लाइव टीवी

Vodafone Idea के बोर्ड ने की बड़ी घोषणा! ग्राहकों को नहीं बल्कि इन लोगों को मिलेगा नए कदम का फायदा

News18Hindi
Updated: March 20, 2019, 2:11 PM IST
Vodafone Idea के बोर्ड ने की बड़ी घोषणा! ग्राहकों को नहीं बल्कि इन लोगों को मिलेगा नए कदम का फायदा
Vodafone Idea के बोर्ड ने की बड़ी घोषणा! ग्राहकों को नहीं बल्कि इन लोगों को होगा इसका फायदा

सब्सक्राइबर्स की संख्या के लिहाज से देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन आइडिया लिमिटेड (VIL) ने बड़ा ऐलान किया है. जानिए इससे जुड़ी सभी बड़ी बातें...

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 20, 2019, 2:11 PM IST
  • Share this:
सब्सक्राइबर्स की संख्या के लिहाज से देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन आइडिया लिमिटेड (VIL) ने बड़ा ऐलान किया है. कंपनी  25000 करोड़ रुपये का राइट्स इश्यू लाने जा रही है. इससे हासिल रकम से उसे देशभर में 4G कवरेज मजबूत में करेगी. आपको बता दें कि पिछले साल  वोडाफोन आइडिया का विलय हो गया.नई कंपनी 40 करोड़ 80 लाख ग्राहकों के साथ देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी बन गई.

अब क्या हुआ-वोडाफोन आइडिया बोर्ड ने 12.50 रुपये के भाव पर ₹25000 Cr के राइट्स इश्यू को मंजूरी दे दी है. राइट्स इश्यू  10 अप्रैल से 24 अप्रैल तक खुलेगा.ये भी पढ़ें-SBI का होली ऑफर! IRCTC से बुक करें ट्रेन टिकट, मिलेगा इतने रुपये का गिफ्ट

क्या होता है राइट्स इश्यू- शेयर बाजार में सूचीबद्ध कंपनी पैसा जुटाने के लिए राइट्स इश्यू लाती है. राइट्स इश्यू के जरिए कंपनी अपने शेयरधारकों को अतिरिक्त शेयर खरीदने का मौका देती है. राइट्स इश्यू के तहत शेयरधारक निश्चित अनुपात में ही अतिरिक्त शेयर खरीद सकते हैं. कंपनी यह अनुपात तय करती है. अगर कंपनी ने राइट्स इश्यू के लिए 1:4 का अनुपात तय किया है तो इसका मतलब है कि शेयरधारक को पहले से उसके पास मौजूद हर 4 शेयर पर 1 अतिरिक्त शेयर खरीदने का मौका होगा. राइट्स इश्यू के लिए समय का ऐलान कंपनी करती है. तय अवधि में ही वह निवेशकों को अतिरिक्त शेयर खरीदने का मौका देती है.







ये भी पढ़ें-खुशखबरी! सरकारी कर्मचारियों को मिला बड़ा तोहफा, बदल गया 20 साल पुराना नियम

 ग्राहक को नहीं निवेशक को होगा फायदा- शेयरधारक के लिए राइट्स इश्यू में शेयर खरीदना जरूरी नहीं है. वह चाहे तो अपने राइट्स का इस्तेमाल कर सकता है. अगर शेयरधारक को कंपनी की ग्रोथ शानदार रहने की उम्मीद है तो वह अतिरिक्त शेयर को सस्ते भाव पर खरीद सकता है. राइट्स इश्यू के ऐलान के बाद अगर कंपनी के शेयर की कीमत गिर जाती है तो शेयरधारक के लिए बाद में स्टॉक एक्सचेंज से शेयर खरीदना फायदेमंद रहेगा.



कंपनियां क्यों लाती है राइट्स इश्यू- कंपनी पूंजी जुटाने के लिए राइट्स इश्यू पेश करती है. कई बार कंपनी कारोबार के विस्तार या किसी दूसरी कंपनी के अधिग्रहण के लिए पैसा जुटाने के वास्ते राइट्स इश्यू लाती है. कुछ कंपनियां कर्ज के बोझ को कम करने के लिए भी राइट्स इश्यू का सहारा लेती हैं. (ये भी पढ़ें-EXCLUSIVE: गांव-गांव तक इंटरनेट पहुंचाने वाली भारत नेट योजना फ्लॉप!)



शेयर पर क्या पड़ता है असर- एक्सपर्ट्स बताते हैं कि राइट्स इश्यू का कंपनी के शेयर बेस पर सीधा असर पड़ता है. राइट्स इश्यू के बाद कंपनी का इक्विटी बेस बढ़ जाता है. इसके चलते स्टॉक एक्सचेंज में कंपनी के शयरों की लिक्विडिटी बढ़ जाती है. महत्वपूर्ण बात यह है कि कंपनी की ओनरशिप में कोई बदलाव नहीं होता है. इसका मतलब यह है कि कंपनी का मालिकाना हक उन्हीं लोगों के पास बना रहता है, जो पहले से मालिक थे.

डिस्काउंट पर मिलता है शेयर राइट्स इश्यू में कंपनी शेयरधारकों को कीमत में डिस्काउंट देती है. इसका मतलब है कि अगर किसी कंपनी के शेयर की कीमत स्टॉक एक्सचेंज में 100 रुपये है और कंपनी राइट्स इश्यू में 10 फीसदी डिस्काउंट देती है तो कंपनी के अतिरिक्त शेयर खरीदने के लिए आपको प्रति शेयर 90 रुपये चुकाने होंगे.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 20, 2019, 2:05 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading