Home /News /business /

LIC IPO: एलआईसी ने आईपीओ से पहले एसेट क्वालिटी में किया सुधार, कम हुआ NPA

LIC IPO: एलआईसी ने आईपीओ से पहले एसेट क्वालिटी में किया सुधार, कम हुआ NPA

भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) आईपीओ लाने की तैयारी कर रही है.

भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) आईपीओ लाने की तैयारी कर रही है.

सार्वजनिक क्षेत्र की इंश्योरेंस कंपनी एलआईसी (LIC) की नवीनतम वार्षिक रिपोर्ट के मुताबिक 31 मार्च, 2021 तक उसकी नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स यानी एनपीए (NPA) 35,129.89 करोड़ रुपये थीं, जबकि उसका कुल पोर्टफोलियो 4,51,303.30 करोड़ रुपये का था.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. देश की सबसे बड़ी इंश्योरेंस कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) ने अपने इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग यानी आईपीओ (IPO) के पहले एसेट क्वालिटी (Asset Quality) में खासा सुधार किया है. सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी एलआईसी की नवीनतम वार्षिक रिपोर्ट के मुताबिक 31 मार्च, 2021 तक उसकी नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स यानी एनपीए (NPA) 35,129.89 करोड़ रुपये थीं, जबकि उसका कुल पोर्टफोलियो 4,51,303.30 करोड़ रुपये का था.

    एलआईसी ने बताया कि इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया यानी इरडा (IRDA)  के दिशानिर्देशों के अनुरूप के उसने एनपीए के लिए 34,934.97 करोड़ रुपये के वित्तीय प्रावधान भी किए हुए हैं.

    FY21 में ग्रॉस एनपीए का अनुपात 7.78 फीसदी
    एलआईसी का 31 मार्च, 2021 को समाप्त वित्त वर्ष में ग्रॉस एनपीए का अनुपात 7.78 फीसदी है जबकि उसका नेट एनपीए 0.05 फीसदी रहा. एक साल पहले उसके लोन पोर्टफोलियो के प्रतिशत के तौर पर ग्रॉस एनपीए 8.17 फीसदी, जबकि नेट एनपीए 0.79 फीसदी रहा था.

    ये भी पढ़ें- HDFC Bank Vs SBI Vs Axis Bank Vs ICICI Bank: एफडी कराने से पहले चेक कर लें ब्याज दरें, होगा ज्यादा फायदा

    वास्तविक संदर्भ में एलआईसी का साल 2019-20 में एनपीए 36,694.20 करोड़ रुपये था और उसका कुल कर्ज 4,49,364.87 करोड़ रुपये था. इंश्योरेंस कंपनियों के लिए स्ट्रेस थ्रेशोल्ड बैंकों से अलग होती है. एलआईसी अमूमन अपने सभी एनपीए के लिए पूरा प्रावधान करती रही है.

    ये भी पढ़ें- 15 लाख से ज्यादा की कमाई के लिए शुरू करें ये बिजनेस, नौकरी से ज्यादा होगा मुनाफा, सरकार भी करेगी मदद

    एलआईसी एक्ट में किया संशोधन
    एलआईसी अगले कुछ महीनों में अपना आईपीओ लाने की तैयारी में है. कंपनी को बाजार में लिस्टिंग के लिए जरूरी कानूनी संशोधन भी सरकार कर चुकी है. इस संशोधन के मुताबिक, सरकार एलआईसी में 75 फीसदी हिस्सेदारी अगले पांच सालों तक अपने पास रखेगी और उसके बाद उसे घटाकर न्यूनतम 51 फीसदी पर लाएगी.

    Tags: Business news in hindi, IPO, LIC IPO

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर