड़ाव हासिल कर लिया गया है. इस योजना के तहत खोले गये कुल खातों की संख्या 40 करोड़ के पार निकल गई है. वित्तीय समावेश के इस कार्यक्रम को इसके अंतिम पड़ाव तक पहुंचाने के लिये प्रतिबद्ध. जनधन खातों में यह सफलता योजना की छठी वर्षगांठ से कुछ दिन पहले ही हासिल हुई है. योजना का शुभारंभ 28 अगस्त 2014 को किया गया था. योजना का मकसद देश के तमाम लोगों को बैंकिंग सुविधाओं से जोड़ना है.

    यह भी पढ़ें- पीएम श्रमयोगी मानधन योजना: 44 लाख श्रमिकों को हर महीने मिलेगी 3000 रुपये पेंशन, ऐसे करवाएं रजिस्ट्रेशन

    जनधन खाते में मिलती है ये सुविधा
    >> पीएमजेडीवाई (PMJDY) के तहत खोले जाने वाले जनधन खाते बुनियादी बचत बैंक खाते हैं.
    >> इनके साथ रुपे कार्ड (RuPay Debit Card) और खाताधारक को ओवरड्राफ्ट (Overdraft) देने की अतिरिक्त सुविधा दी जाती है.
    >> इस खाते में खाताधारक को खाते में हर समय न्यूनतम राशि बनाये रखने की आवश्यकता नहीं होती है.
    >> योजना की सफलता के लिये सरकार ने 28 अगस्त 2018 के बाद खोले जाने वाले ऐसे जनधन खातों के साथ दुर्घटना बीमा राशि को बढ़ाकर 2 लाख रुपए कर दिया जो कि पहले 1 लाख रुपये रखी गई थी.
    >> इसके साथ ही खाते में ओवरड्राफ्ट सुविधा की सीमा को भी बढ़ाकर 10,000 रुपए कर दिया गया है.



    जनधान खाताधारकों में 50% से अधिक महिलाएं
    सरकार ने योजना के तहत प्रत्येक घर से बैंक खाता खोलने के बजाय अपना ध्यान अब प्रत्येक वयस्क का बैंक खाता होने की तरफ कर दिया है. जनधान खाताधारकों में 50 प्रतिशत से अधिक महिलाएं हैं और सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत कोविड- 19 संकट (COVID-19 Crisis) में गरीबों को मदद देने के वास्ते तीन समान मासिक किस्तों में 1,500 रुपये उनके खाते में डाले हैं. सरकार ने 26 मार्च 2020 को जनधन खाताधारकों के खाते में अप्रैल से तीन महीने तक हर महीने 500 रुपये की सहायता राशि पहुंचाने की घोषणा की.

    यह भी पढ़ें- किसानों की इनकम दोगुनी करने के लिए इस सरकार ने लिया बड़ा फैसला,15 अगस्त तक मौका

    PMJDY योजना का मकसद सभी की बैंकिंग तंत्र तक पहुंच सुनिश्चित करने के साथ ही समाज के कमजोर और निम्न आयवर्ग के हर वयस्क व्यक्ति का एक बुनियादी बचत बैंक खाता, जरूरत के मुताबिक कर्ज लेने की सुविधा तथा बीमा और पेंशन की सुविधा मुहैया कराना है. जनधन बैंक खातों के जरिये लोगों को मिलने वाले सरकारी लाभों को भी सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में डालने की सुविधा उपलब्ध कराई गई है. यह केन्द्र सरकार की प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डीबीटी) योजना को आगे बढ़ाने का बेहतर जरिया साबित हुआ है.undefined

    Tags: Business news in hindi, Jan dhan, Modi government, Savings accounts

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर