• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • भारत बॉन्‍ड ETF सब्सक्रिप्शन के लिए खुला, FD से बेहतर मिल सकता है रिटर्न

भारत बॉन्‍ड ETF सब्सक्रिप्शन के लिए खुला, FD से बेहतर मिल सकता है रिटर्न

17 जुलाई तक भारत बॉन्ड में कर सकते हैं निवेश

17 जुलाई तक भारत बॉन्ड में कर सकते हैं निवेश

Bharat Bond ETF: भारत बांड ईटीएफ (Bharat Bond ETF) की दूसरी किस्त 14 जुलाई से सब्सक्रिप्सन के लिए खुल गई है. इसके जरिये सरकार की 14,000 करोड़ रुपये तक जुटाने की योजना है. इसके लिए सब्सक्रिप्शन 17 जुलाई को बंद होगा.

  • Share this:
    नई दिल्ली. आज से आपके लिए निवेश का बेहतर मौका खुल गया है. भारत बांड ईटीएफ (Bharat Bond ETF) की दूसरी किस्त 14 जुलाई से सब्सक्रिप्शन के लिए खुल गई है. इसके जरिये सरकार की 14,000 करोड़ रुपये तक जुटाने की योजना है. यह देश का पहला कॉरपोरेट बांड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ETF) है. इसमें न्यूनतम यूनिट 1,000 रुपये की है. इसके लिए सब्सक्रिप्शन 17 जुलाई को बंद होगा. इससे पहले दिसंबर 2019 में भारत बांड ईटीएफ की सीरिज पेश की गई थी. इसके जरिये 12,400 करोड़ रुपये जुटाए गए थे.

    भारत बॉन्ड ईटीएफ बॉन्ड एक्सचेंज ट्रेडड फंड है. यह ईटीएफ सरकारी कंपनियों के 'एएए' रेटिंग वाले बॉन्ड में पैसा लगाता है. इस एनएफओ में निवेश के दो विकल्प हैं. पहला विकल्प 5 साल में मैच्योर होने वाले बॉन्ड का है. इसका मतलब है कि ये बॉन्ड 2025 में मैच्योर होंगे. दूसरा विकल्प 10 साल में मैच्योर होने वाले बॉन्ड का है. ये 2031 में मैच्योर होंगे. इस तरह भारत बॉन्ड ईटीएफ में उन निवेशकों को पैसा लगाना चाहिए जो पांच साल और 10 साल के लिए अपना पैसा निवेश करना चाहते हैं.

    यह भी पढ़ें:- 1 लाख लगाकर कमा सकते हैं 60 लाख रुपए तक मुनाफा, शुरू करें इस पेड़ की खेती

    पैसा कहां किया जाएगा निवेश?
    यह ईटीएफ 5 साल में मैच्योर होने वाले बॉन्ड का पैसा सरकारी कंपनियों के बॉन्ड में लगाएगा. इनमें पीएफसी (PFC), आरईसी (REC), पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन (Power Grid Corporation of India), नेशनल हाउसिंग बैंक (National Housing Bank), आईओसी (IOC), नाबार्ड (National Bank for Agriculture & Rural Development), एचपीसीएल (Hindustan Petroleum Corporation), एनएचपीसी (NHPC), एग्जिम बैंक (Export Import Bank of India), आईआरएफसी (Indian Railway Finance Corporation), एनटीपीसी (NTPC) और न्यूक्लियर पावर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (Nuclear Power Corporation of India) शामिल है.

    वहीं 10 साल में मैच्योर होने वाले बॉन्ड का पैसा पीएफसी (PFC), आरईसी (REC), पावर ग्रिड कॉरपोरेशन (Power Grid Corporation), नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (National Highways Authority of India), न्यूक्लियर पावर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (Nuclear Power Corporation of India), आईआरएफसी (Indian Railway Finance Corporation of India), हाउसिंग एंड अर्बन डेवलमेंट कॉरपोरेशन (Housing & Urban Development Corporatio) और एनएचपीसी (NHPC) इन कंपनियों में लगेगा.

    कितना कर सकते हैं निवेश
    एनएफओ के दौरान न्यूनतम 1000 रुपये से निवेश किया जा सकता है. इसके बाद 1000 रुपये के गुणक में निवेश किया जा सकता है. अधिकतम 2,00,000 रुपये का निवेश करना होगा. संस्थागत निवेशक को कम से कम 2,01,000 रुपये का निवेश करना होगा. फिर इसके गुणक में निवेश किया जा सकता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज