खुशखबरी! लगातार तीसरे दिन सस्ता हुआ पेट्रोल-डीज़ल, फटाफट जानिए आज के रेट्स

पेट्रोल की कीमतों में लगातार तीसरे दिन गिरावट देखने को मिली है. गुरुवार को देश के चार बड़े राज्य में पेट्रोल की कीमत में 7 से 10 पैसे तक की गिरावट दर्ज हुई है.
पेट्रोल की कीमतों में लगातार तीसरे दिन गिरावट देखने को मिली है. गुरुवार को देश के चार बड़े राज्य में पेट्रोल की कीमत में 7 से 10 पैसे तक की गिरावट दर्ज हुई है.

पेट्रोल की कीमतों में लगातार तीसरे दिन गिरावट देखने को मिली है. गुरुवार को देश के चार बड़े राज्य में पेट्रोल की कीमत में 7 से 10 पैसे तक की गिरावट दर्ज हुई है.

  • Share this:
पेट्रोल की कीमतों में लगातार तीसरे दिन गिरावट देखने को मिली है. गुरुवार को देश के चार बड़े राज्य में पेट्रोल की कीमत में 7 से 10 पैसे तक की गिरावट दर्ज हुई है. इंडियन ऑयल (IOC) की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 72.84 रुपये है. वहीं, मुंबई में एक लीटर पेट्रोल के दाम 78.44 रुपये पर आ गए है. आपको बातें दे कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर क्रूड कीमतों में आई गिरावट के चलते घरेलू स्तर पर पेट्रोल के दाम घटे हैं. इसके अलावा दुनियाभर की रिसर्च एजेंसी भी कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट का अनुमान लगा रही है. ये भी पढ़ें-SBI की SMS अलर्ट सर्विस को घर बैठे ऐसे करें शुरू, खाते में पैसे हमेशा रहेंगे सेफ

पेट्रोल-डीज़ल के नए भाव

अगर डीज़ल कीमतों की बात करें तो गुरुवार को एक लीटर डीज़ल के दाम 10 पैसे कम हो गए है. दिल्ली में अब एक लीटर डीज़ल के दाम 66.66 रुपये/लीटर से गिरकर 66.56 रुपये प्रति लीटर पर आ गए है. वहीं, मुंबई में दाम 70 रुपये प्रति लीटर के नीच आ गए हैं. एक लीटर की कीमतें अब 69.74 रुपये है. इसके अलावा कोलाकात में कीमतें 68.32 रुपये प्रति लीटर और चेन्नई में दाम 70.36 रुपये प्रति लीटर है.




क्यों हुआ सस्ता- अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर क्रूड के दाम 70 डॉलर प्रति बैरल के नीचे आए गए है. वहीं, एक हफ्ते के दौरान कीमतें 7 फीसदी तक कम हो गई है. इसीलिए भारतीय बाजार में पेट्रोल-डीज़ल के दाम भी घट गए है. 

एक्सपर्ट्स बताते हैं कि अमेरिका और चीन के बीच जारी ट्रेड वॉर का असर भी कच्चे तेल की कीमतों पर देखने को मिल रहा है. अमेरिका ने गुरुवार को बड़ा फैसला लेते हुए के 200 अरब डॉलर उत्पादों पर इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाने का ऐलान किया. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, अमेरिका ने चीन के सामान पर इंपोर्ट ड्यूटी 10 फीसदी से बढ़ाकर 25 फीसदी कर दी है. यह बढ़ाई गई ड्यूटी 10 मई से लागू होगी. एक्सपर्ट्स का कहना है यह फैसला दुनियाभर की अर्थव्यवस्था के लिए निगेटिव है.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज