Home /News /business /

LIC पर 75 हजार करोड़ का टैक्‍स बकाया, नहीं चुकाया तो IPO पर क्‍या पड़ेगा असर?

LIC पर 75 हजार करोड़ का टैक्‍स बकाया, नहीं चुकाया तो IPO पर क्‍या पड़ेगा असर?

सरकार मार्च में LIC का आईपीओ बाजार में उतारने की पूरी तैयारी कर चुकी है.

सरकार मार्च में LIC का आईपीओ बाजार में उतारने की पूरी तैयारी कर चुकी है.

इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट का कहना है कि LIC ने 2005 के बाद से अपनी आय का सही खुलासा नहीं किया है, जिस कारण उसके साथ टैक्‍स के विवाद बढ़ते गए और कंपनी पर भारी-भरकम बकाया दिख रहा है. अगर कंपनी को ये बकाया चुकाना पड़ा तो उसकी कमाई पर आगे बड़ा असर पड़ेगा.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. सरकार एक तरफ तो LIC का IPO उतारने की तैयारियां पूरी करने में लगी है, तो दूसरी ओर इस बीमा कंपनी से बड़े टैक्‍स की वसूली पर भी तकरार जारी है. LIC की ओर से जमा कराए ड्राफ्ट पेपर में पता चला है कि कंपनी पर सरकार ने करीब 75 हजार करोड़ की टैक्‍स देनदारी बताई है.

ड्राफ्ट पेपर के मुताबिक, LIC पर डाइरेक्‍ट और इनडाइरेक्‍ट टैक्‍स के 63 बड़े मामले चल रहे हैं. इसमें डाइरेक्‍ट टैक्‍स के ही 37 मामले हैं, जिनसे 72,762.3 करोड़ रुपये की वसूली होनी है. इनडाइरेक्‍ट टैक्‍स के 26 मामलों से 2,132.3 करोड़ रुपये वसूले जाने हैं. इस तरह कंपनी पर कुल 74,894.5 करोड़ रुपये का टैक्‍स बकाया निकल रहा है. यह देश की किसी भी एक कंपनी पर सबसे ज्‍यादा बकाया टैक्‍स है.

ये भी पढ़ें –  IPO से पहले ‘रोडशो’ करके इस बैंक में हिस्‍सेदारी बेचेगी सरकार और LIC, निजी हाथों में जाएगा बैंक

टैक्‍स चुकाने के लिए अपना पैसा नहीं देना चाहती कंपनी
LIC ने अपने ड्राफ्ट पेपर में दो टूक कहा है कि वह टैक्‍स की देनदारियां चुकाने के लिए अपने फंड का इस्‍तेमाल नहीं करेगी. कंपनी का कहना है कि कई मामलों में कोर्ट की ओर से आए डि‍सीजन सही नहीं हैं और वह इनके खिलाफ आगे भी अपील करेगी. इन मामलों में भी 24,728.03 करोड़ रुपये शामिल हैं.

इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट का आरोप-LIC ने छुपाई अपनी कमाई
LIC के खिलाफ चल रहे आयकर मामलों को लेकर इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट का कहना है कि इनमें से अधिकतर मामलों का विवाद इसलिए चल रहा, क्‍योंकि कंपनी अपनी टोटल इनकम छुपाने का काम किया है. विभाग का कहना है कि इनमें से कई मामले तो वर्षों पुराने हैं. कंपनी ने 2005 के बाद कई बार अपनी इनकम का सही खुलासा नहीं किया, जिसकी वजह से विवाद पैदा हुए.

ये भी पढ़ें -Petrol Diesel Prices Today: नोएडा-लखनऊ सहित कई शहरों में बदले पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें आपके शहर में क्‍या है रेट

निवेशकों पर क्‍या होगा असर
अगर LIC इन मामलों में अपना केस हार जाती है और उसे टैक्‍स के रूप में मोटा फंड चुकाना पड़ता है तो कंपनी के पब्लिक शेयरहोल्‍डर्स को मिलने वाले रिटर्न में भी गिरावट आ सकती है. इतना नहीं LIC का मार्केट शेयर भी नीचे आ सकता है, जो भविष्‍य में उसकी कमाई पर असर डालेगा. कंपनी के पास सितंबर, 2021 तक 26,122.95 करोड़ की नकदी थी.

Tags: Income tax, LIC IPO, Life Insurance Corporation of India (LIC)

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर